विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 25, 2023

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने अंबिकापुर से सिंहदेव के करीबी राजेश अग्रवाल पर दांव खेल चौंकाया

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2023 के लिए बीजेपी ने अपनी चौथी और अंतिम सूची जारी कर दी है. इसमें बहुप्रतीक्षित अंबिकापुर सीट भी शामिल है. खास ये कि यहां से बीजपी ने एक ऐसे चेहरे पर दांव खेला है जो टीएस सिंहदेव के करीबी रहे हैं.

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने अंबिकापुर से सिंहदेव के करीबी राजेश अग्रवाल पर दांव खेल चौंकाया

Chhattisgarh Assembly Elections-2023 : छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2023 के लिए बीजेपी ने अपनी चौथी और अंतिम सूची जारी कर दी है. इसमें बहुप्रतीक्षित अंबिकापुर (Ambikapur) सीट भी शामिल है. खास ये कि यहां से बीजपी ने एक ऐसे चेहरे पर दांव खेला है जो डेढ़ साल पहले तक न सिर्फ कांग्रेस में सक्रिय था, बल्कि डिप्टी सीएम व अंबिकापुर से कांग्रेस प्रत्याशी टीएस सिंहदेव (TS Singhdev) के बेहद करीबी भी माने जाते रहे हैं. राजेश अग्रवाल (Rajesh Aggarwal)के नाम पर पार्टी ने अपनी मुहर लगाई है.

बीजेपी ने यहां से जो दांव खेला है, उससे न सिर्फ कांग्रेस और राजनीतिक के जानकारों को हैरत में डाला है, बल्कि स्थानीय स्तर के बीजेपी नेता भी अचंभित रह गए हैं. वजह यही है कि राजेश अग्रवाल सिंहदेव के बेहद करीबी रहे हैं और कांग्रेस में भी उनकी सक्रियता बनी हुई थी. करीब डेढ़ साल पहले उन्होंने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी की सदस्यता ग्रहण कर ली थी. अब अचानक उन्हें सिंहदेव के खिलाफ ही चुनाव मैदान में उतार दिया गया है.

कौन हैं राजेश अग्रवाल ?

2009 में लखनपुर नगर पंचायत अध्यक्ष बनने वाले राजेश अग्रवाल के पिता चांदीराम अग्रवाल बीजेपी के पूर्ववर्ती भारतीय जनसंघ के सक्रिय कार्यकर्ता रहे थे. वहीं उनके चाचा कैलाश अग्रवाल कांग्रेसी थे. 2014 में कांग्रेस के समर्थन से वे एक बार नगर पंचायत अध्यक्ष बने. फिर 2017 में उन्होंने कांग्रेस ज्वाइन कर ली. इस दौरान वे टीएस सिंहदेव के करीब‍ियों में से एक माने जाते रहे. हालांकि बाद में उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता से त्यागपत्र देकर बीजेपी ज्वाइन कर ली थी.

बेलतरा में छात्र राजनीति करने वाले सुशांत को मौका

बिलासपुर के बेलतरा से भी बीजेपी ने अपना प्रत्याशी घोषित किया है. जिले में वर्ग संतुलन की कवायद में जुटी बीजेपी ने इस बार क्षत्रिय समाज से आने वाले वर्तमान विधायक रजनीश सिंह (Rajneesh Singh) का टिकट काटा है. इसके साथ ही ब्राह्मण चेहरे के रूप में सुशांत शुक्ला (Sushant Shukla) पर दांव खेला है. सुशांत अब तक छात्र और युवा राजनीति में सक्रिय रहे हैं. गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय में अपना पैनल बनाकर उसे जीताने की कवायद से लेकर पार्टी के कुछ बड़े प्रदर्शनों में वे नजर आते रहे हैं.

बेमेतरा व कसडोल पर भी लंबा इंतजार खत्म

बेमेतरा और कसडोल विधानसभा क्षेत्र से भी बीजेपी ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा की है. कसडोल से जहां धनीराम धीवर को टिकट दिया गया है तो वहीं बेमेतरा से दीपेश साहू को मौका मिला है. यहां पर भी बीजेपी ने लंबी चर्चा और कई दौर की मीटिंग के बाद अपना प्रत्याशी घोषित किया है.

ये भी पढ़ें: MP Election 2023 : कांग्रेस ने विरोध के बाद बदले चार नाम, नए उम्मीदवारों का किया ऐलान

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Amarwara Bypolls: 7 नाम वापस, अब कुल 9 प्रत्याशी मैदान में, बीजेपी-कांग्रेस-गोगपा के बीच टक्कर
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने अंबिकापुर से सिंहदेव के करीबी राजेश अग्रवाल पर दांव खेल चौंकाया
Madhya Pradesh Assembly Election Results 2023 Anuppur Assembly Seat lok sabha constituency all you need to know
Next Article
Anuppur Election Results 2023: अनूपपुर में कैसे बदल गया सियासी समीकरण? इस बार BJP ने मार ली बाजी
Close
;