विज्ञापन
Story ProgressBack

मैरिट की रेस में जिंदगी से हार गई छात्रा ! 12वीं बोर्ड में कम अंक आने पर लगाई फांसी 

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) शिक्षा मंडल की कक्षा 12वीं की परीक्षा में कम अंक आने से दुखी एक छात्रा ने जानलेवा कदम उठाया लिया. छात्रा को मैरिट में आनें की उम्मीद थी.... लेकिन जब उसे 63 प्रतिशत अंक ही मिले. ये सदमा छात्रा बर्दाश्त नहीं कर पाई.

Read Time: 3 mins
मैरिट की रेस में जिंदगी से हार गई छात्रा ! 12वीं बोर्ड में कम अंक आने पर लगाई फांसी 
मृतक छात्रा

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ शिक्षा मंडल (Chhattisgarh Education Board) की कक्षा 12वीं (12th Board Result) की स्टूडेंट के 63 प्रतिशत अंक आए थे. जबकि उसे मैरिट में आने की उम्मीद की थी. ये सदमा वह बर्दाश्त नहीं कर सकी और फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. वहीं, इस घटना के बाद एक बार फिर चर्चा का दौर शुरू हो गया है कि सोसाइटी बच्चों पर मैरिट में आने को लेकर किस कदर का दबाव बनाया जा रहा है. बच्चों के अंदर भी यह सोच इतना हावी है कि प्रथम श्रेणी में आकर भी ऐसा कदम उठाया जा रहा है.

परिणाम छात्रा की उम्मीद के विपरीत निकला

छात्रा ने जब 12वीं बोर्ड का पेपर दिया तो उसे उम्मीद थी कि मैरिट में उसे जगह मिलेगी. उसे 90 % से ज़्यादा की उम्मीद थी... लेकिन परिणाम उसकी उम्मीद के उल्टा निकला और उसे सिर्फ 63% अंक ही मिले.

बता दें कि छात्रा वसुंधरा बारले  (Vasundhara Barle) विधानसभा थाना क्षेत्र के सकरी गांव की रहने वाली थी. उसके पिता केवलदास बारले की गांव में किराना और कपड़े की दुकान है. जबकि उसके चाचा टीचर हैं. ऐसे में घर में पढ़ाई का बेहतर माहौल रहा है. वसुंधरा भी पढ़ाई में तेज थी. उसके अच्छे अंक आते थे. इस बार भी जब 12वीं बोर्ड का पेपर दी तो उसे उम्मीद थी कि मैरिट में उसे जगह मिलेगी.... यानी 90 परसेट से अधिक की उम्मीद. लेकिन परिणाम उसकी उम्मीद के विपरीत निकला और 63% अंक ही मिले.

कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी

छात्रा रिजल्ट आने के बाद से परेशान थी. वहीं, शनिवार की रात उसने अपने कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी. परजिनों को पता चला तो हड़कंप मच गया. उन्होंने पुलिस को जानकारी दी.

घटना के बाद परिजनों में मचा कोहराम 

इसी बात को लेकर वह रिजल्ट आने के बाद से परेशान थी. वहीं, शनिवार की रात उसने अपने कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी. परजिनों को पता चला तो हड़कंप मच गया. उन्होंने पुलिस को जानकारी दी. विधानसभा पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया. इसके साथ ही परिजनों का बयान दर्ज किया. इसमें यही बात सामने आई कि रिजल्ट उसकी उम्मीदों के अनुरूप नहीं आने से वह परेशान थी. उन्होंने आशंका जताई है कि इसी वजह से उसने आत्महत्या की होगी. बहरहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें- एनडीटीवी की खबर का असर, किर्गिस्तान में फंसे MP के छात्रों को मिला सीएम मोहन का साथ, फोन कर कही ये बड़ी बात

ये भी पढ़ें- Super Exclusive: 'गुजरात के पास कोई सुविधा नहीं फिर भी इंडस्ट्री में आया रेवोल्यूशन', PM ने बताया कैसे हो सकता है 'भारत का विकास'

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
लोकल उत्पादन में आई कमी, ट्रांसपोर्टिंग का खर्चा बढ़ने से सब्जी के दामों में आया उछाल, जानें क्या हैं भाव ? 
मैरिट की रेस में जिंदगी से हार गई छात्रा ! 12वीं बोर्ड में कम अंक आने पर लगाई फांसी 
The symbol of I Love Korea is broken again, the condition of the selfie point is also bad.
Next Article
आई लव कोरिया का फिर टूटा सिंबल, सेल्फी पॉइंट के हालात भी खस्ताहाल
Close
;