विज्ञापन
Story ProgressBack

अब सूखा नहीं सुखी बुंदेलखंड़... CM मोहन यादव का प्रयास, MP के टीकमगढ़ को मिलेगा UP के बांध से पानी

CM Yogi Adityanath News: मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री (CM Yogi Adityanath) को पत्र में लिखा था कि टीकमगढ़ नगर में जलापूर्ति जामनी नदी से की जाती है. गरमी के दिनों में जामनी नदी में पानी का प्रवाह कम हो जाने से तथा जामनी नदी के अप स्ट्रीम में उत्तरप्रदेश में जामनी बांध और भौराट बांध के निर्माण के कारण टीकमगढ़ शहर में पेयजल संकट की स्थिति उत्पन्न हो रही है.

Read Time: 3 mins
अब सूखा नहीं सुखी बुंदेलखंड़... CM मोहन यादव का प्रयास, MP के टीकमगढ़ को मिलेगा UP के बांध से पानी

Madhya Pradesh Government News: मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री (Chief Minister of Madhya Pradesh) डॉ मोहन यादव (CM Dr Mohan Yadav) के प्रयास से टीकमगढ़ शहर की पेयजल व्यवस्था के समाधान के लिए उत्तरप्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) ललितपुर के जमरार बांध (Dam) से 1.00 एमसीएम (MCM) पानी छोड़ने पर सहमति हो गई है. मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने टीकमगढ़ में सुचारू पेयजल प्रदाय सुनिश्चित करने के प्रशासन को निर्देश दिए थे. इसी बारे में उन्होंने अपनी ओर से उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री (Chief Minister of Uttar Pradesh) सीएम योगी (CM Yogi) को पत्र लिखकर जानकारी दी थी. सीएम डॉ यादव ने टीकमगढ़ में पेयजल समस्या उत्पन्न होने की जानकारी मिलते ही त्वरित कदम उठाए और उत्तर प्रदेश सरकार से संपर्क किया.

CM मोहन यादव ने CM योगी आदित्यनाथ को चिट्‌ठी में क्या लिखा था?

मुख्यमंत्री डॉ यादव ने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री (CM Yogi Adityanath) को पत्र में लिखा था कि "टीकमगढ़ नगर में जलापूर्ति जामनी नदी से की जाती है. गरमी के दिनों में जामनी नदी में पानी का प्रवाह कम हो जाने से तथा जामनी नदी के अप स्ट्रीम में उत्तरप्रदेश में जामनी बांध और भौराट बांध के निर्माण के कारण टीकमगढ़ शहर में पेयजल संकट की स्थिति उत्पन्न हो रही है. टीकमगढ़ शहर के पेयजल संकट का जमरार बांध से 1.00 एमसीएम पानी दिए जाने की स्थिति में इसका समाधान संभव है. अनुरोध है कि टीकमगढ़ शहर के पेयजल के लिए उत्तरप्रदेश में ललितपुर जिले में स्थित जमरार बाँध से 1.00 एमसीएम जल उपलब्ध कराने के निर्देश जारी कर टीकमगढ़ शहर एवं प्रदेश की जनता को अनुग्रहित करें".

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव के पत्र पर संज्ञान लिया और इस तरह टीकमगढ़ के लगभग दो लाख निवासियों को अब पेयजल समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा.

मुख्यमंत्री डॉ यादव को भेज गए जवाब में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि व्यापक जनहित को देखते हुए टीकमगढ़ के निवासियों के लिए इस माह जमरार बांध से 0.72 एमसीएम जल उपलब्ध करवाया जाएगा. उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि जामनी बाँध वर्ष 1973 में निर्मित हुआ था और भौरट बाँध वर्तमान में निर्माणाधीन है. इन बाँधों के कारण जामनी नदी के माध्यम से जाने वाला पानी अवरूद्ध नहीं हुआ है. टीकमगढ़ के बरीघाट स्टापडेम की जल भंडारण क्षमता पेयजल आपूर्ति के मान से कम है, इसलिए उत्तरप्रदेश सरकार ने जमरार बाँध से टीकमगढ़ के नागरिकों के लिए पेयजल व्यवस्था का निर्णय लिया है.

यह भी पढ़ें : Election Results 2024: मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ में नए CM मोहन-विष्णु पहली परीक्षा में पास, देखिए रिपोर्ट कार्ड

यह भी पढ़ें : MP Tourism: पीएम श्री पर्यटन वायु सेवा शुरु, 8 स्थानों से मिलेगी फ्लाइट, CM ने क्या कहा जानिए

यह भी पढ़ें : विष्णु देव साय सरकार के 6 महीने पूरे, किसानों, महिलाओं और युवाओं के लिए हुए ये काम, देखिए रिपोर्ट कार्ड

यह भी पढ़ें : NEET के बाद अब UCG NET Exam पर सवाल, NTA से एडमिट कार्ड न मिलने पर परीक्षार्थी परेशान

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
BJP MLA प्रीतम सिंह ने कर दी इस्तीफा देने की बात, कहा- इस बात से हूं परेशान, देखिए वीडियो
अब सूखा नहीं सुखी बुंदेलखंड़... CM मोहन यादव का प्रयास, MP के टीकमगढ़ को मिलेगा UP के बांध से पानी
bhind it was the supervisor who was getting mass copying done! Exam center canceled after CCTV footage surfaced
Next Article
MP News: भिंड में सामूहिक नकल के मामले में परीक्षा केंद्र निरस्त लेकिन 12 शिक्षकों पर कार्रवाई कब?
Close
;