विज्ञापन
Story ProgressBack

बुझ गया घर का इकलौता चिराग! नर्मदा नदी में डूबा युवक, अस्पताल पहुंचने से पहले तोड़ा दम

Madhya Pradesh News: सुनील लोधी दोपहर तीन बजे नर्मदा नदी के घाट पर गया था. नहाते समय वह अचानक गहराई वाली जगह जाकर डूबने लगा. घाट पर खड़े लोगों ने युवक को डूबते देख शोर मचाया. इसके बाद कुछ लोग उसकी मदद करने के लिए पहुंचे और उसे नदी से बाहर निकाल लिया. जब युवक को नदी से बाहर निकाला गया तब उसकी सांसे चल रही थी. परिजन तुरंत उसे अस्पताल लेकर भागे लेकिन अस्पताल में डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. 

बुझ गया घर का इकलौता चिराग! नर्मदा नदी में डूबा युवक, अस्पताल पहुंचने से पहले तोड़ा दम
सोकलपुर घाट पर घर का इकलौता बेटा डूबा

Raisen News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के रायसेन जिले के देवरी क्षेत्र में मां नर्मदा में नहाने गए बम्होरी निवासी सुनील लोधी (Sunil Lodhi) की गहरे पानी में डूबने से मौत हो गई. नर्मदा (Narmada) के सोकलपुर घाट पर शनिवार को दोपहर 3 बजे युवक नर्मदा नदी में नहाते समय डूब गया. डूबते देख वहां मौजूद लोगों ने उसे बचाने का प्रयास किया और तत्काल उसे बाहर निकाला. उपचार के लिए उसे उदयपुरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया. लेकिन पहुंचने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया. देवरी पुलिस ने पोस्टमॉर्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया. वह छोटे लाल लोधी का इकलौता पुत्र था.

ये भी पढ़ें :- जैन मुनि आचार्य विद्यासागर के निधन पर छत्तीसगढ़ में राजकीय शोक, प्रदेश के नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

पिंड पूजा में शामिल होने गया था घाट

सुनील लोधी शनिवार को सोकलपुर घाट पर अपने परिजनों द्वारा की जाने वाली पूजा में शामिल होने के लिए पहुंचा था. तीन दिन पहले घर वाले देवरी के बम्हौरी गांव से पिंड भरते हुए सोकलपुर घाट के लिए रवाना हुए थे. शनिवार को सोकलपुर घाट पर पूजा रखी गई थी जिसमें शामिल होने के लिए बम्होरी निवासी सुनील लोधी पहुंचा था. 

अस्पताल पहुंचने से पहले तोड़ा दम

सुनील लोधी दोपहर तीन बजे नर्मदा नदी के घाट पर गया था. नहाते समय वह अचानक गहराई वाली जगह जाकर डूबने लगा. घाट पर खड़े लोगों ने युवक को डूबते देख शोर मचाया. इसके बाद कुछ लोग उसकी मदद करने के लिए पहुंचे और उसे नदी से बाहर निकाल लिया. जब युवक को नदी से बाहर निकाला गया तब उसकी सांसे चल रही थी. परिजन तुरंत उसे अस्पताल लेकर भागे लेकिन अस्पताल में डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. 

Latest and Breaking News on NDTV

एक बहन की पहले हो चुकी है मौत 

बेटे की मौत के बाद माता-पिता और बहन सहित रिश्तेदारों का रो-रोकर बुरा हाल है. देवरी के बम्होरी गांव निवासी छोटे लाल लोधी का सुनील इकलौता बेटा था. सुनील की एक बहन है और एक बहन की पहले ही मौत हो चुकी है. अब घर में सुनील के जाने के बाद एक बहन बची है. 

स्वास्थ्य केंद्र में व्यवस्था की कमी

देवरी उप स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर और स्टाफ पदस्थ तो हैं लेकिन डॉक्टर समय पर अस्पताल में नहीं रहते हैं. वो पैसे लेकर प्राइवेट में इलाज करते हैं. कई बार इलाज नहीं मिलने से मरीज दम तोड़ चुके हैं. यहां के लोगों को भी पता है कि यहां डॉक्टर नहीं बैठते और सुविधा की कमी हैं. इसलिए लोग उदयपुरा जाना पसंद करते हैं. 

ये भी पढ़ें :- MP: कमलनाथ को मिला छिंदवाड़ा की जनता का साथ, बीजेपी में जाना होगा आसान

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बड़वानी: कस्तूरबा आश्रम में खाना खाते ही बिगड़ी 44 छात्राओं की तबीयत, प्रशासन में मचा हड़कंप
बुझ गया घर का इकलौता चिराग! नर्मदा नदी में डूबा युवक, अस्पताल पहुंचने से पहले तोड़ा दम
The boys side refused dowry in the marriage in Niwari returned 11 lakh rupees of dowry
Next Article
MP News: ससुराल से मिले 11 लाख रुपये लौटाए, कहा-दहेज समाज की है सबसे बड़ी कुप्रथा
Close
;