विज्ञापन
Story ProgressBack

ब्याज माफी योजना में घोटाला, समिति प्रबंधकों को बचाने के लिए अधिकारी दर्ज नहीं करा रहे FIR, क्या है मामला?

Madhya Pradesh Cooperative Bank: सेवा सहकारी समिति सलैया में हुए डेढ़ करोड़ रुपए के घोटाले की शिकायतों के बाद भी जिलास्तर पर अधिकारियों ने कोई जांच नहीं कराई. इसके बाद पीड़ित किसानों ने छतरपुर विधायक ललिता यादव से इस घोटाले की जांच कराने की मांग की. किसानों की मांग को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने इस घोटाला के संबंध में विधानसभा प्रश्न उठाया. मामला विधानसभा में उठने के बाद सहकारी विभाग हरकत में आया. घोटाले की पूरी जानकारी जिला सहकारी बैंक छतरपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से मांगी गई है.

ब्याज माफी योजना में घोटाला, समिति प्रबंधकों को बचाने के लिए अधिकारी दर्ज नहीं करा रहे FIR, क्या है मामला?

MP Krishak Byaj Mafi Yojana: मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में मुख्यमंत्री कृषक ब्याज माफी योजना (Mukhyamantri Krishak Byaj Mafi Yojana) में सहकारी समितियों (Cooperative Societies) के प्रबंधक और जिला सहकारी बैंक (Cooperative Bank) के अधिकारियों ने मिलकर घोटाले (Mukhyamantri Krishak Byaj Mafi Yojana Scam) किए हैं. अब यह घोटाले (Scam) सामने भी आ रहे हैं, लेकिन घोटाला करने वाले अधिकारी समिति प्रबंधकों को बचाया जा रहा है, साथ ही जिला सहकारी बैंक के महाप्रबंधक और मुख्य लेखा अधिकारी के खिलाफ भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. जबकि इन घोटालों के असली लाभार्थी होने का आरोपी इन्हीं पर है. वहीं दूसरी ओर सहकारी बैंक के शाखा प्रबंधक और शाखा के अन्य कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है.

ये रहा हालिया मामला

ताजा मामला ईशानगर क्षेत्र की 4 सहकारी समितियों में हुए ऋणमाफी योजना के घोटाला है. बैंक की ओर से कराई गई जांच में सहकारी समिति सलैया, सहकारी समिति ईशानगर, सहकारी समिति गहरवार और सहकारी समिति रणमत सिंह में राशि का गबन किया गया है. शुरुआती जांच में 1.50 करोड़ रुपए का गबन पाया गया है. बैंक के दो शाखा प्रबंधक रामदास साहू और हरिशंकर तिवारी ने मामले की जांच की है. चारों समितियों में घोटाला सामने आया है.

किसानों के लिए स्वीकृत की गई राशि को सहकारी समिति के प्रबंधक और सहायक प्रबंधकों ने अपने निजी बैंक खातों में जमा कराया है. शुरुआती जांच में 1.5 करोड़ रुपए की गड़बड़ी पाई गई है. जांच के बाद इस मामले में जिला सहकारी बैंक प्रबंधन ने बैठक आयोजित करके ईशानगर शाखा प्रबंधक विवेक भारती, बैंकिंग सहायक सुनील कुमार शुक्ला और कंप्यूटर ऑपरेटर पारस जैन को निलंबित कर दिया है. निलंबन काल के लिए विवेक भारती को छतरपुर में महाराजा छत्रसाल शाखा में अटैच किया है. इसी प्रकार सुनील कुमार शुक्ला को लवकुशनगर और पारस जैन को नौगांव में शाखा में अटैच किया गया है.

घोटाला करने वालों पर नहीं हो रही कार्रवाई

बिजावर क्षेत्र में हुए घोटाला में सहकारिता निरीक्षक श्याम क्षत्रिय को भी लिप्त पाया गया है. जांच अधिकारी तहसीलदार ने बैंक के तत्कालीन महाप्रबंधक, मुख्य लेखा अधिकारी को भी घोटाले में शामिल पाया है. इन अधिकारियों की मिलीभगत के बगैर घोटाला संभव नहीं है, लेकिन इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. यही अधिकारी घोटाला करने वाले सहकारी समिति प्रबंधकों को भी बचा रहे हैं. सहकारी समिति ईशानगर, सलैया, रनगुवां और गहरवार में मुख्यमंत्री कृषक ब्याज ऋणमाफी योजना में घोटाला किया गया है. किसानों के भुगतान के लिए स्वीकृत की गई राशि को किसानों के ऋण खातों में जमा नहीं कराया गया है. बल्कि यह राशि निजी बचत खातों में जमा करके निकाल ली गई है. 

गबन के बाद बिजावर में भी नहीं कराई एफआईआर

जिला सहकारी बैंक की बिजावर शाखा के तहत सहकारी समिति मऊखेरा और सहकारी समिति गुलगंज में भी ब्याज ऋण माफी योजना में घोटाला पकड़ा गया है। समिति प्रबंधकों ने किसानों के नाम पर मंजूर की गई राशि को अपने निजी खातों में जमा करा लिया था। समिति प्रबंधकों से 8 करोड़ 55 लाख रुपए की राशि वसूल कर ली गई है, लेकिन गबन करने करने वालों के खिलाफ न तो एफआईआर दर्ज कराई गई है।

समितियों को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा

जिला सहकारी बैंक छतरपुर के अध्यक्ष करुणेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि सहकारी समिति प्रबंधकों पर कार्रवाई का सीधा अधिकार बैंक के पास नहीं है. इस कारण हमने उप पंजीयक सहकारी समितियों को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है. इस मामले शुरुआती जांच के साथ विस्तृत जांच भी कराई जाएगी. इसके बाद एफआईआर भी कराई जाएगी. 

प्रभारी उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं छतरपुर अरुण कुमार का कहना है कि ब्याज ऋणमाफी योजना में गड़बड़ी करने वाले समिति प्रबंधकों के खिलाफ कार्रवाई के लिए कोई प्रस्ताव अभी तक मेरे पास अभी नहीं पहुंचा है. जिला सहकारी बैंक की और से जांच के बाद कोई सिफारिश की जाएगी तो दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

यह है मामला

छतरपुर जिला सहकारी केंद्रीय बैंक छतरपुर की ईशानगर शाखा के तहत सेवा सहकारी समिति सलैया के सहायक प्रबंधक द्वारा डेढ़ करोड़ रुपए का घोटाला सामने आया है. मध्य प्रदेश सरकार की कृषक ब्याज माफी योजना 2023 में किसानों के ब्याज माफ किया गया था. ब्याज की राशि का भुगतान सरकार की ओर से किसानों के ऋण खातों में किया जाना है, लेकिन सलैया समिति में ब्याज माफी के डेढ़ करोड़ रुपए सहायक समिति प्रबंधक के निजी खाते में कर दिए गए हैं. यह राशि 10 ट्रांजेक्शन के माध्यम से निजी खाते में हस्तांतरित की गई. इस कारण सलैया समिति के किसानों को ब्याज माफी योजना का लाभ नहीं मिल सका. अब शिकायत के बावजूद सहकारी बैंक के अधिकारियों की मिलीभगत से कार्रवाई भी नहीं हो रही है.
 

जिला सहकारी बैंक की ईशानगर शाखा अंतर्गत आने वाली सेवा सहकारी समिति सलैया के पूर्व प्रबंधक शिवपूजन शुक्ला और सहायक समिति प्रबंधक उत्तम तिवारी पर गड़बड़ी करने के आरोप हैं. किसानों ने लिखित शिकायत की है. लेकिन राजनीतिक पैठ और विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत के कारण अभी तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

पीड़ित किसानों ने घोटालेबाजों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

जांच दल को नहीं मिला सहायक समिति प्रबंधक

सेवा सहकारी समिति सलैया में हुए डेढ़ करोड़ रुपए के घोटाले की शिकायतों के बाद भी जिलास्तर पर अधिकारियों ने कोई जांच नहीं कराई. इसके बाद पीड़ित किसानों ने छतरपुर विधायक ललिता यादव से इस घोटाले की जांच कराने की मांग की. किसानों की मांग को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने इस घोटाला के संबंध में विधानसभा प्रश्न उठाया. मामला विधानसभा में उठने के बाद सहकारी विभाग हरकत में आया. घोटाले की पूरी जानकारी जिला सहकारी बैंक छतरपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से मांगी गई है. मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने घोटाले की जांच करने के लिए तीन सदस्यों का एक दल बनाया है. जांच दल शनिवार को जांच करने के लिए सलैया गया लेकिन सहायक समिति प्रबंधक उत्तम तिवारी जांच दल को नहीं मिला. इसके बाद जांच दल ने पंचनामा बनाकर मुख्य कार्य पालन अधिकारी को दिया है.

यह भी पढ़ें : पंचायत की सबसे बड़ी कार्रवाई, 16 नवनिर्मित दुकानों पर चला प्रशासन का बुलडोजर, जानिए क्या है मामला?

यह भी पढ़ें : 35 चीता ट्रैकर्स ने छोड़ा काम, मांस कटवाने पर हड़ताल, कूनो में क्यों मच गया बवाल? देखिए NDTV पड़ताल

यह भी पढ़ें : International Yoga Day 2024: योग दिवस पर PM मोदी के बताए योग मुद्रा के लाभ जानिए यहां

यह भी पढ़ें : Ujjain Rape Case: काम की तलाश में आयी आदिवासी महिला से गैंगरेप, 1.5 किलोमीटर तक अर्धनग्न हालत में भागी

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Shiv Temple: भोलेनाथ का ऐसा मंदिर जिसे अंग्रेजों ने बनवाया, यहां भक्त की भी होती है पूजा, जानें मंदिर के बारे में
ब्याज माफी योजना में घोटाला, समिति प्रबंधकों को बचाने के लिए अधिकारी दर्ज नहीं करा रहे FIR, क्या है मामला?
Weather Department on Rain in Madhya Pradesh and bhopal weather Monsoon in state from this date
Next Article
MP Weather Update: सावधान! प्रदेश की कई नदियां उफान पर... मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
Close
;