विज्ञापन
Story ProgressBack

Balod में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, दो बार की जिला पंचायत सदस्य मीना साहू ने थामा BJP का दामन

Congress Members join BJP: बालोद में कांग्रेस की बड़ी नेत्री रहीं मीना साहू ने कई अन्य कांग्रेसियों के साथ बीजेपी का दामन थाम लिया है. इस दौरान सीएम विष्णुदेव साय ने उन्हें गमछा पहनाकर पार्टी में उनका स्वागत किया.

Read Time: 3 min
Balod में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, दो बार की जिला पंचायत सदस्य मीना साहू ने थामा BJP का दामन
मीना सत्येंद्र साहू ने थामा भाजपा का दामन

Meena Sahu Joins BJP: छत्तीसगढ़ के बालोद से दो बार की जिला पंचायत की सदस्य मीना सत्येंद्र साहू (Meena Satendra Sahu) मंगलवार को मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय (Vishnu Dev Sai) के समक्ष भाजपा में शामिल हो गई. कांकेर में आयोजित भाजपा प्रत्याशी के नामांकन रैली में सीएम विष्णुदेव साय ने मीना सत्येंद्र साहू का पार्टी का गमछा पहनाकर स्वागत किया. मीना साहू के साथ कई अन्य कांग्रेसियों (Congress) ने भी भाजपा (BJP) ज्वाइन किया. गौरतलब है कि दो बार की जिला पंचायत सदस्य (District Panchayat Member) मीना सत्येंद्र साहू ने 2023 के  विधानसभा चुनाव (Vidhan Sabha Elections 2023) में कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर कांग्रेस से बगावत कर निर्दलीय चुनाव लड़ा था. इसमें उन्होंने अपने दम पर 26,873 वोट हासिल किए थे.

मीना को कांग्रेस ने छह साल के लिए किया था निष्कासित

कांग्रेस से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ रही मीना सत्येंद्र साहू को पार्टी ने पिछले साल नवंबर माह में अगले छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था. मीना ने संजारी बालोद विधानसभा से कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ने की दावेदारी की थी. लेकिन, पार्टी से उन्हें टिकट नहीं मिला. नाम वापसी के लिए दिए गए समय के दौरान भी उन्होंने अपना नाम वापस नहीं लिया और निर्दलीय चुनाव लड़ा. बता दें कि मीना साहू कांग्रेस समर्थित जिला पंचायत सदस्य हैं. वे लगातार दूसरी बार जिला पंचायत सदस्य निर्वाचित होकर आई हैं.

इन्होंने भी थामा भाजपा का दामन

मीना सत्येंद्र साहू के साथ पूर्व कांग्रेसी नेता उत्तरा मरकाम, सत्येंद्र साहू, नौशाद कुरैशी, ताम्रध्वज यादव, प्रकाश मरकाम, राजकुमार साहू समेत अन्य कई कांग्रेसियों ने भी भाजपा की सदस्यता ली. इस दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने सभी को सदस्यता दिलाई और भाजपा पार्टी का गमछा पहनाया.

भाजपा को मिल सकता है लाभ

बता दें कि जिला पंचायत सदस्य मीना सत्येंद्र साहू भले ही कांग्रेस से निष्कासित थी, लेकिन भाजपा का दामन थामने के बाद संजारी बालोद विधानसभा में भाजपा अब मजबूत हो सकती है. इसके पीछे बड़ा कारण मीना सत्येंद्र साहू के पास अपना खुद का वोट बैंक है. साथ ही साहू समाज में उनकी अच्छी पैठ है और इसी के बदौलत पिछले विधानसभा चुनाव में उनको 26873 वोट मिले थे. वहीं, जिले के संजारी बालोद विधानसभा में गुरुर ब्लॉक के अलावा बालोद ब्लाक में भी उनका एक जनाधार है जिसका लाभ भाजपा को मिल सकता है.

ये भी पढ़ें :- Lok Sabha Election से पहले बस्तर क्षेत्र में मिली बड़ी कामयाबी, सुरक्षाबलों ने 10 नक्सलियों को किया ढेर

कांग्रेस को कितना नुकसान?

मीना सत्येंद्र साहू के भाजपा में शामिल होने से कांग्रेस को इसका नुकसान हो सकता है. मीना के साथ कई पूर्व कांग्रेसी नेता भी भाजपा में शामिल हुए हैं, जो कभी कांग्रेस की रीढ़ मानी जाती थीं.

ये भी पढ़ें :- Lok Sabha Election से पहले एक्शन में छत्तीसगढ़ पुलिस, रायगढ़ से पकड़ी गई भारी मात्रा में नकदी

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close