विज्ञापन
Story ProgressBack

Gwalior News: कूनो से भागा चीता बढ़ा रहा है वन विभाग की टेंशन, जंगल में अलर्ट पर है रेस्क्यू टीम

MP News: कुछ दिनों पहले कूनो नेशनल पार्क से भागा चीता ग्वालियर के जंगलों में बहुत खुश नजर आ रहा है. ऐसा लग रहा है कि इसका यहां मन लग गया है.

Read Time: 3 mins
Gwalior News: कूनो से भागा चीता बढ़ा रहा है वन विभाग की टेंशन, जंगल में अलर्ट पर है रेस्क्यू टीम
चीता वीरा को रास आ गया है ग्वालियर का जंगल

Leopard in Gwalior: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के श्योपुर (Sheopur) जिले के कूनो अभ्यारण (Kuno National Park) के जंगल से बाहर निकल कर मादा चीता वीरा (Veera Leopard) लगातार अपनी टेरिटरी बदल रही है. भीषण गर्मी में उसे मैदानी इलाकों का घास से भरा जंगल बहुत रास आ रहा है. यही वजह है कि मादा चीता वीरा अब ग्वालियर (Gwalior) जिले के मोहना फॉरेस्ट रेंज (Mohana Forest Range) के आसपास लगातार स्वच्छन्द भृमण कर रही हैं. इससे पहले उसे घाटीगांव के जंगलों में देखा गया था. मादा चीता वीरा अपने शिकार की तलाश में लगातार भटक रही है. 

वन विभाग (Forest Department) के अधिकारियों के मुताबिक वीरा अब तक 3 बकरियों का शिकार कर चुकी है. उसे यहां आसानी से अपना शिकार मिल रहा है. जबकि, कूनो अभ्यारण में शिकार करने के लिए उसे खासी मेहनत करनी पड़ रही थी. इसलिए वह कूनो अभ्यारण की तरफ वापस नहीं लौट रही है. ऐसे में उसकी सुरक्षा को देखते हुए वन विभाग का अमला लगातार उस पर निगरानी बनाए हुए हैं. 

चीता को घास आ रहा रास

जिन क्षेत्रों में मादा चीता वीरा का मूवमेंट ज्यादा दिखाई दे रहा है, वहां वन विभाग द्वारा ग्रामीणों को अगाह किया गया है. वन अफसरों के अनुसार, चीता को अधिकतर घास के मैदान पसंद होते हैं. ग्वालियर के आसपास जंगलों में घास अधिक है. इसी वजह से वीरा को यहां विचरण करने में कोई परेशानी नहीं हो रही है और उसे ये एरिया पसंद आ रहा है. 

इन इलाकों में है मूवमेंट

चीता वीरा को बीते दिनों मोहना के नजदीक रेंहट के पास देखा गया हैं. उसके पल-पल के मूवमेंट पर वन विभाग की टीम निगरानी बनाए हुए हैं. यह पहली बार है जब कूनो अभ्यारण से निकलकर कोई चीता ग्वालियर के जंगलों में मूव कर रही है. ग्वालियर का फॉरेस्ट अमला अलर्ट मोड पर है. 24 घंटे वन विभाग की टीम चीता की निगरानी में जुटी हुई है. चीता वीरा को वापस कूनो अभ्यारण में भेजने के तमाम प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन फिलहाल तो उसका नया ठिकाना ग्वालियर का जंगल बना हुए है.

ये भी पढ़ें :- MP Crime: साली के प्यार में हैवान बना जीजा, रोड़ा बन रहे पति को पत्थर पटक-पटक के बेरहमी से उतारा मौत के घाट

शिकार की गई बकरियों के मालिकों को मुआवजा

ग्वालियर के सीसीएफ टी. एस. सुलिया का कहना है कि जिन ग्रामीणों की बकरियों का शिकार वीरा ने किया है, उन किसानों को तत्काल मुआवजा भी दिया गया है. उनका कहना है कि मूवमेंट वाले इलाकों के गांव वालों को दूरी बनाकर रहने को कहा गया है. उधर, मुरैना कलेक्टर अंकित अस्थाना और डीएफओ अंकित पांडे गुरुवार को अपनी सीमा पार कर रेहट के जंगल के आसपास पहुंचे. 

ये भी पढ़ें :- खुशियों की सौगात... सार्थक पहल से बच्चों को मिलेगा शिक्षा का अधिकार, एडमिशन की दिक्कत दूर, इस दिन लगेगा कैंप

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
जबलपुर में गोवंश का सिर मिलने से सनसनी, जांच के दायरे में 4 युवक
Gwalior News: कूनो से भागा चीता बढ़ा रहा है वन विभाग की टेंशन, जंगल में अलर्ट पर है रेस्क्यू टीम
MP News: Despite CM's instructions, Excise Commissioner gave three days' time to Som Group
Next Article
CM के निर्देश के बावजूद आबकारी आयुक्त ने सोम ग्रुप को दिया तीन दिन का समय, बाल श्रम मामले में 4 अधिकारी हो चुके हैं सस्पेंड
Close
;