विज्ञापन
Story ProgressBack

Lok Sabha Elections 2024: कम हुई सियासी सक्रियता तो कमल नाथ पर उठे सवाल, उनके करीबी ने क्या कहा जानिए

India Elections 2024: सैयद जाफर ने एक्स पर गांधी परिवार और कमल नाथ के रिश्तों को दर्शाने वाली कई तस्वीरें भी साझा की हैं. कमल नाथ इन तस्वीरों में इंदिरा गांधी, संजय गांधी के साथ नजर आ रहे हैं.

Read Time: 3 mins
Lok Sabha Elections 2024: कम हुई सियासी सक्रियता तो कमल नाथ पर उठे सवाल, उनके करीबी ने क्या कहा जानिए

Lok Sabha Election 2024 News: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री (Former Chief Minister of Madhya Pradesh) और कांग्रेस के वरिष्ठ (Congress Senior Leader) नेता कमल नाथ (Kamal Nath) इस बार के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Chunav 2024) में पिछले चुनावों जैसे सक्रिय नजर नहीं आए. यही कारण है कि उनकी कम हुई सक्रियता पर सवाल उठाए जा रहे हैं. कभी कमल नाथ के करीबी रहे और वर्तमान में भाजपा नेता (BJP Leader) सैयद जाफर ने कमल नाथ और हाईकमान के बीच बढ़ती दूरी की तरफ इशारा किया है.

सैयद जाफर ने क्या कहा? 

सैयद जाफर ने कमल नाथ के प्रदेश और देश में चुनाव के दौरान ज्यादा सक्रिय न रहने का जिक्र करते हुए एक्स पर लिखा, "आखिर क्यों देश और प्रदेश की राजनीतिक गतिविधियों से गायब हैं कमल नाथ. न मध्य प्रदेश में दिख रहे, न देश में. छिंदवाड़ा चुनाव के बाद कमल नाथ ने देश-प्रदेश में कांग्रेस के पक्ष में चुनाव प्रचार क्यों नहीं किया. क्या कांग्रेस आलाकमान और कमल नाथ के बीच दूरियां बढ़ी हैं."

सवालिया अंदाज में सैयद जाफर ने आगे लिखा, "कांग्रेस की गतिविधियों में क्यों सक्रिय नहीं हैं कमल नाथ. कमल नाथ और कांग्रेस आलाकमान के बीच सब ठीक तो है न?"

सैयद जाफर ने एक्स पर गांधी परिवार और कमल नाथ के रिश्तों को दर्शाने वाली कई तस्वीरें भी साझा की हैं. कमल नाथ इन तस्वीरों में इंदिरा गांधी, संजय गांधी के साथ नजर आ रहे हैं.

सैयद जाफर ने कांग्रेस छोड़कर BJP का दामन थामा 

किसी दौर में सैयद जाफर की पहचान कमल नाथ के करीबी नेताओं में हुआ करती थी. जाफर लगभग तीन दशक से सियासी तौर पर सक्रिय हैं और उन्हें कमल नाथ के प्रतिनिधि के तौर पर छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र में पहचाना जाता रहा है. लोकसभा चुनाव से पहले जाफर ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया.

भाजपा ने इस लोकसभा चुनाव में छिंदवाड़ा सीट पर जीत दर्ज करने के लिए खास रणनीति बनाई और उसी के चलते कमल नाथ के कई करीबी भाजपा में शामिल हुए. इनमें पूर्व विधायक दीपक सक्सेना और विधायक कमलेश शाह सहित कई अन्य नेता शामिल हैं.

इस बड़े दल बदल के कारण छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र का चुनाव काफी रोचक रहा. राज्य में लोकसभा की कुल 29 सीटें हैं और पिछले चुनाव में भाजपा को 28 स्थान पर जीत मिली थी. वहीं सिर्फ एक स्थान छिंदवाड़ा कांग्रेस के खाते में आया था. छिंदवाड़ा को कांग्रेस और कमल नाथ के गढ़ के तौर पर पहचाना जाता है, लिहाजा भाजपा ने छिंदवाड़ा को जीतने के लिए सारा जोर लगाया. अब 4 जून को पता चलेगा कि छिंदवाड़ा किसके पाले में जाता है.

यह भी पढ़ें : MP में दिग्गज हैं पर दिल्ली में वैल्यू हुई कम, पुराने कांग्रेसियों को पार्टी ने ही कैंपेन में नहीं दिया महत्व

यह भी पढ़ें : Lok Sabha Elections 2024: मोदी सरकार सत्ता से बाहर हो जाएगी... CM मोहन ने कहा- इससे बड़ा मजाक नहीं हो सकता

यह भी पढ़ें : Lok Sabha Elections 2024: 75 दिन में ताबड़तोड़ 80 इंटरव्यू, 180 रोड शो-रैलियां, ये है PM मोदी का चुनावी अभियान

यह भी पढ़ें : कमलनाथ के एक और करीबी ने थामा 'कमल' का 'हाथ', जानिए राजघराने से ताल्लुक रखने वाले कमलेश शाह कौन हैं?

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Salman Khan News: बॉलीवुड के दबंग सलमान खान पर हो सकता था 'लॉरेंस अटैक', पाकिस्तानी एंगल भी आया सामने
Lok Sabha Elections 2024: कम हुई सियासी सक्रियता तो कमल नाथ पर उठे सवाल, उनके करीबी ने क्या कहा जानिए
Exit Poll 2024 Results Live Updates: NDTV will Tell you Election Exit Poll 2024
Next Article
Exit Poll 2024 LIVE Updates: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का सफाया, एमपी में भाजपा 29 में 28 सीटों पर कर सकती है कब्जा
Close
;