विज्ञापन
Story ProgressBack

कौन हैं नरेंद्र पटेल, जो खंडवा लोकसभा सीट से बने कांग्रेस की पहली पसंद? जानें राजनीतिक सफर

Khandwa Lok Sabha seat: लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की चौथी लिस्ट जारी होते ही खंडवा सीट पर आम चुनाव गुर्जर बनाम गुर्जर बन गया है. अब इस सीट पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिलने वाली है.

Read Time: 3 mins
कौन हैं नरेंद्र पटेल, जो खंडवा लोकसभा सीट से बने कांग्रेस की पहली पसंद? जानें राजनीतिक सफर
खंडवा लोकसभा सीट से कांग्रेस ने बनाया नरेंद्र पटेल को अपना प्रत्याशी.

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2024) में प्रत्याशियों के चयन में पिछड़ने और एक लंबे इंतजार के बाद आखिरकार शनिवार, 6 अप्रैल को कांग्रेस (Congress) ने तीन राज्यों के लिए अपने 6 प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है. इस सूची में कांग्रेस ने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की बाकी बची 3 सीटों पर भी प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर दिया है. ग्वालियर से पूर्व विधायक प्रवीण पाठक (Praveen Pathak), मुरैना (Morena Lok Sabha seat) से पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह सिकरवार उर्फ नीटू  (Satyapal Singh Sikarwar) और खंडवा से नरेंद्र पटेल (Narendra Patel) को टिकट दिया है.

इन प्रत्याशियों से कांग्रेस को कितना फायदा?

बता दें कि मध्य प्रदेश की खंडवा संसदीय क्षेत्र से सनावद के रहने वाले नरेंद्र पटेल पर भरोसा जताते हुए कांग्रेस पार्टी ने उन्हें अपना प्रत्याशी बनाया है. एक लंबे सोच विचार के बाद की गई इन तीनों प्रत्याशियों की घोषणा से कांग्रेस पार्टी को कितना फायदा इन चुनावों में पहुंचेगा, ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा, लेकिन फिलहाल प्रत्याशियों की घोषणा में पिछड़ने के चलते पार्टी की जो किरकिरी हो रही थी, कम से कम इस टिकट की घोषणा के बाद वो तो रुक ही जाएगी.

जानें कैसा रहा नरेंद्र पटेल का राजनीतिक सफर

खंडवा लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी ने सनावद के रहने वाले नरेंद्र पटेल को उम्मीदवार बनाया है. हालांकि 64 वर्षीय नरेंद्र पटेल का एक लंबा राजनीतिक इतिहास रहा है. युवा कांग्रेस से अपने राजनीतिक कैरियर की शुरुआत करने वाले नरेंद्र पटेल धीरे-धीरे संगठन में मजबूत पैठ बनाते गए और ब्लॉक और जिला कांग्रेस के कई पदों पर रहे. फिलहाल नरेंद्र पटेल मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी में महासचिव के पद पर हैं. नरेंद्र पटेल के साथ-साथ उनका परिवार का भी एक लंबा राजनीतिक इतिहास रहा है. दरअसल, नरेंद्र पटेल के बड़े चाचा ताराचंद पटेल बड़वाह विधानसभा से विधायक रहने के साथ ही खरगोन लोकसभा क्षेत्र से सांसद भी रहे हैं. 

 बीजेपी और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर 

बता दें कि खंडवा से कांग्रेस प्रत्याशी नरेंद्र पटेल गुर्जर समाज से आते हैं. तो वहीं इस संसदीय क्षेत्र में गुर्जर वोटरों का दबदबा भी है. शायद इसी के चलते कांग्रेस ने नरेंद्र पटेल को अपना प्रत्याशी बनाया है. नवदुर्गा, गणेश उत्सव और रामनवमी जैसे कई धार्मिक आयोजनों में भी नरेंद्र पटेल काफी बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते दिखाई देते हैं, जिसके चलते क्षेत्र में उनकी छवि धार्मिक प्रवृत्ति की होते हुए सामाजिक पकड़ भी मजबूत बनी हुई है. ऐसे में ये माना जा रहा है कि इस सीट पर लोकसभा चुनाव गुर्जर बनाम गुर्जर होते हुए मौजूदा सांसद और भाजपा प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटिल के बीच कड़ी टक्कर रहने वाला है. 

ये भी पढ़े: MP की बाकी 3 सीटों पर कांग्रेस ने घोषित किया प्रत्याशी, ग्वालियर, मुरैना और खंडवा सीटों पर इन्हें मिला टिकट

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Crime: सास ने बहू को कहा सिर्फ यह एक शब्द, तो बहू ने दी ऐसी सजा कि सुनकर कांप जाएगी रूह
कौन हैं नरेंद्र पटेल, जो खंडवा लोकसभा सीट से बने कांग्रेस की पहली पसंद? जानें राजनीतिक सफर
ceremony of MPL Before 2 people were murdered in Gwalior know how the double murder happened amidst high security
Next Article
MPL के उद्धाटन समारोह से पहले ग्वालियर में 2 लोगों की हत्या, जानें हाई सिक्युरिटी के बीच कैसे हुआ डबल मर्डर?
Close
;