विज्ञापन
Story ProgressBack

NDTV Impact: शिक्षा माफिया पुस्तक विक्रेताओं के गठबंधन के खिलाफ मुहिम का बड़ा असर, प्रदेश के हर जिले में लगेंगे पुस्तक मेले

Book Fair in MP: कई दिनों से प्रदेश में निजी स्कूलों और किताब विक्रेताओं के बीच सांठगांठ का मामला सामने आ रहा था. इसको लेकर बीते दिनों जबलपुर में पुस्तक मेले का आयोजन किया गया. इसकी सफलता को देखते हुए सरकार ने सभी जिलों को इसके आयोजन के लिए निर्देश दिए है.

Read Time: 3 mins
NDTV Impact: शिक्षा माफिया पुस्तक विक्रेताओं के गठबंधन के खिलाफ मुहिम का बड़ा असर, प्रदेश के हर जिले में लगेंगे पुस्तक मेले
Jabalpur Book Fair

MP News: निजी स्कूलों, प्रकाशकों और किताब विक्रेताओं की सांठगांठ से अभिभावकों को राहत दिलाने जबलपुर (Jabalpur) में आयोजित किये गये पुस्तक मेला (Book Fair) को मिली सफलता को देखते हुए अब राज्य शासन ने प्रदेश भर में इसका आयोजन करने के निर्देश दिये हैं. राज्य शासन के स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department) ने इस बारे में प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टर को पत्र भेजकर नये शैक्षणिक सत्र में विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को उचित मूल्य पर पुस्तकें, यूनिफार्म, कापियां एवं स्टेशनरी आदि सुलभ कराने पुस्तक मेले का आयोजन करने कहा है.

कलेक्टर ने की पहल

ज्ञात हो कि जबलपुर में कलेक्टर दीपक सक्सेना की पहल पर स्कूली बच्चों और उनके अभिभावकों को निजी स्कूलों की मनमानी से राहत दिलाने तथा प्रतिस्पर्धी एवं न्यूनतम मूल्य पर किताबें, कॉपियां, यूनिफार्म, जूते, टाई, स्कूल बैग और अन्य शैक्षणिक सामग्री उपलब्ध कराने गोलबाजार स्थित शहीद स्मारक में 10 से 14 अप्रैल तक पुस्तक मेला का आयोजन किया गया था. नागरिकों और अभिभावकों से मिले अच्छे रिस्पांस और उनकी मांग को देखते हुए जिला प्रशासन को पांच दिवसीय इस मेले की अवधि एक दिन और बढ़ानी पड़ी थी.  

Jabalpur Book Fair

Jabalpur Book Fair

सभी जिला अधिकारियों को दिए गए निर्देश

पुस्तक मेला के आयोजन के बारे में राज्य शासन के स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जिला कलेक्टरों को दिए गए निर्देशों में कहा गया कि यदि उनके जिले में निजी स्कूलों, प्रकाशकों और किताब विक्रेताओं की सांठगांठ के कारण विद्यार्थियों और अभिभावकों को परेशानी हो रही है, तो स्थानीय परिस्थितियों का आंकलन कर प्रत्येक जिले में उपयुक्त स्थान का चयन कर यथाशीघ्र पुस्तक मेले का आयोजन किया जाए. स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा कहा गया है कि पुस्तक मेला में कॉपी-किताबों के साथ-साथ यूनिफार्म और अन्य शैक्षणिक सामग्री के स्टॉल भी प्रकाशकों और विक्रेताओं से लगवायें जायें, ताकि एक ही स्थान पर सभी सामग्री उचित और न्यूनतम दर पर उपलब्ध हो सके.

ये भी पढ़ें :- Golden Book of World Records: एक बार फिर बलौदा बाजार जिले को मिला यह खास पुरस्कार, जानिए वजह

आचार संहिता का रखें ध्यान-स्कूल शिक्षा विभाग

कलेक्टरों को पुस्तक मेले के आयोजन में चुनावी आदर्श आचार संहिता का विशेष ध्यान रखने के लिए कहा गया है. स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पत्र में बताया गया है कि पुस्तक मेले के आयोजन की अनुमति भारत निर्वाचन आयोग से प्राप्त कर ली गई है.

ये भी पढ़ें :- World Veterinary Day: 20 बाघों को रेस्क्यू कर दे चुके हैं नई जिंदगी, जानिए कौन हैं यह जानवरों के मसीहा

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
किशोरी ने मासूम को दिया जन्म, 8 महीने बाद हुआ दुष्कर्म का खुलासा 
NDTV Impact: शिक्षा माफिया पुस्तक विक्रेताओं के गठबंधन के खिलाफ मुहिम का बड़ा असर, प्रदेश के हर जिले में लगेंगे पुस्तक मेले
MP High Court acquitted the husband in the unnatural sexual abuse case High court made big comment on the allegations of the wife
Next Article
अप्राकृतिक यौन शोषण मामले में MP हाईकोर्ट ने पति को किया बरी, पत्नी के आरोपों पर की यह बड़ी टिप्पणी
Close
;