विज्ञापन
Story ProgressBack

Natural Farming: कौन हैं कृषि सखी ममता सिंह बरगाही, जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी ने किया सम्मानित

PM Modi Honoured Krish Sakhi: शहडोल जिले की ममता सिंह बारगाही को प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में आयोजित कार्यक्रम में कृषि सखी को कृषि क्षेत्र में किए उनके उत्कृष्ट कार्याें के लिए सम्मानित किया.

Read Time: 3 mins
Natural Farming: कौन हैं कृषि सखी ममता सिंह बरगाही, जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी ने किया सम्मानित
कृषि सखी ममता सिंह बारगाही को पुरस्कृत करते हुए प्रधानमंत्री मोदी

Mamta Singh Bargahi: शहडोल की ममता सिंह बारगही का नाम मध्य प्रदेश में आज सबकी जुबान पर है. प्राकृतिक खेती में उत्कृष्ट काम के लिए सम्मानित बारगही को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वाराणसी में आयोजित किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त हस्तांतरण समारोह में सम्मानित किया. 

शहडोल जिले की ममता सिंह बारगाही को प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में आयोजित कार्यक्रम में कृषि सखी को कृषि क्षेत्र में किए उनके उत्कृष्ट कार्याें के लिए सम्मानित किया.

 प्राकृतिक खेती में उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रधानमंत्री ने किया सम्मानित

शहडोल जिले की आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र ग्राम कोलुहा ब्लॉक बुढार निवासी ममता सिंह बरगाही स्व सहायता समूह से जुड़ कर कृषि सीआरपी का प्रशिक्षण प्राप्त कर प्राकृतिक खेती कर रही है. उनके प्राकृतिक खेती को लेकर उत्कृष्ट कार्यों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उन्हें वाराणसी में पुरस्कृत किया गया.

स्व सहायता समूह से जुड़कर ममता सिंह बारगाही ने छुआ आसमान

परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के चलते मध्य प्रदेश ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत संचालित स्व सहायता समूह से जुड़ कर ममता सिंह ने कृषि सखी का प्रशिक्षण लेने के बाद से प्राकृतिक खेती कर रही है. ममता सिंह अपने गांव में 145 महिलाओं को भी प्राकृतिक तरीके से खेती करवा रही है.

पीएम मोदी से सम्मानित ममता सिंह ने बताए कैसे हो है प्राकृतिक खेती

कृषि सखी ममता सिंह बताती है कि प्राकृतिक खेती में देशी बीज को देशी पद्धति से उपचारित करके बोया जाता है, देशी खाद एवं जैविक कीटनाशक दवा घर में ही बनाकर उपयोग करते है, जिससे लागत में खर्चा कम लागत है, साथ ही रसायन के उपयोग से मुक्ति मिलती है.

मध्य प्रदेश ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत संचालित स्व सहायता समूह से जुड़कर ममता सिंह ने कृषि सखी का प्रशिक्षण लिया और अब प्राकृतिक खेती कर रही है. यही नहीं, ममता सिंह अपने गांव में 145 महिलाओं को भी प्राकृतिक तरीके से खेती करवा रही है.

पने क्षेत्र में लोगों को प्राकृतिक खेती का प्रशिक्षण दे रही हैं ममता सिंह

 मार्च में प्राकृतिक खेती विषय पर हैदराबाद की संस्था द्वारा ममता सिंह ने सर्टिफिकेट प्राप्त किया था. वर्तमान में ममता सिंह अपने क्षेत्र में प्राकृतिक खेती करने के लिए प्रशिक्षण दे रही है और अपने घर मे जैविक संसाधन केन्द्र की भी स्थापना की है जिससे सभी को समय पर जैविक कीटनाशक प्राप्त हो सके.

ये भी पढ़ें-PM Modi ने जारी की PM Kisan Nidhi की 17वीं किस्त, बोले-'दलहन-तिलहन में देश को बनाना है आत्मनिर्भर'

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Road Accident: दो सड़क हादसों से दहला मध्य प्रदेश, इतने लोगों ने गंवाई जान और 7 की हालत है गंभीर
Natural Farming: कौन हैं कृषि सखी ममता सिंह बरगाही, जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी ने किया सम्मानित
muharram kab hai kitne tarikh ko Tazia and religion of Islam have no relation  such a tradition does not exist in any Islamic country other than India
Next Article
Muharram 2024: ताजिए का इस्लाम धर्म से नहीं है कोई नाता, इन देशों के अलावा किसी इस्लामी देश में नहीं है ऐसी परम्परा
Close
;