विज्ञापन
Story ProgressBack

UPSC Exam Result 2023 : भोपाल के अयान जैन ने हासिल की Rank 16, ये बताया अपनी सफलता का राज़ 

UPSC CSE Result 2023: देशभर में 16 अप्रैल को UPSC के नतीजे जारी किए गए हैं... लेकिन क्या आप जानते हैं... इस परीक्षा परिणाम में मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के भी कई होनहारों की मेहनत रंग लेकर आई है. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) के रहने वाले  अयान जैन (Ayan Jain) ने 16 रेंक हासिल की है. 

Read Time: 6 mins
UPSC Exam Result 2023 : भोपाल के अयान जैन ने हासिल की Rank 16, ये बताया अपनी सफलता का राज़ 
UPSC Exam Result 2023 : भोपाल के अयान जैन ने हासिल की Rank 16, ये बताया अपनी सफलता का राज़ 

UPSC Civil Services Exam 2023 Final Results : साल 2023 में हुए सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Civil Services Exam Result 2023) के नतीजों का ऐलान हो गया है. बीते साल सितंबर लिखित परीक्षा (Written Exam) हुई थी. जिसके बाद देशभर में 16 अप्रैल को UPSC के नतीजे जारी किए गए हैं... लेकिन क्या आप जानते हैं... इस परीक्षा परिणाम में मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के भी कई होनहारों की मेहनत रंग लेकर आई है. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) के रहने वाले अयान जैन (Ayan Jain) ने 16 रेंक हासिल की है. मीडिया से बातचीत में उन्होंने बताया कि यह उनका तीसरा प्रयास था. पहले प्रयास में वह मेन्स क्लियर नहीं कर सके, दूसरे प्रयास में उन्होंने 87 रेंक हासिल की और मध्य प्रदेश कैडर में IPS के रूप में चुने गए. तीसरे प्रयास में, उन्होंने 16 रेंक हासिल कर ली. अयान मध्य प्रदेश से हैं लेकिन उन्होंने स्कूली शिक्षा दिल्ली से पूरी की है. उनके पिता एक सेवानिवृत्त IPS अधिकारी हैं और भोपाल के चार इमली इलाके में रहते हैं. अयान ने अपनी स्कूली शिक्षा संस्कृति स्कूल से पूरी की. उन्होंने IIT दिल्ली से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बीटेक किया है. जब वह कॉलेज में पढ़ रहे थे तब उन्होंने UPSC की तैयारी करने का फैसला किया. अयान जैन, रिटायर्ड DG मुकेश जैन के बेटे हैं. 2021 में अयान के बड़े भाई अर्थ जैन ने भी UPSC में 16वीं रैंक हासिल की थी और इस वक्त वह उज्जैन में SDM के पद पर तैनात हैं. बता दें कि UPSC की परीक्षा में 1100 छात्र पास हुए हैं... जिसमें मध्य प्रदेश के कुल 27 छात्र शामिल हैं. 

जानिए क्षितिज ने कहां से की पढ़ाई ? 

बता दें कि इस परीक्षा मे राजधानी भोपाल के क्षितिज शर्मा का भी सिलेक्शन हुआ है. क्षितिज ने 384 रैंक बनाई है. क्षितिज ने लॉ से ग्रेजुएशन करने के बाद नौकरी की थी. क्षितिज के पिता और बड़े भाई भी वकील हैं. क्षितिज ने साल 2021 में नौकरी छोड़ UPSC एग्जाम की तैयारी की और दूसरे अटेम्प्ट में ही परीक्षा कलियर कर ली.क्षितिज ने कोई कोचिंग ज्वाइन नहीं की वह रोजाना 8 से 10 घंटे पढ़ाई करते थे. क्षितिज का युवाओं को संदेश है कि उनके अंदर Patience और Discipline होना चाहिए. लक्ष्य को सामने रखकर पढ़ाई करें कामयाबी जरूर मिलेगी. NDTV से बात करते हुए क्षतिज शर्मा ने बताया कि उन्होंने घर से पढ़ाई की है कोई कोचिंग नहीं ली. दिसंबर 2021 से नौकरी छोड़कर परीक्षा की तैयारी कर रहे थे. रोजाना 8 से 10 घंटे पढ़ाई का लक्ष्य रहता था लेकिन घंटे ना गिनकर वह अपना टारगेट सेट करते थे कि मुझे इतने समय में इतने सब्जेक्ट कंप्लीट करने हैं और इसके इतने राउंड लेने हैं. उस हिसाब से अपना शेड्यूल रखते थे. 2019 में क्षितिज ने अपनी पढ़ाई पूरी कर ली थी क्षितिज ला ग्रेजुएट है. पढ़ाई कंप्लीट करने के बाद मुंबई में एक कंपनी में जॉब करना शुरू कर दी थी. ढाई साल नौकरी करी जिसमें से करीब 2 साल भोपाल में रहकर करी. और अक्टूबर 2021 में मैंने नौकरी छोड़ दी.

कैसे आया मन में IAS बनने का ख्याल 

क्षितिज ने बताया की बचपन से उनको IAS बनने का शौक नहीं था ना ही कॉलेज की पढ़ाई के दौरान उन्होंने ऐसा सोचा था. मगर धीरे-धीरे मन में भाव पैदा हुआ कि सामाजिक कार्य करने के लिए सिविल सर्विस एक अच्छा माध्यम है. सिविल सेवा में काम करके जो आत्म संतुष्टि होती है वह प्राइवेट सेक्टर से कहीं ज्यादा होती है. क्षितिज के पिताजी और बड़े भाई वकील हैं और उन्होंने खुद भी ला की पढ़ाई करी है हालांकि उनके मन में यह भाव नहीं था कि वह सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करें लेकिन उनके माता-पिता के मन में यह भाव था. लेकिन जैसे-जैसे धीरे-धीरे नौकरी में क्षितिज बढ़ते गए उनके मन में भाव पैदा हुआ की नौकरी से मुझे क्या चाहिए. जब यह भाव मेरे मन में पैदा हुआ तो मेरे मां-बाप की इच्छाएं और मेरे भाव आपस में टकराए. जब इन दोनों का मेल हुआ तब मेरा IAS के एग्जाम की तैयारी करने का मन बना. जब मैं अपनी नौकरी छोड़ी तो मेरे माता-पिता के मन में काफी सवाल थे. सभी जानते हैं कि UPSC बहुत मुश्किल परीक्षा है लेकिन माता-पिता के मन में था कि अगर इसका सिलेक्शन भी नहीं हुआ तो कुछ ना कुछ तो बेटा कर ही लेगा.

बिना कोचिंग के खुद से की पढ़ाई 

क्षितिज की जो रेंक बनी है उससे उन्हें लग रहा है कि उन्हें रेलवे मैनेजमेंट सर्विस (Railway Management Service) में पोस्ट मिल जाएगी और अगर किस्मत साथ रही तो रेवेन्यू सर्विस इनकम टैक्स में भी पोस्टिंग मिल सकती है. कोचिंग नहीं करने पर बोले कि मैंने पहले से ही मन बना लिया था कि मैं दिल्ली नहीं जाऊंगा. मुझे एक कॉम्पिटेटिव एनवायरमेंट (Competitive Environment) से खुद को दूर रखना था. मैं अपने आप चिंतन करके अपना काम निकाल लेता हूं लेकिन एक भेंड़-चाल चल कर मुझे कठिनाई होती है. यह सोचकर मैंने पहले ही सोच लिया था कि मैं घर से तैयारी करूंगा. जो युवा सिविल सर्विस का एग्जाम फेस कर रहे हैं या इस एग्जाम को क्लियर करना चाहते हैं उनको क्षितिज में संदेश दिया है कि मैं दो ही चीज कहना चाहूंगा पहले तो आप Patience रखें क्योंकि यह बहुत लंबी साइकिल है कोई नहीं कह सकता कि कब निकलेगी. 3, 4,5 Attempt लग जाते हैं. सबसे बड़ी चीज आपका Intelligence नहीं है आपका Discipline है. अगर आप निरंतर डेली 8 से 10 घंटे मेहनत करते रहें और बीच में बार-बार खुद को चेक करते रहे क्या मैं सही कर रहा हूं तो आपका पेपर जरूर निकलेगा. 

भोपाल के दो सगे भाइयों ने भी मारी बाजी 

बता दें कि भोपाल से दो सगे भाई सचिन और समीर ने भी UPSC की परीक्षा पास की है. इसमें सचिन को 209वा तो वहीं समीर ने 222वा स्थान मिला है. बचपन से ही दोनों भाइयों में वर्दी को लेकर अलग जूनून था. दोनों ही भाई मिलजुल कर  पढ़ाई करते थे. ऐसे में दोनों आज सफल हो गए हैं. दोनों भाईयों की इस सफलता से उनका परिवार ख़ुशी से फूले नहीं समा रहे हैं. 

यह भी पढ़ें : 

किसान का बेटा बना IAS, तो वर्दी के शौक़ीन दो सगे भाइयों ने भी पास की UPSC, जानिए लिस्ट में MP के कितने होनहारों ने बनाई जगह

UPSC Civil Services Exam 2023 Final Results: सिविल सेवा के परिणाम जारी, आदित्य बने टॉपर, ये रही पूरी लिस्ट 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
किशोरी ने मासूम को दिया जन्म, 8 महीने बाद हुआ दुष्कर्म का खुलासा 
UPSC Exam Result 2023 : भोपाल के अयान जैन ने हासिल की Rank 16, ये बताया अपनी सफलता का राज़ 
MP High Court acquitted the husband in the unnatural sexual abuse case High court made big comment on the allegations of the wife
Next Article
अप्राकृतिक यौन शोषण मामले में MP हाईकोर्ट ने पति को किया बरी, पत्नी के आरोपों पर की यह बड़ी टिप्पणी
Close
;