विज्ञापन
Story ProgressBack

MP News: छोटे से गांव के लड़के ने बना दिया सेना के लिए आटोमेटिक गन सेटअप, इतने किमी तक की है रेंज

Village boy for Army: एक छोटे से गांव के लड़के ने देश की आर्मी के लिए खास उपकरण बना दिया. लकड़ी की मदद से घर पर ही ऑटोमैटिक चलने वाला गन बनाया है..

Read Time: 3 mins
MP News: छोटे से गांव के लड़के ने बना दिया सेना के लिए आटोमेटिक गन सेटअप, इतने किमी तक की है रेंज
गांव के लड़के ने बनाया ऑटोमैटिक गन सेटअप

Automatic Gun for Army: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के खरगोन (Khargone) जिले की सनावद तहसील के ग्राम बांसवा से एक खास और अनोखा मामला सामने आया. यहां गरीबी के बीच रहकर 21 वर्षीय युवा, अमन, पिता दर्शन लाल कालरा ने अपनी प्रतिभा के बल पर विज्ञान के बहुत सारे आविष्कार किए हैं. अमन ने पहले कचरे के समान से एक रोबोट (Robot) बनाया, फिर ब्लाइंड जनों के लिए स्मार्ट चश्मा (Smart Glasses) बनाया था. अब अमन ने भारतीय सेना (Indian Army) के लिए एक ऑटोमेटिक गन सेटअप (Automatic Gun Setup) बनाया है. इसको लेकर पूरे प्रदेश में उसकी वाहवाही हो रही है. 

सेना के लिए है बहुत उपयोगी

एनडीटीवी रिपोर्टर ने अमन कालरा से खास बातचीत की. अमन ने बताया कि मैंने यह सेटअप सेना के जवानों के लिए बनाया है, जो सीमा पर दुश्मन की गोली का शिकार हो जाते हैं. अब उन्हें अपनी मशीनगन या अपनी राइफल को लेकर मोर्चे पर नहीं खड़ा होना होगा. वह इस खास सेटअप पर अपनी गन लगाकर तीन से पांच किलोमीटर दूर अपनी गन को ऑपरेट कर सकते हैं. इससे सेना के जवानों की जान पर जोखिम कम हो जाएगी.

ऐसे तैयार किया खास सेटअप

अमन कालरा ने बताया की इस गन सेटअप मॉडल में मैंने आरडीनो, ब्लुटूथ मॉडल, बैटरी, सर्वो मोटर गेयर, मोटर, सीलिशाट गन मोटर ड्रायवर और लकड़ी का उपयोग कर 18×4 इंच में बनाया है. इसे बनाने में एक महीने का समय लगा और सभी सामान ऑनलाइन मंगवाया था. इसमें मदद विधायक सचिन बिरला और यहां के जनपद सदस्य विनोद जायसवाल के साथ मेरे पापा ने दर्शन लाल कलर ने मदद की है. मेरे पापा 30 किलोमीटर दूर ढाबा पर सेफ है.

ये भी पढ़ें :- MP में सरकारी शिक्षक खोजेंगे अब भिखारी? जनगणना, मिड डे मील और चुनाव के बाद मिली नई ड्यूटी?

15 साल की उम्र में बनाया था रोबोट

अमन जब महज 15 साल का था, तब उसने कचरे के सामान से एक रोबोट बनाया था. बाद में इसी रोबोट को प्रोग्रेस कर और सामग्री के साथ ऑटोमेटिक और सेंसर युक्त बनाया. कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग में डॉक्टर और नर्सों की परेशानी को देखते हुए नर्स रोबोट बनाया, जिसे देखकर तात्कालिक कलेक्टर शिवराज वर्मा ने भी सराहना की थी. आज एक माह की मेहनत के बाद सेना के जवानों के लिए ऑटोमेटिक गन सेटअप बनाया है.

ये भी पढ़ें :- Narmadapuram: ट्रेन में सेहत से खिलवाड़, डस्टबिन से उठाकर जूठा डिस्पोजल का किया जा रहा दोबारा इस्तेमाल

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Crime news: बहन ने बहन पर लगाया जहर देने का आरोप, पुलिस को सौंपा सीसीटीवी फुटेज, ये है वजह
MP News: छोटे से गांव के लड़के ने बना दिया सेना के लिए आटोमेटिक गन सेटअप, इतने किमी तक की है रेंज
MP Chhatarpur cases of maternal and newborn deaths have escalated problems may increase Nursing Home
Next Article
Negligence : प्रेम रूपा नर्सिंग होम की बढ़ी मुश्किलें, प्रसूता और नवजात की मौत मामले में जांच कमेटी गठित
Close
;