विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Dec 28, 2023

सागर में एक दर्जन से ज्यादा स्कूली बच्चों ने खाया रतनजोत का बीज, हालत खराब होने पर अस्पताल में भर्ती

Sagar News: सागर जिले के नरयावली थाना क्षेत्र के लुहारा गांव में प्राथमिक स्कूल में पढ़ने वाले एक दर्जन से अधिक छात्र रतनजोत का बीज खाने से बीमार हो गए. सभी छात्र स्कूल की छुट्टी होने के बाद घर लौट रहे थे. इसी दौरान उन्होंने रास्ते में रतनजोत के बीज खा लिए.

सागर में एक दर्जन से ज्यादा स्कूली बच्चों ने खाया रतनजोत का बीज, हालत खराब होने पर अस्पताल में भर्ती
बच्चों की हालत में सुधार नहीं होने पर उन्हें जिला अस्पताल सागर के लिए रेफर किया गया.

School Children ate Ratanjot Seeds: सागर जिले के नरयावली में स्कूल से लौटते समय एक दर्जन से अधिक बच्चों ने रतनजोत (Ratanjot) के बीज खा लिए. इसके बाद घर पहुंचने पर बच्चों की हालत बिगड़ गई. जिसके बाद बच्चों के परिजनों ने उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (Community Health Center) में भर्ती कराया. जहां सभी बच्चों को इलाज के लिए जिला अस्पताल सागर (District Hospital Sagar) रेफर किया गया. इलाज के बाद फिलहाल बच्चों की हालत स्थिर है.

स्कूल से छूटने के बाद घर जा रहे थे बच्चे

सागर जिले के नरयावली थाना क्षेत्र के लुहारा गांव में प्राथमिक स्कूल में पढ़ने वाले एक दर्जन से अधिक छात्र रतनजोत का बीज खाने से बीमार हो गए. सभी छात्र स्कूल की छुट्टी होने के बाद घर लौट रहे थे. इसी दौरान उन्होंने रास्ते में रतनजोत के बीज खा लिए. बीज खाने के करीब 1 घंटे बाद जब छात्र घर पर थे, उसी दौरान छात्रों को उल्टी होना शुरू हो गई. उल्टी और पेट दर्द की शिकायत के बाद बच्चों के परिजन उन्हें लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरयावली पहुंचे. जहां बच्चों का प्राथमिक उपचार किया गया.

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरयावली में इलाज के बाद बच्चों की हालत में सुधार न होते देख सभी को जिला अस्पताल सागर रेफर किया गया. जहां सभी बच्चों का इलाज जारी है. वहीं घटना को लेकर बच्चों के परिजनों ने बताया की सभी बच्चे स्कूल गए थे. स्कूल से लौटने के बाद घर आए तो पेट दर्द और उल्टी की शिकायत हुई. जिसके बाद परिजन बच्चों को लेकर नजदीकी अस्पताल नरयावली पहुंचे. जहां से उन्हें सागर रेफर कर दिया गया.

जिला अस्पताल में बच्चों का इलाज जारी

इस मामले में सागर जिला अस्पताल के ड्यूटी डॉक्टर लखन ने बताया कि कुछ बच्चे इलाज के लिए आए हुए हैं. बच्चों के परिवार वालों ने बताया कि स्कूल से छुट्टी के बाद बच्चों ने पेड़ से तोड़कर रतनजोत के बीज खा लिए हैं, उसके कारण से यहां भर्ती हुए हैं. अभी 12 बच्चे आए हुए हैं. उनकी स्थिति सामान्य करने के लिए दवाई में दी गई है. जैसे-जैसे दवाइयां दी जाएंगी, उनकी स्थिति ठीक होगी. सभी बच्चों को उल्टी और पेट दर्द की शिकायत है. इसके साथ ही सभी बच्चों की जांच भी कराई गई है.

ये भी पढ़ें - Bus Accident: गुना बस हादसे में 13 जिंदा जले, 15 की हालत गंभीर, अस्पताल जाकर पीड़ितों से मिले सीएम

ये भी पढ़ें - मैहर में दिखे तीन अज्ञात पैराग्लाइडर, इलाके में फैला हड़कंप, जांच में जुटा प्रशासन

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
भाजपा पार्षद पर आर्थिक सहायता के बहाने महिला से दुष्कर्म का लगा आरोप, एक्टिव हुई पुलिस
सागर में एक दर्जन से ज्यादा स्कूली बच्चों ने खाया रतनजोत का बीज, हालत खराब होने पर अस्पताल में भर्ती
167 year old tradition was followed in Rewa Tajia was taken out on the day of Moharram know the history of Moharram month of islam religion
Next Article
रीवा में निभाई गई 167 साल पुरानी परंपरा, मोहर्रम के दिन निकाली गई ताजिया, जानें इन दिन का इतिहास
Close
;