विज्ञापन
Story ProgressBack

MP News: विदिशा में अकेले पड़े शिवराज, उनके प्रचार के लिए सीएम मोहन समेत किसी स्टार प्रचारक ने नहीं की एक भी सभा

Vidisha Loksabha Chunav: शिवराज सिंह चौहान को भी अब बड़े नेताओं से ज्यादा उम्मीद नहीं है, इसलिए शिवराज सिंह चौहान ने अपने चुनावी मैदान में अपना पूरा परिवार उतार दिया है. यानी शिवराज सिंह चौहान अब अपने लोगों के भरोसे चुनाव मैदान में हैं. शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह और बेटे कार्तिकेय को विदिशा संसदीय क्षेत्र की जिम्मेदारी मिली हुई है.

Read Time: 3 mins
MP News: विदिशा में अकेले पड़े शिवराज, उनके प्रचार के लिए सीएम मोहन समेत किसी स्टार प्रचारक ने नहीं की एक भी सभा

Vidisha Loksabha Constituency: 7 मई को विदिशा संसदीय क्षेत्र में मतदान भी होना है. यानी रविवार की शाम 5 बजे यहां चुनाव प्रचार का शोर थम जाएगा. इस  सीट पर चुनाव प्रचार की सबसे खास बात ये है कि मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) अपने संसदीय क्षेत्र में अकेले ही मोर्चा संभाले हुए हैं.

प्रदेश की बाकी लोकसभा सीटों पर बड़े नेताओं की सभा और चुनाव प्रचार तो देखने को मिल रहा है, लेकिन शिवराज सिंह चौहान की विदिशा संसदीय सीट केवल शिवराज के भरोसे छोड़ दी गई है. यहां तक कि सीएम मोहन यादव भी उनकी मदद के लिए एक बार भी नहीं आए. वहीं, शिवराज सिंह चौहान को अपनी संसदीय सीट के अलावा दूसरी सीटों का प्रभार भी दे रखा है. ऐसे में चौहान अपनी सीट पर चुनाव प्रचार और जनसंपर्क करने के साथ ही अपनी जिम्मेदारी वाले दूसरे प्रत्याशियों के लिए पसीना बहा रहे हैं.

सीएम यादव समेत सभी बड़े नेताओं ने छोड़ा अकेला

विदिशा संसदीय क्षेत्र के चुनाव प्रचार से मुख्यमंत्री मोहन यादव समेत तमाम बड़े नेता पूरे चुनाव प्रचार में नदारद रहे.  यहां तक कि शिवराज के रोड शो में भी प्रदेश के बड़े नेता नजर नहीं आए. शिवराज सिंह चौहान ने अकेले ही अपनी चुनाव का जिम्मा उठाया हुआ है.

परिवार के भरोसे रिकॉर्ड बनाने में जुटे शिवराज

शिवराज सिंह चौहान को भी अब बड़े नेताओं से ज्यादा उम्मीद नहीं है, इसलिए शिवराज सिंह चौहान ने अपने चुनावी मैदान में अपना पूरा परिवार उतार दिया है. यानी शिवराज सिंह चौहान अब अपने लोगों के भरोसे चुनाव मैदान में हैं. शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह और बेटे कार्तिकेय को विदिशा संसदीय क्षेत्र की जिम्मेदारी मिली हुई है. यानी पार्टी की जगह उनका परिवार शिवराज के लिए सड़कों पर चुनावी मैनेजमेंट में जुटा है.

विधायक की शाख लगी शिवराज चुनाव में

शिवराज सिंह चौहान के सबसे करीबी कहे जाने वाले भाजपा विधायक मुकेश टंडन की साख भी दाव पर लगी है. दरअसल, शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा चुनाव अपने नाम पर जिताया गया था. अब विधायक को भी रिकॉर्ड मतों से शिवराज को चुनाव जिताना उनकी साख का सवाल बन गया है.

ये भी पढ़ें- Loksabha Election : सिंधिया और शिवराज के बेटों ने प्रचार में लगाया जोर, लोगों के बीच दिखे इस अंदाज में

नए भाजपाई शिवराज को जिताने के लिए कर रहे हैं मेहनत

कांग्रेस से दल बदल कर भाजपा में शामिल हुए पूर्व विधायक शशांक भार्गव अब शिवराज को रिकॉर्ड मतों से जिताने के लिए घर-घर जाकर अधिक से अधिक मत देने की अपील कर रहे हैं. वहीं, कार्यकर्ताओं ने इस बार दस लाख पार का नारा देकर शिवराज के लिए जीत की कवायद करने में जुटी है. 

ये भी पढ़ें- CG NEWS: भ्रष्टाचार के आरोप में घिरी भाजपा सरकार, BJP के इस दिग्गज मंत्री पर लगा सरकारी जमीन हड़पने का आरोप

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
MP News: स्कूल-कॉलेजों में राम और कृष्ण को पढ़ाए जाने पर गरमाई सियासत, दिग्विजय सिंह ने कर दी ये बड़ी मांग
MP News: विदिशा में अकेले पड़े शिवराज, उनके प्रचार के लिए सीएम मोहन समेत किसी स्टार प्रचारक ने नहीं की एक भी सभा
Big action by NCPCR team in Raisen district of Madhya Pradesh, 36 child laborers freed
Next Article
MP News: मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में NCPCR की टीम की बड़ी कार्रवाई, 36 बाल श्रमिकों को कराया मुक्त
Close
;