विज्ञापन
Story ProgressBack

कथावाचक और भजन गायक ने फांसी लगाकर दे दी अपनी जान, मरने से पहले पत्नी पर लगाए थे प्रताड़ना के आरोप

Gwalior News: कथावाचक ने सुसाइड के पहले बनाए गए वीडियो में कहा कि मैं एक बात पूछता हूं कि सिर्फ आदमी ही दोषी है हर बार? अगर अंधा कानून नहीं है, थोड़ी सी भी आंख खुली हैं तो मैं एक गुहार लगा रहा हूं कि दोनों को कड़ी सजा दें. कानून में थोड़ा सा बदलाव लाएं, ताकि जिन मर्दों का औरतों ने जीवन नर्क बना रखा है, वे गुहार लगा सकें. दोनों औरतों के कारण मैं आज आत्महत्या कर रहा हूं.

कथावाचक और भजन गायक ने फांसी लगाकर दे दी अपनी जान, मरने से पहले पत्नी पर लगाए थे प्रताड़ना के आरोप

Crime News: ग्वालियर (Gwalior) में कथावाचक (Kathavachak) और भजन गायक (Bhajan Singer) धर्मेंद्र झा ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. खुदकुशी (Suicide) से पहले धर्मेंद्र ने एक वीडियो बनाकर अपने भाई को भेजा था. मृतक धर्मेंद्र झा शहर के जनकगंज थाना (Janakganj Police Station) इलाके में ढोलीबुआ का पुल नामक क्षेत्र के रहने वाले थे. परिजनों के अनुसार सुबह उनकी पत्नी नेहा कमरे में पहुंची तो धर्मेंद्र का शव पंखे के कुंदे से फांसी के फंदे पर लटकता मिला. उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को नीचे उतारकर डेड हाउस भेजा.

वीडियो में क्या कहा था?

फांसी लगाने से पहले कथावाचक ने जो वीडियो बना था उसमें उन्होंने कहा था कि पत्नी ने दोस्त छुड़ा दिए. काम-धंधा छुड़ा दिया. मां जैसी भाभी पर आरोप लगाए. मैंने जितनी प्रताड़ना झेली है, कोई नहीं झेल सकता. इसके बाद उन्होंने फांसी लगाकर जान दे दी. इसकी सूचना मिलते ही उनके समर्थकों में शोक और अक्रोश की लहर फैल गई.

लव मैरिज से हुई दूसरी शादी

पुलिस ने जब मामले की जांच शुरू की तो चौंकाने वाली जानकारी मिली. पता लगा कि सुसाइड से पहले सुबह 6 बजकर 23 मिनट पर धर्मेंद्र ने एक वीडियो बनाकर अपने भाई के मोबाइल पर नम्बर पर भेजा था. इसमे इस खुदकुशी के लिए अपनी पत्नी को जिम्मेदार ठहराया.

कथावाचक ने डेढ़ साल पहले लव मैरिज की थी. ये उनकी दूसरी शादी थी. भाई को भेजे वीडियो में उन्होंने कहा है कि पिता की सेवा नहीं की, मेरे दोस्तों को गालियां दीं. मेरे पिता की उम्र 85 साल है. अस्थमा के पेशेंट पिता की सेवा नहीं की.  फिर भी कभी इसने (दूसरी पत्नी) उनकी सेवा करने की कोशिश नहीं की. मैंने फिर भी कुछ नहीं कहा.

कथावाचक ने आगे कहा कि इसने मेरे आश्रम में फोन लगाकर मुझे काम देने से मना कर दिया. उन्हें पुलिस भेजने की धमकी दी. लेकिन, उन्होंने मेरे व्यवहार को देखते हुए मुझे काम दिया. किसी कलाकार को साथ लेकर जाता तो उससे गाली-गलौज करती. मेरे सभी दोस्तों को गालियां दी इसने, ये औरत कहती है कि सिर्फ मेरे पास रहो. मैं सिर्फ इसके चक्कर में अपना घर छोड़कर किराए के मकान में रह रहा हूं. 1 महीने से खाली बैठा हूं. फिर भी अपना समझकर इसके खर्च में कोई कमी नहीं की. चूंकि, ये प्रेग्नेंट थी.

इसकी हर ख्वाहिश पूरी करने की कोशिश की. इसने फिर भी लड़ना बंद नहीं किया. सदा लड़ती रही. इसके घरवालों को बताया, लेकिन उन्होंने एक्शन नहीं लिया. एक ही बात बोलते रहे कि हमने तो पहले ही शादी करने से मना किया था, वो तो ऐसे ही गुस्से की तेज रहेगी, तुम्हें रखना हो तो रखो. जब मैंने तलाक लेने की कोशिश की तो वकीलों ने बोला कि तुम्ही फंसोगे.

प्यार से नहीं हुआ सुधार

कथावाचक ने कहा कि शादी ये सोचकर कि थी कि प्यार दूंगा तो सुधर जाएगी. इसने मेरे सिर में आज रॉड तक मार दी. रिपोर्ट करने की कोशिश की तो वकीलों ने सलाह दी कि आजकल औरतों की सुनवाई है. तुम्हारी पहली पत्नी ने भी झूठा केस लगाया था तुम पर... उसने मुझ पर रेप का केस लगाया था. अंधे कानून मर्द को कसूरवार ठहराता है. उस समय बरी कर दिया, लेकिन मेरी उस जिंदगी का क्या, जो बर्बाद हो गई. ये औरत भी मेरी मौत की जिम्मेदार है. मेरी पिछली सारी जिंदगी बर्बाद कर दी.

गुहार लगा रहा हूं कि दोनों को कड़ी सजा दें, कानून बरी कर देता है. बरी करने से क्या फायदा? जब मेरी बदनामी हो गई, मेरा सब कुछ छिन गया. दोबारा से रेप्यूटेशन बनाई है मैंने... भारत के कानून ने औरत को इतनी छूट दे दी है कि वो कभी भी किसी मर्द को फंसा सकती है.

मैं एक बात पूछता हूं कि सिर्फ आदमी ही दोषी है हर बार? अगर अंधा कानून नहीं है, थोड़ी सी भी आंख खुली हैं तो मैं एक गुहार लगा रहा हूं कि दोनों को कड़ी सजा दें. कानून में थोड़ा सा बदलाव लाएं, ताकि जिन मर्दों का औरतों ने जीवन नर्क बना रखा है, वे गुहार लगा सकें. दोनों औरतों के कारण मैं आज आत्महत्या कर रहा हूं.

मेरी मौत के बाद चीजों पर घरवालों का होगा अधिकार

भजन गायक ने कहा कि मेरे जाने के बाद मेरी सारी चीजों पर अधिकार सिर्फ मेरे घरवालों का होगा. सभी को राधेश्याम... ठाकुर जी ने जितनी जिंदगी दी, उतनी जीकर जा रहा रहा हूं. मैंने तो बहुत कुछ करने की कोशिश की, लिहाज करने की कोशिश करता था, लेकिन इन्होंने कभी कुछ करने नहीं दिया, जीवन नर्क बना दिया, आज कुछ बचा नहीं.

पुलिस का क्या कहना है? 

टीआई जनकगंज विपेन्द्र सिंह  का कहना है कि पुलिस को जैसे ही सूचना मिली मौके पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची और मृतक के शव को पीएम हाउस पहुंचा दिया गया है मृतक ने सुसाइड से पहले अपने भाई को कुछ वीडियो बनाकर भेजे थे पुलिस उनकी जांच पड़ताल कर रही है.

यह भी पढ़ें : PM JANMAN योजना में प्रधानमंत्री आवास के लिए ली थी रिश्वत, NDTV पर पीड़ितों ने बताई जनमन की बात

यह भी पढ़ें : MPPSC 2024 Topper: वेटरनरी परीक्षा में रीवा की रागिनी मिश्रा बनीं MP Topper, जानिए इनकी सक्सेस स्टोरी

यह भी पढ़ें : PM Awas के लिए गरीब कर रहे हैं 5 साल से इंतजार, ठेका पाने वाली कंपनी की मनमानी, लोगों की बढ़ रही परेशानी

यह भी पढ़ें : Daru Chhodane Ki Dawai: एमपी के मंत्री का अजीब तर्क, कहा- बाहर पीने वाले पतियों से पत्नियां यह कहें

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Budget 2024: कमलनाथ और पटवारी ने बजट पर भाजपा को घेरा, बोले 29 सांसद देने के बावजूद सिर्फ ये मिला
कथावाचक और भजन गायक ने फांसी लगाकर दे दी अपनी जान, मरने से पहले पत्नी पर लगाए थे प्रताड़ना के आरोप
Sports Minister Vishwas Sarang said Madhya Pradesh is moving towards making an international identity in the field of water sports
Next Article
खेल मंत्री विश्वास सारंग बोले-वाटर स्पोर्ट्स में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने की दिशा में है मध्य प्रदेश
Close
;