विज्ञापन
Story ProgressBack

MP News: महिला कर्मचारी ने तहसीलदार पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, 90 दिन में आएगी जांच रिपोर्ट, ये है मामला

Sexual Harassment Case: यह मामला सामने तब आया जब एक सामाजिक महिला कार्यकर्ता (Social Worker) ने एडीएम (SDM) के यहां शिकायत की कि तहसीलदार द्वारा कार्य स्थल (Work Place) पर चतुर्थ श्रेणी (4th Grade) महिला कर्मचारी (Women Worker) का सेक्सुअल हैरेसमेंट किया जा रहा है.

Read Time: 3 mins
MP News: महिला कर्मचारी ने तहसीलदार पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, 90 दिन में आएगी जांच रिपोर्ट, ये है मामला

Madhya Pradesh News: ग्वालियर तहसील में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, जिसमें तहसील में कार्यरत एक महिला कर्मचारियों (Female Employee) ने तहसीलदार पर सेक्सुअल हैरेसमेंट (Sexual Harassment) के गंभीर आरोप लगाए हैं. इस कर्मचारी के अलावा एक अन्य महिला ने भी तहसीलदार को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों से ऐसी ही शिकायत की है. महिला कर्मचारी इतनी भयभीत है कि उसने आला अफसरों से गुहार लगाई कि उसे यहां से हटाकर (Transfer) अन्य किसी जगह पदस्थ (Posted) कर दिया जाए. इस शिकायत के बाद कलेक्ट्रेट (Collectorate) में हड़कंप मचा हुआ है. अब इस मामले की जांच परिवाद समिति (Complaints Committee) को सौंप दी गई है.

Posh इलाके का मामला, SDM से हुई शिकायत

यह मामला जिले की सबसे पॉश सिटी सेंटर (City Center) तहसील से जुड़ा है जिसमे कलेक्ट्रेट से लेकर सभी आला अफ़सरो के बंगले तक आते है. कुछ ही वर्ष पहले इसको अलग तहसील बनाया गया है. वर्तमान में यहां शत्रुघ्न सिंह सिकरवार तहसीलदार के रूप में पदस्थ हैं.

यह मामला सामने तब आया जब एक सामाजिक महिला कार्यकर्ता (Social Worker) ने एडीएम (SDM) के यहां शिकायत की कि तहसीलदार द्वारा कार्य स्थल (Work Place) पर चतुर्थ श्रेणी (4th Grade) महिला कर्मचारी (Women Worker) का सेक्सुअल हैरेसमेंट किया जा रहा है.

इससे परेशान होकर उस महिला कर्मचारी ने एडीएम अंजू अरुण को आवेदन देकर निवेदन किया है कि उसे कहीं भी पदस्थ कर दें लेकिन सिटी सेंटर तहसील से हटा दें. शिकायत करने वाली समाजसेवी महिला ने यह भी लिखा है कि तहसीलदार का मानसिक (Mental) संतुलन ठीक नहीं है. वह महिलाओं से ऐसी बातें करते हैं जो ठीक नहीं है. इसको लेकर वहां पदस्थ अन्य महिला कर्मचारियों से भी पूछताछ की जा सकती है.

सीक्रेट घर का भी हुआ है जिक्र

शिकायत में एक गोपनीय घर (Secret House) का भी जिक्र किया गया है. इसमें लिखा गया है कि तहसीलदार ने किला गेट पर गोपनीय तौर पर एक घर ले रखा है, जिसका वे गलत काम के लिए उपयोग करते हैं. इस बात की जानकारी उनके ड्राइवर को भी है. शिकायतकर्ता के अनुसार वे (तहसीलदार) पहले भी निलंबित हो चुके हैं. SDM अंजू अरुण ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि उन्होंने शिकायत को गंभीरता से लिया है और मामले की जांच परिवाद समिति को सौंप दी गई है. इस मामले में 90 दिन के भीतर जांच करने को कहा गया है. रिपोर्ट आते ही कार्यवाही की जाएगी.

यह भी पढ़ें : 

** ग्वालियर पुलिस के शिकंजे में आया गोवा, मुंबई, दिल्ली में वारदात करने वाला अंतरराज्यीय चोर, ऐसे करता था अपराध

** खजुराहो से क्या निर्विरोध जीतेंगे BJP के VD शर्मा? अब रिटायर्ड IAS व लोकसभा प्रत्याशी ने ECI को लिखा पत्र

** MP News: लापता हेड कॉन्स्टेबल की तलाश में जुटी थी फैमली, HC के ऑर्डर पर पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
किशोरी ने मासूम को दिया जन्म, 8 महीने बाद हुआ दुष्कर्म का खुलासा 
MP News: महिला कर्मचारी ने तहसीलदार पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, 90 दिन में आएगी जांच रिपोर्ट, ये है मामला
MP High Court acquitted the husband in the unnatural sexual abuse case High court made big comment on the allegations of the wife
Next Article
अप्राकृतिक यौन शोषण मामले में MP हाईकोर्ट ने पति को किया बरी, पत्नी के आरोपों पर की यह बड़ी टिप्पणी
Close
;