विज्ञापन
Story ProgressBack

MP में शमशान तक जाने का डगर नहीं आसान, नाले में तैर कर ढोना पड़ रहा शव

MP News Damoh : मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के दमोह (Damoh)  में शमशान तक जाने का रास्ता भी अब आसान नहीं रहा. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि जिले के सिंग्रामपुर गांव में लोगों को अंतिम संस्कार के लिए घुटनों तक भरे नाले को पार करना पड़ रहा है.

MP में शमशान तक जाने का डगर नहीं आसान, नाले में तैर कर ढोना पड़ रहा शव
MP में शमशान तक जाने का डगर नहीं आसान, नाले में तैर कर ढोना पड़ रहा शव

MP News in Hindi : मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के दमोह (Damoh)  में शमशान तक जाने का रास्ता भी अब आसान नहीं रहा. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि जिले के सिंग्रामपुर गांव में लोगों को अंतिम संस्कार के लिए घुटनों तक भरे नाले को पार करना पड़ रहा है, जिससे सरकार के विकास के दावों पर सवाल उठने लगे हैं. बरसात के मौसम में गांव में किसी की मौत हो जाने पर शव को श्मशान घाट तक ले जाने के लिए लोगों को नाले को पार करना पड़ता है, जो एक गंभीर समस्या बनी हुई है.

गांव के हालात बेहद गंभीर

दरअसल, सिंग्रामपुर गांव में जब भी बारिश होती है, नाले में पानी भर जाता है, जिससे श्मशान घाट तक पहुंचना मुश्किल हो जाता है. गांव के लोगों को घुटनों तक पानी में उतरकर शव को नाले के पार ले जाना पड़ता है, जिससे अंतिम संस्कार के समय भी उन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है. इस स्थिति ने लोगों की परेशानियों को और बढ़ा दिया है.

लोगों ने उठाई पुल की मांग

ग्राम सिंग्रामपुर के लोगों ने मांग की है कि नाले पर एक रपटा पुल या स्टॉप डैम बनाया जाए, जिससे उन्हें ऐसी समस्याओं का सामना न करना पड़े. ग्रामीण विकास के दावों के बावजूद, इस समस्या का समाधान न होने से गांववासियों में असंतोष बढ़ रहा है. ग्रामीणों का कहना है कि प्रशासन को इस मुद्दे पर गंभीरता से ध्यान देना चाहिए और जल्द ही समाधान निकालना चाहिए.

प्रशासन को सरोकार नहीं

यह घटना सरकार के ग्रामीण विकास के दावों पर सवाल खड़े करती है. ग्रामीण विकास की योजनाओं के बावजूद, सिंग्रामपुर ग्राम में बुनियादी सुविधाओं का अभाव है. यह स्थिति सरकार के विकास के दावों और जमीनी हकीकत के बीच के अंतर को स्पष्ट रूप से दिखाती है.

ये भी पढ़ें : 

दहेज कानून के लपेटे में पटवारी, बीवी ने दर्ज कराया मारपीट का मामला

गांव में पक्की सड़क की दरकार

सिंग्रामपुर ग्राम की इस स्थिति ने एक बार फिर से यह सवाल खड़ा किया है कि क्या ग्रामीण विकास की योजनाएं वास्तव में गांवों तक पहुंच रही हैं? प्रशासन को इस समस्या का समाधान जल्द से जल्द करना चाहिए ताकि ग्रामीणों को इस कठिनाई का सामना न करना पड़े और वे अपने प्रियजनों का अंतिम संस्कार सम्मानपूर्वक कर सकें.

ये भी पढ़ें : 

50 लाख का गबन ! खुलासा होने पर BMO समेत 4 पर गिरी गाज, FIR दर्ज

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
MP News: छेड़छाड़ के आरोपी के पक्ष में लामबंद हुए जन प्रतिनिधि, कलेक्ट्रेट पहुंचकर की ये मांग
MP में शमशान तक जाने का डगर नहीं आसान, नाले में तैर कर ढोना पड़ रहा शव
NDTV Ground Report 54 out of 376 schools buildings in Shivpuri are dilapidated, children forced to study under the open sky, waiting for 7 years, problem of mid day meal in rain
Next Article
NDTV Ground Report: शिवपुरी में 376 में से 54 स्कूल जर्जर, यहां 7 साल से है इंतजार, क्या कर रही है सरकार
Close
;