विज्ञापन
Story ProgressBack

नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने सरकार पर भेदभाव के लगाए आरोप, सरकारी आंकड़ों पर भी उठाए सवाल

Umang Singhar Speech in MP Assembly: मध्य प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने विधानसभा में सरकार को जमकर घेरा. उन्होंने सरकार के कार्यशैली पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार कांग्रेस और बीजेपी के विधायकों के साथ भेदभाव कर रही है.

Read Time: 4 min
नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने सरकार पर भेदभाव के लगाए आरोप, सरकारी आंकड़ों पर भी उठाए सवाल
फोटो - एक्स/@UmangSinghar

Budget Session in Madhya Pradesh Assembly: मध्य प्रदेश विधानसभा (MP Assembly) में बजट सत्र (Budget Session 2024) के दौरान सोमवार को नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार (Umang Singhar) ने सरकार के काम करने के तरीके पर गंभीर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि सरकार कांग्रेस और बीजेपी विधायकों में भेदभाव कर रही है. सभी विधायकों से प्रस्ताव बुलाए गए, जबकि 66 विधायकों से नहीं बुलाए गए. कांग्रेस की सरकार (Congress Government) में मुख्यमंत्री सभी विधायकों से प्रस्ताव पूछते थे. लेकिन, इस सरकार में खुलेआम भेदभाव हो रहा है. इस पर निष्पक्ष बातचीत होनी चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने सरकारी आंकड़ों और कामकाज के तरीकों पर सरकार को जमकर घेरा.

सरकारी आंकड़े नहीं हो रहे अपडेट

उमंग सिंघार ने सरकारी काम पर सवाल उठाते हुए कहा कि चाहे फाइनेंस की वेबसाइट हो या ट्राइबल की, किसी भी वेबसाइट में कुछ अपडेट क्यों नहीं होता. वहां आंकड़े कुछ और होते हैं जबकि सरकार कुछ और बताती है, ऐसा क्यों? क्या आम जनता को आंकड़े जानने का अधिकार नहीं है? उन्होंने कहा कि अभिभाषण में उज्ज्वला योजना की बात हुई. इस योजना के तहत एक महीने पहले 22 लाख लोग थे. फिर एक महीने में 45 लाख लोग हो गए. उमंग सिंघार ने कहा कि बहनों को योजना का लाभ नहीं मिल रहा है. सब जगह ब्रांडिंग हो गई पर कुछ हाथ में नहीं आ रहा है.

एमएसपी और कैग की रिपोर्ट के आधार पर उठाए सवाल

इसके साथ ही सिंघार ने धान के समर्थन मूल्य को लेकर कहा कि धान कट गई, लेकिन किसानों के लिए 3100 रुपए कहां है? किसान हड़ताल करने के लिए हैं. दिल्ली में नाकाबंदी की गई है, जिससे किसान समर्थन मूल्य की बात ना करें. उन्होंने सरकार से सवाल करते हुए कहा, "आप जवाब दें, जो आपने वादा किया था अनुपूरक या भाषण में कहीं उसका ज़िक्र नहीं है. जब अगला चुनाव आएगा तब देंगे क्या?" इसके अलावा सिंघार ने कैग की रिपोर्ट का जिक्र करते हुए भी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा कि CAG की रिपोर्ट में भी आया है कि जल जीवन मिशन में 2200 करोड़ रुपये के घोटाले हुए. चुनाव के पहले ठेके हुए, क्या चुनाव के लिए पैसा इकट्ठा करने के लिए उसमें 40 प्रतिशत कमीशन बाजी हुई? उन्होंने कहा कि गुजरात के ठेकेदार यहां आकर काम करना चाहते हैं. क्या एमपी में ठेकेदार नहीं हैं?

लाड़ली बहना योजना को लेकर सरकार को घेरा

लाडला बहनों को 3000 रुपये प्रतिमाह दिए जाने की मांग करते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि लाड़ली बहनों को 1250 रुपये दिए गए. जबकि पोस्टर तीन हज़ार के थे. यह मोदी की और बीजेपी की गारंटी थी. उन्होंने आयुष्मान योजना पर सवाल उठाते हुए कहा कि आयुष्मान योजना के तहत अस्पताल किस प्रकार से चल रहे हैं? सरकार के हिस्से का काफी ज्यादा पैसा कुछ लोगों की जेब में जा रहा है. ई पोर्टल से कई करोड़ों का अमाउंट कहां जा रहा है? ओबीसी वर्ग के छात्रों को 400 करोड़ रुपये से ज़्यादा की स्कॉलरशिप क्यों नहीं मिली? पदोन्नति के आरक्षण को लेकर क्यों विचार नहीं है? उन्होंने कहा कि कई ऐसी रिपोर्ट्स हैं जो सदन के पटल पर नहीं आ रही हैं.

ये भी पढ़ें - विपक्षी गठबंधन पर बरसे केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र कुमार, कहा-घर बैठकर योग साधना करे हताश विपक्ष

ये भी पढ़ें - MP News: लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को लगा तगड़ा झटका, आधा दर्जन नेताओं ने थामा BJP का दामन

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • 24X7
Choose Your Destination
Close