विज्ञापन
Story ProgressBack

जटायु संरक्षण अभियान : MP में चल रही गिद्ध गणना, जानें आखिर कैसे गिने जाते हैं आसमान में उड़ते पक्षी

गिद्धों की सही गणना करने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को सुबह-सुबह सूर्य उदय के समय जंगलों में जाना पड़ता है और गिद्धों के घोंसले को मॉनिटर किया जाता है. इन घोसलों की मॉनिटरिंग करने के बाद ही पता चलता है कि उस घोंसले में कितने वयस्क और कितने बच्चे हैं.

जटायु संरक्षण अभियान : MP में चल रही गिद्ध गणना, जानें आखिर कैसे गिने जाते हैं आसमान में उड़ते पक्षी
कैसे होती है गिद्ध गणना?

Vulture Count in MP : मध्य प्रदेश में जटायु संरक्षण अभियान के तहत गिद्ध गणना चल रही है. रविवार को रीवा जिले में तीन दिनों तक चली गिद्ध गणना समाप्त हो गई जिसके आंकड़े बेहद सकारात्मक हैं. इससे पहले 2021 में हुई गणना के मुकाबले इस बार रीवा में दोगुने से ज्यादा गिद्ध देखे गए. पिछली गणना में क्षेत्र में 345 गिद्ध नजर आए थे. जबकि इस बार ये आंकड़ा 700 के पार पहुंच गया है. जबलपुर में भी हर वर्ष की तरह इस साल की गिद्ध गणना चालू हो गई है. वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार पहले दिन 81 गिद्ध देखने को मिले. यहां पर 70 वयस्क और 11 अवयस्क गिद्ध मिले हैं.

यह भी पढ़ें : आजादी के बाद पहली बार नक्सलियों के गढ़ पूवर्ती गांव में फहराया गया तिरंगा, हिड़मा की मां से मिले जवान

कान्हा टाइगर रिजर्व में दिखे 169 गिद्ध

मंडला जिले के कान्हा टाइगर रिजर्व में भी चल रहे पक्षी सर्वेक्षण और प्रदेशव्यापी गिद्ध गणना का रविवार को समापन हुआ. कान्हा में हुए इस चार दिवसीय छठवें पक्षी सर्वेक्षण में पिछले बार हुए सर्वेक्षणों के मुकाबले 4 नई प्रजाति के पक्षी देखे गए. वहीं पार्क गिद्ध गणना में पार्क क्षेत्र में गिद्धों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है. तीन दिवसीय गिद्ध गणना में पार्क क्षेत्र में 169 गिद्ध देखे गए हैं.

यह भी पढ़ें : जटायु संरक्षण अभियान: रीवा में नजर आए कई प्रजातियों के 700 से ज्यादा गिद्ध, तीन साल में दोगुनी हुई संख्या

कैसे होती है गिद्ध गणना?

गिद्धों की सही गणना करने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को सुबह-सुबह सूर्य उदय के समय जंगलों में जाना पड़ता है और गिद्धों के घोंसले को मॉनिटर किया जाता है. इन घोसलों की मॉनिटरिंग करने के बाद ही पता चलता है कि उस घोंसले में कितने वयस्क और कितने बच्चे हैं. यह पूरा काम वन विभाग के हर एक बीट गार्ड और उनके कर्मचारियों के द्वारा किया जाता है जिससे हर एक घोंसले को अलग-अलग काउंट किया जाता है. इससे पूरे जंगल का डेटा और गिद्धों की गणना अच्छी तरह से हो जाती है.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बुरे फंसे रणदीप हुड्डा, यहां खरीदी थी जमीन, अब हाईकोर्ट ने दिए जांच के आदेश, जानें क्या है पूरा मामला?
जटायु संरक्षण अभियान : MP में चल रही गिद्ध गणना, जानें आखिर कैसे गिने जाते हैं आसमान में उड़ते पक्षी
BJP MLA Pritam Singh Lodhi offered his resignation and said that people from the same community are targeting me and my supporters case of tying up and beating a Home Guard soldier
Next Article
BJP MLA प्रीतम सिंह ने कर दी इस्तीफा देने की बात, कहा- इस बात से हूं परेशान, देखिए वीडियो
Close
;