विज्ञापन
Story ProgressBack

CG News: कवर्धा हादसे में एक साथ 19 बैगा जनजाति के लोगों की मौत, जानिए - कौन है ये संरक्षित आदिवासी समाज

CG Road Accident: तेज रफ्तार पिकअप ट्रक अचानक 20 फीट गहरे गढ्ढे में गिर गया. हादसा इतना भयानक था कि इसमें मौके पर ही एक ही गांव के और एक ही जाति के 19 लोगों की मौत हो गई...

Read Time: 3 mins
CG News: कवर्धा  हादसे में एक साथ 19 बैगा जनजाति के लोगों की मौत, जानिए - कौन है ये संरक्षित आदिवासी समाज
बैगा जनजाति की महिला-जोधइया बाई (Generic)

Kawardha Accident: सोमवार को छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कर्वधा (Kawardha) में एक भीषण सड़क हादसे (Road Accident) में 19 लोगों की मौत हो गई और चार लोग घायल हो गए. तेज रफ्तार पिकअप ट्रक (Pickup Truck) अचानक 20 फिट गहरे गढ्ढे में जा गिरी. बताया गया कि इसमें कुल 30 से 35 लोग सवार थे. हादसे में मरने वाले और घायल सभी लोग सेमरहा गांव के थाना कुकदूर के रहने वाले थे. जानकारी के अनुसार, मरने वालों में 15 महिलाएं और तीन किशोरी शामिल हैं. घटना में सबसे ज्यादा परेशान करने वाली बात ये रही कि मरने घटना में मरने वाले घायल, सभी बैगा आदिवासी जनजाति (Baiga Adivasi Tribe) से थे. इस जनजाति को संरंक्षित जनजाति का दर्जा प्राप्त है..

कौन है बैगा जनजाति? (Who is Baiga Tribe)

बैगा जनजाति भारत के झारखंड, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्यों में पाई जाने वाली आदिवासी समुदाय की एक जनजाति है. ये अति पिछड़े वर्ग के अंतर्गत आते हैं. इनकी सबसे अधिक जनसंख्या छत्तीसगढ़ के कबीरधाम और कोरिया जिले में देखने को मिलती है. कबीरधाम क्षेत्र में ही ये भीषण सड़क हादसा हुआ. बता दें कि 2015 में संस्थानों द्वारा किए गए सर्वेक्षण के अनुसार पूरे प्रदेश में बैगाओं की कुल जनसंख्या 88 हजार 317 हैं.  

बैगा संस्कृति में गोदना (टैटू) का बहुत महत्व होता है. हर उम्र और शरीर के अंग के लिए इनके समुदाय में एक खास टैटू निहीत होता है.

सरकार ने दिए है कई विशेष अधिकार (Baiga Tribe Government Schemes)

बैगा जनजाति के विकास स्तर को देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने इस जनजाति को विशेष पिछड़ी जनजाति समूह में रखा है. इस वजह से बैगाओं को सरकार का सरक्षण भी प्राप्त है. इस जनजाति के लिए राज्य सरकार कई सारी शासकीय योजनाएं चला रही है. बैगा जितनी प्राचीन जनजाति है, उतनी ही प्राचीन बैगाओं की संस्कृति भी है. 

ये भी पढ़ें :- MP Nursing College Scam: सीबीआई की रडार पर MP के करीब 70 नर्सिंग कॉलेज, टीम को मिले भ्रष्टाचार के कई इनपुट

क्यों खास है बैगा जनजाति? (Why is Baiga Tribe Special)

विशेष पिछड़ी जनजाति समूह, बैगा कई मायनों में बहुत खास मानी जाती है. इनके बारे में माना जाता है कि ये लोग शेर को अपना अनुज मानते हैं. बैगा लोग झाड़-फूंक और अंधविश्वास जैसी परंपराओं में बहुत विश्वास करते हैं. ज्यादातर ये लोग पीतल, तांबे और एल्यूमीनियम के आभूषण पहनते हैं. ये लोग बूड़ादेव, दूल्हादेव और भवानी माता को अपना प्रमुख देवी-देवता मानते हैं. इनका मुख्य व्यवसाय झूम खेती और शिकार करना होता है.

ये भी पढ़ें :- छत्तीसगढ़: कवर्धा में भीषण सड़क हादसे से मचा कोहराम, पिकअप पलटने से 19 की मौत, चार की हालत गंभीर

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
EVM Re-Counting: कांकेर लोकसभा क्षेत्र के 4 मतदान केंद्रों के ईवीएम की दोबारा होगी मतगणना, कांग्रेस की याचिका पर EC का आदेश
CG News: कवर्धा  हादसे में एक साथ 19 बैगा जनजाति के लोगों की मौत, जानिए - कौन है ये संरक्षित आदिवासी समाज
Coal Scam Case Economic offences wing raids mineral department Korba
Next Article
Coal Scam Case: कोरबा के खनिज दफ्तर में EOW की दबिश, कोयला घोटाले से जुड़े मामले की चल रही जांच
Close
;