विज्ञापन
Story ProgressBack

"CMO की कमीशनखोरी नहीं चलेगी... नहीं चलेगी", विदिशा में ठेकेदारों का प्रदर्शन

MP News Today in Hindi: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के विदिशा (Vidisha) ज़िले में निर्माण कार्यों का काम करने वाले ठेकेदारों का विरोध प्रदर्शन देखने को मिला. दरअसल, ठेकेदारों का आरोप है कि लंबे समय से भुगतान न होने के चलते उन्होंने ये कदम उठाया और सड़क पर उतरकर अपना विरोध प्रदर्शन किया है.

"CMO की कमीशनखोरी नहीं चलेगी... नहीं चलेगी", विदिशा में ठेकेदारों का प्रदर्शन
MP News Today in Hindi

MP News Today: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के विदिशा (Vidisha) ज़िले में निर्माण कार्यों का काम करने वाले ठेकेदारों का विरोध प्रदर्शन देखने को मिला. दरअसल, ठेकेदारों का आरोप है कि लंबे समय से भुगतान न होने के चलते उन्होंने ये कदम उठाया और सड़क पर उतरकर अपना विरोध प्रदर्शन किया है. मिली जानकारी के मुताबिक, ठेकेदारों ने अपने हाथों में CMO (Chief Municipal Officer) के खिलाफ तखक्तियां लेकर रैली निकाली और शहर के बड़े रास्तों से होते हुए गुज़रे. इस दौरान ठेकेदारों ने बताया कि करीब 8 महीनों से उनका भुगतान नहीं हुआ है. जो कि करीब 6 से 7 करोड़ रुपये बकाया है. ठेकेदारों का कहना है कि इस मामले को लेकर जब भी CMO से बातचीत की जाती है तो वो सीधे मुंह बात नहीं करते.

भुगतान ने मिलने से नाराज़ ठेकदारों का फूटा गुस्सा 

इससे पहले भी जब ठेकेदारों ने मामले में CMO से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने पैसा न होने की बात कहते हुए मामले को टाल दिया. ठेकेदारों ने मामले में खुलासा करते हुए बताया कि हमने पैसे न होने की बात कही जाती है और उधर, स्टोर डिपार्टमेंट से चार से पांच करोड़ का भुगतान बिना किसी बिल-वाउचर के हो जाता है. उन्होंने ये भी आरोप लगाए कि CMO ने टेंट, स्वागत, माला, मिठाई के भुगतान किए हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि इससे उन्हें 80 फीसद का कमीशन मिलता है.

यह भी पढ़ें - MP IPS Transfer: चुनाव से पहले बड़ी संख्या में हुए तबादले, IAS के बाद अब 47 आईपीएस अफसरों का भी हुआ ट्रांसफर

भड़के ठेकेदारों ने मामले को लेकर लगाए आरोप 

यही वजह है कि जो ठेकेदार कंस्ट्रक्शन में लगे हैं उन्हें समय पर भुगतान नहीं किया जा रहा. साथ ही ये भी आरोप लगाए गए कि जिस CMO को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बेगमगंज में भ्रष्टाचार और लापरवाही बरोतने के चलते सस्पेंड किया था.... उसी CMO जो C कैटेगरी की नगर पालिका का अनुभव रखते हैं उन्हें A कैटेगरी की नगरपालिका विदिशा में ट्रांसफर क्यों किया गया है? ठेकेदारों ने बताया कि मामले को लेकर नगर पालिका अध्यक्ष से भी शिकायत की गई लेकिन 6 महीने से सिर्फ आश्वासन ही दिया जा रहा है. 

यह भी पढ़ें - गजब है! जीवाजी यूनिवर्सिटी में PhD बनी मजाक, संस्कृत गाइड से कराते रहे ज्योतिष की रिसर्च, टेंशन में स्टूडेंट

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Gwalior: बालिका गृह में फिल्मी स्टाइल में घुसे नकाबपोश, किशोरी को नींद से जगाया और अगवा कर ले गए, CCTV में कैद हुई घटना
"CMO की कमीशनखोरी नहीं चलेगी... नहीं चलेगी", विदिशा में ठेकेदारों का प्रदर्शन
Bhojshala dispute: ASI presented 2000 page report in High Court Indore, next hearing will be on July 22
Next Article
भोजशाला विवादः ASI ने हाई कोर्ट में पेश की 2000 पन्नों की रिपोर्ट, जानें- कितनी मूर्तियां मिलने का है दावा
Close
;