विज्ञापन
Story ProgressBack

MP में भी महाराष्ट्र की तर्ज पर मौसम आधारित फसल बीमा योजना? बुरहानपुर के केला किसानों की कृषि मंत्री से मांग

Burhanpur Banana Farmer: जब से शिवराज सिंह चौहान को कृषि मंत्रालय की जिम्मेदारी मिली है, तब से मध्य प्रदेश के किसानों को उनसे बहुत उम्मीदें है. इधर, बुरहानपुर के केला किसान भी महाराष्ट्र की तर्ज पर मौसम आधारित फसल बीमा योजना लागू करने की मांग कर रहे हैं.

MP में भी महाराष्ट्र की तर्ज पर मौसम आधारित फसल बीमा योजना? बुरहानपुर के केला किसानों की कृषि मंत्री से मांग

Banana Farmer in MP: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) हाल ही में केंद्रीय कृषि व ग्रामीण विकास मंत्री बनाए गए हैं. ऐसे में बुरहानपुर के केला किसानों (Banana Farmer) को यह उम्मीद बंधी है कि उन्हें भी अब पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र की तर्ज पर मौसम आधारित फसल बीमा योजना का लाभ मिलेगा.

20 हजार हेक्टयर में की जाती है केले की खेती

दरअसल, मध्य प्रदेश में बुरहानपुर (Burhanpur) जिले में सबसे अधिक करीब 20 हजार हेक्टयर रकबे में केले की फसल लगाई जाती है. पिछले पांच साल से प्राकृतिक आपदा के कारण केला उत्पादक किसानों की करोड़ों रुपये की फसल बर्बाद हो रही है. शासन से मिलने वाला मुआवजा ऊंट के मुंह में जीरे के समान था, लेकिन तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इन केला किसानों का दर्ज समझा और आज दो लाख रूपए हेक्टयर के हिसाब से केला उत्पादक किसानों को मुआवजा दिया जा रहा है.

मध्य प्रदेश में भी लागू किया जाएगा मौसम आधारित फसल बीमा योजना?

जब पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान 18वीं लोकसभा में सांसद निर्वाचित होकर मोदी सरकार में केंद्रीय कृषि मंत्री बनाए गए हैं. ऐसे में बुरहानपुर जिले के केला उत्पादक किसानों को यह उम्मीद जगी कि अब महाराष्ट्र की तर्ज पर मौसम आधारित फसल बीमा योजना लागू हो जाएगी.

एनडीटीवी की टीम ने केला किसानों की इस मंशा को केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह चौहान तक पहुंचाने की कोशिश की, जिससे इन किसानों को मौसम आधारित फसल बीमा योजना का लाभ मिल सके.

कृषि मंत्री के सामने रखा गया किसानों की 'मौसम आधारित फसल बीमा योजना' की मांग

एनडीटीवी की टीम बुरहानपुर जिले के केला उत्पादक किसानों की महाराष्ट्र की तर्ज पर मौसम आधारित बीमा योजना लागू करने की मांग को प्रमुखता से जगह दी. इसके साथ ही स्थानीय जनप्रतिनिधियों तक किसानों की फरियाद पहुंचाई. जिसके बाद दिल्ली प्रवास के दौरान बुरहानपुर विधायक और पूर्व मंत्री अर्चना चिटनीस ने केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात कर इन किसानों की मांग को उनके सामने रखा. 

अर्चना चिटनीस ने बुरहानपुर के केला उत्पादक किसानों सहित पूरे प्रदेश के उद्यानिकी फसल उत्पादित करने वाले किसानों के लिए मौसम आधारित फसल बीमा योजना लागू करने की मांग रखी, जिसे केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया.

ये पढ़े: Chhattisgarh की 70 लाख महिलाओं के लिए खुशखबरी: महतारी वंदन योजना की 5वीं किश्त आज होगी जारी, खाते में आएंगे 1 हजार रुपये

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
भाजपा पार्षद पर आर्थिक सहायता के बहाने महिला से दुष्कर्म का लगा आरोप, एक्टिव हुई पुलिस
MP में भी महाराष्ट्र की तर्ज पर मौसम आधारित फसल बीमा योजना? बुरहानपुर के केला किसानों की कृषि मंत्री से मांग
167 year old tradition was followed in Rewa Tajia was taken out on the day of Moharram know the history of Moharram month of islam religion
Next Article
रीवा में निभाई गई 167 साल पुरानी परंपरा, मोहर्रम के दिन निकाली गई ताजिया, जानें इन दिन का इतिहास
Close
;