विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 24, 2023

Gwalior News: खंभे पर काम करते हुए करंट की चपेट में आया लाइनमैन, झटका लगने से झूला नीचे 

बिजली कंपनी के आउटसोर्सिंग कर्मचारियों का दबी जुबान कहना है कि उन्हें ठेकेदार की तरफ से सेफ्टी का कोई सामान नहीं दिया जाता. वे लोग जान हथेली पर रखकर काम करते हैं. यहां हर एक दो माह में कोई न कोई लाइनमैन इस तरह की घटना का सामना करना पड़ता है. मालूम हो कि बीते साल भी टोपी बाजार में ऐसे ही काम करते हुए दो आउटसोर्स कर्मचारी सैकड़ो लोगों की मौजूदगी में जलकर मर गए थे.

Read Time: 3 mins
Gwalior News: खंभे पर काम करते हुए करंट की चपेट में आया लाइनमैन, झटका लगने से झूला नीचे 
खंभे पर काम करते हुए करंट की चपेट में आया लाइनमैन, झटका लगने से झूला नीचे

Madhya Pradesh News: ग्वालियर में एक बार फिर बिजली कंपनी की लापरवाही का मामला सामने आया है. शुक्रवार को  बिजली कंपनी का आउटसोर्स कर्मचारी मौत के मुंह से बाल-बाल बचा है. एक बिजली खंभे पर लाइन का मेंटेनेंस करते समय अचानक कर्मचारी को करंट लग गया. खंभे पर काम चल ही रहा था कि रिवर्स करंट छोड़ दिया गया. इस बिजली की चपेट में आने के बाद  झटके से कर्मचारी रामप्रवेश तारों पर झूल गया. फिर सीढ़ियों से झूलता हुआ नीचे आ गया घटना उप नगर ग्वालियर के लधेड़ी झोंन की है. बड़ी मशक्कत के बाद स्थानीय लोगों ने उसकी जान बचाई. उसे गंभीर रूप से घायल होने के बाद सिविल हॉस्पीटल में भर्ती कराया गया है. उसके तारों पर झूलते हुए वीडियो भी सामने आया है. 

खंभे पर काम करने के दौरान लगा करंट 

इस मामले में बिजली कंपनी के सहायक यंत्री बृजेश कुमार बबेले का कहना है कि घायल युवक आउटसोर्स कर्मचारी है. करंट के रिवर्स मारने से यह घटना हुई. करंट लगने से वह झूल गया और सीढ़ी से नीचे गिर गया. बबेले ने स्वीकार किया कि घायल कर्मचारी ने चालू लाइन पर चढ़ते समय न तो हाथ मे सेफ्टी के लिए हैंड ग्लब्स (Safety Gloves) पहन रखे थे और न ही हेलमेट लगाया था. उन्होंने झूले का भी इस्तेमाल नहीं किया था. इंजीनियर का कहना है कि सभी लाइनमेन में सेफ्टी किट दी गई है लेकिन उन्होंने इसका उपयोग नहीं किया था. 

ये भी पढ़ें MP News : फर्जी फूड इंस्पेक्टर बनकर की पांचवी शादी, अब पत्नी ने दर्ज कराया रेप का मामला

पहले भी हो चुकी है दो कर्मियों की मौत

उधर, बिजली कंपनी के आउटसोर्सिंग कर्मचारियों का दबी जुबान कहना है कि उन्हें ठेकेदार की तरफ से सेफ्टी का कोई सामान नहीं दिया जाता. वे लोग जान हथेली पर रखकर काम करते हैं. यहां हर एक दो माह में कोई न कोई लाइनमैन इस तरह की घटना का सामना करना पड़ता है. मालूम हो कि बीते साल भी टोपी बाजार में ऐसे ही काम करते हुए दो आउटसोर्स कर्मचारी सैकड़ो लोगों की मौजूदगी में जलकर मर गए थे. इसके बाद भी कोई पुख़्ता कदम नहीं उठाए गए थे.  

यह भी पढ़ें : Ground Report : करोड़ों में ली रेत खदान, अब माफियाओं के डर से सुरक्षा की गुहार लगे रहे ठेकेदार
 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Ujjain News: महाकाल की नगरी में बिना बारिश के आ गई बाढ़! क्षिप्रा नदी में डूब गए कई वाहन
Gwalior News: खंभे पर काम करते हुए करंट की चपेट में आया लाइनमैन, झटका लगने से झूला नीचे 
Coal Scam Two accused including suspended IAS Ranu Sahu get bail from SC
Next Article
Coal Scam:निलंबित IAS रानू साहू समेत दो हाई प्रोफाइल आरोपियों को SC से मिली जमानत
Close
;