विज्ञापन
Story ProgressBack

पानी के लिए 40 किमी दूर पहुंची महिलाएं, कही ऐसी बात कि अफसर का ठनक गया माथा, जानें पूरा मामला 

CG News : पेयजल की समस्या का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इस भीषण गर्मी के मौसम में ये ग्रामीण महिलाएं लगभग 40 किलोमीटर की दूरी तय कर अपने दुधमुंहें बच्चों को लेकर कलेक्टोरेट पहुंची.

Read Time: 3 mins
पानी के लिए 40 किमी दूर पहुंची महिलाएं, कही ऐसी बात कि अफसर का ठनक गया माथा, जानें पूरा मामला 

Chhattisgarh: भीषण गर्मी के इस मौसम मौसम पेयजल की समस्या से हर कोई जूझ रहा है. लेकिन सरगुजा जिला का एक गांव ऐसा भी है जहां पेयजल समस्या के कारण वहां लड़का - लड़की की शादी नहीं हो पा रही है. ऐसे में परेशान हाल ग्रामीण आज सरगुजा कलेक्ट्रेट पहुंचे. यहां उन्होंने सरकार पानी दो की बात कहते हुए अपनी बात बताई. इसे सुनकर अफसर भी हैरान रह गए.  अंबिकापुर के एसडीएम ने उन्हें आश्वासन दिया है कि जल्द से जल्द उनके गांव में पेयजल के लिए हैंडपंप लगवाया जाएगा.

ये है पूरा मामला

दरअसल यह पूरा मामला आदिवासी बाहुल्य जिला सरगुजा के लुण्ड्रा विधानसभा के अंतर्गत आने वाले गांव बांसा का है. जहां के ग्रामीण पिछले कुछ सालों से पेयजल की समस्या से जूझ रहे हैं. ग्रामीणों की मानें तो उनके गांव में 40-50 परिवार रहते हैं. गर्मी के दिनों में वे लोग 1 से 2 किलोमीटर तक की दूरी तय करके वह भी नाले के पानी से काम चलाते हैं. लेकिन इस बार भीषण गर्मी पड़ने के कारण नाले का पानी भी सूखने के कगार पर आ गया है.  ऐसे में पेयजल के लिए काफी समस्या हो रही है. इन समस्याओं को लेकर सरपंच से लेकर अधिकारियों तक से मिले फिर भी आज तक उनके गांव में एक हैंडपंप नहीं लग सका है.

बच्चों की शादी नहीं हो पा रही है 

60 साल की सोमारी बाई का कहना है कि उनके गांव में पेयजल की समस्या इतनी ज्यादा है कि प्रतिदिन 3-4 किलोमीटर दूर स्थित डेम से पानी गांव लाना पड़ता है. डेम दूर होने के कारण अधिकांश लोग नाले के पानी से ही काम चलाते हैं. उन्होंने बताया कि उनके घर में दो लड़कियों की शादी होना है. लेकिन पानी की समस्या के कारण शादी नहीं हो पा रही है. उनका कहना है कि शादी कैसे करें मेहमान आएंगे तो उन्हें पानी कहां से देंगे? यही सोचकर उनके साथ-  साथ अन्य ग्रामीण भी अपने बेटा- बेटियों का शादी नहीं कर पा रहे हैं.

ये भी पढ़ें कथित शराब घोटाला केस में यूपी STF ने कारोबारी अनवर ढेबर को किया गिरफ़्तार, आज मेरठ ले जाने की तैयारी

दुधमुंहें बच्चों को लेकर पहुंची महिलाएं 

पेयजल की समस्या का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इस भीषण गर्मी के मौसम में ये ग्रामीण महिलाएं लगभग 40 किलोमीटर की दूरी तय कर अपने दुधमुँहें बच्चों को लेकर कलेक्टोरेट पहुंची। ये महिलाएं पेड़ की छांव के नीचे बैठी थी  तभी NDTV की टीम की नजर इन ग्रामीण महिलाओं पर पड़ी,  तो उनकी समस्याओं को ना सिर्फ जाना बल्कि एसडीएम अम्बिकापुर से उनको मिलवाया भी हालांकि एसडीएम ने उनके आवेदन पत्र पर तत्काल कार्रवाई करने का आदेश दे दिए हैं. ऐसे में अब देखना है कि उनके गांव में पेयजल की समस्या अब तक दूर होती है.

ये भी पढ़ें सूख गए जलस्त्रोत! बूंद-बूंद पानी को मोहताज हुए दर्जनों परिवार, प्यास बुझाने करनी पड़ रही ऐसी मशक्कत

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Spark Award: राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन में उत्कृष्ट कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ को आज मिलेंगे 5 राष्ट्रीय पुरस्कार
पानी के लिए 40 किमी दूर पहुंची महिलाएं, कही ऐसी बात कि अफसर का ठनक गया माथा, जानें पूरा मामला 
Surajpur SDM broke journalist's mobile, assaulted Congress workers...incident captured in CCTV
Next Article
Chhattisgarh: SDM ने तोड़ा पत्रकार का मोबाइल, कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ की मारपीट...सीसीटीवी में घटना कैद
Close
;