विज्ञापन
Story ProgressBack

CG News: नक्सल प्रभावित गांव में पुलिस की सराहनीय पहल, झोपड़ी में पढ़ने वाले बच्चों को मिला पक्का स्कूल

Positive News: कबीरधाम पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा अस्थाई स्कूल प्रारंभ किया गया है और लगातार सैकड़ों की संख्या में विशेष जनजाति (Special Tribe) के बैगा (Baiga Tribe) जो पढाई कर चुके हैं और आगे के भी पढ़ाई करा रहे हैं. पांचवी तक पढ़ने के बाद जो विद्यार्थी शहर में आकर पढ़ाई कर रहे हैं, उनके लिए भी हॉस्टल आदि में सुविधा मुहैया कराई जा रही है.

Read Time: 3 mins
CG News: नक्सल प्रभावित गांव में पुलिस की सराहनीय पहल, झोपड़ी में पढ़ने वाले बच्चों को मिला पक्का स्कूल

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के कबीरधाम जिले (Kabir Dham District) में पुलिस (Police) एवं जिला प्रशासन द्वारा वनांचल (Forest Area) क्षेत्रों में शिक्षा के स्तर (Education Lavel) को बेहतर बनने लगातार प्रयास किए जा रहें हैं. इसके साथ ही कबीरधाम पुलिस द्वारा नक्सली गतिविधियों (Naxalite activities) को रोकने और वनांचलवासियों को जागरूक करने के लिए सामुदायिक पुलिसिंग (Community Policing) के तहत लगातार जागरूकता अभियान (Awareness Campaign) चलाया जा रहा है. थाना तरेगांव अंतर्गत नक्सल प्रभावित ग्राम (Naxal Affected Village) झुरगीदादर में पुलिस विभाग (Police Department) द्वारा संचालित अस्थाई स्कूल पहले झोपड़ी में लगता था, अब यहां बच्चों को पढ़ने के लिए पक्का भवन बन कर तैयार हो गया है. ग्राम झुरगीदादर के ग्रामीणों ने विधिवत पूजा अर्चना कर स्कूल का शुभारंभ किया और नए भवन में विद्यार्थियों को प्रवेश कराया. ग्रामीणों ने नए भवन के लिए कबीरधाम पुलिस (Kabirdham Police) और जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया है.

कोचिंग सेंटर भी चल रहे हैं

कबीरधाम पुलिस के नेतृत्व में जिले में 9 अस्थाई प्राथमिक स्कूल ग्राम झुरगीदादर, बीजादाब, पंडरीपथरा, बंदूकुदा, सौरू, सुरुतिया, मांदीभाट, बगईपहाड़, तेंदूपडवा एवं चार ओपन कोचिंग सेंटर (Coaching Center) चलाया जा रहा है. कबीरधाम पुलिस एवं जिला प्रशासन मिलकर सभी 11 स्थानों पर सामुदायिक भवन (Community Center) के नाम से भवन बनाने के लिए स्वीकृत किया गया था.

अति नक्सल प्रभावित इलाके स्कूल विहीन होने के कारण वहां के बच्चे शिक्षा से वंचित थे, दूर-दूर तक स्कूल नहीं होने के कारण बच्चे स्कूल नहीं जाते थे. इसी सोच को आगे बढ़ाते हुए पुलिस अधीक्षक (Superintendent of police) ने वहां अस्थाई  स्कूल तैयार किया और स्थानीय शिक्षित युवाओं को अध्यापन कार्य में  लगाकर, युवाओं (Youths) को रोजगार (Employment) से जोड़ा गया.

SP का क्या कहना है?

कबीरधाम पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा अस्थाई स्कूल प्रारंभ किया गया है और लगातार सैकड़ों की संख्या में विशेष जनजाति (Special Tribe) के बैगा (Baiga Tribe) जो पढाई कर चुके हैं और आगे के भी पढ़ाई करा रहे हैं. पांचवी तक पढ़ने के बाद जो विद्यार्थी शहर में आकर पढ़ाई कर रहे हैं, उनके लिए भी हॉस्टल आदि में सुविधा मुहैया कराई जा रही है.

9 अस्थाई स्कूल से 400 विद्यार्थी उत्तीर्ण

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (Additional superintendent of police) विकास कुमार ने बताया की कबीरधाम पुलिस द्वारा संचालित 9 अस्थाई स्कूल में अब तक विशेष पिछड़ी जनजाति वर्ग के लगभग 400 की संख्या में बच्चे वहां से पढ़कर निकले हैं. भर्ती होते समय कबीरधाम पुलिस द्वारा शैक्षणिक सामग्री भी दी जाती है. उन्होंने बताया कि अस्थाई स्कूल से उत्तीर्ण होने के बाद कवर्धा शहर के विभिन्न हॉस्टल में 100 से अधिक विद्यार्थी अपने आगे की पढ़ाई कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें :

** 'राहुल गांधी देश के मूड से बेखबर' MP-CG के दौरे पर रामदास अठावले ने कहा- अगली बार 500 पार

** जलियांवाला बाग नरसंहार: PM मोदी से लेकर CM मोहन ने कैसे दी शहीदों को श्रद्धांजलि, देखिए वीडियो

** MCB News: यहां पांचांग के अनुसार नहीं होती घट स्थापना, इतने दिनों बाद मनाते हैं नवरात्रि, क्या है परंपरा?

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
NDTV की खबर का बड़ा असर, सूरजपुर में तैनात दो पुलिसकर्मी हुए सस्पेंड, रिश्वत लेने का है आरोप
CG News: नक्सल प्रभावित गांव में पुलिस की सराहनीय पहल, झोपड़ी में पढ़ने वाले बच्चों को मिला पक्का स्कूल
Baloda Bazar Violence100 vehicles were burnt Collector office also set on fire Why is Baloda Bazar burning for 1 month Jaitkham
Next Article
पिछले 1 महीने से क्यों सुलग रहा बलौदा बाजार? 100 से अधिक गाड़ियां फूंक दी, कलेक्टर ऑफिस में भी आगजनी...!
Close
;