विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 31, 2023

MP Election: छतरपुर में बागियों ने बदले चुनावी समीकरण, जानिए किन नेताओं की साख है खतरे में...

इस बार का चुनाव छतरपुर के कई नेताओं का राजनीतिक भविष्य तय करने वाला है. पूर्व मंत्री ललिता यादव और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के बेहद करीबी अरविंद पटैरिया का राजनीतिक भविष्य दांव पर माना जा रहा है.

MP Election: छतरपुर में बागियों ने बदले चुनावी समीकरण, जानिए किन नेताओं की साख है खतरे में...
फाइल फोटो

Madhya Pradesh Assembly Election 2023: बुंदेलखंड का छतरपुर जिला (Chhatarpur district) संपन्न होते हुए भी विकास में पिछड़ा है. यहां बेरोजगारी, कुपोषण, अशिक्षा, पलायन जैसी समस्याएं बाकी इलाकों से ज्यादा है. राजनीतिक दल हर बार इन्हीं मुद्दों पर चुनाव लड़ते हैं, लेकिन मतदान के ठीक पहले जातीय समीकरण (Caste equation in Election) हावी हो जाता है. इस बार भी दल से ज्यादा जातियों को साधने में प्रत्याशी जोर लगा रहे हैं. जातीय समीकरणों के चलते समाजवादी पार्टी (SP) और बसपा (BSP) भी ताकत दिखा रही है. दोनों ही दलों को वोट कटवा माना जाता है.

2018 में कांग्रेस ने जिले में जीतीं थी 4 सीटें

2018 के चुनाव में जिले की छः विधानसभा सीटों में से चार पर कांग्रेस विजयी हुई थी. बिजावर सीट (Bijawar Assembly Seat) समाजवादी पार्टी के खाते में गई थी, जबकि चंदला विधानसभा (Chandla Assembly Seat) से भाजपा प्रत्याशी की जीत हुई थी, लेकिन सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के बाद बड़ामलहरा (Bada Malhara Assembly Seat) और बिजावर विधायक भाजपा में शामिल हो गए थे. इस बार के चुनाव में एक बार फिर यही सवाल है कि क्या कांग्रेस 2018 में प्रदर्शन दोहरा पाएगी?

बागी नेताओं ने मुकाबले को बनाया दिलचस्प

छतरपुर (Chhatarpur Assembly Seat) से कांग्रेस ने आलोक चतुर्वेदी (Alok Chaturvedi) को फिर से उतारा है. उनके सामने भाजपा से ललिता यादव (Lalita Yadav) हैं. बिजावर में सीधी टक्कर कांग्रेस और भाजपा में है, तो वहीं सपा से भाजपा की पूर्व विधायक रेखा यादव (Rekha Yadav) के मैदान में उतरने से मुकाबला दिलचस्प हो गया है. महाराजपुर (Maharajpur Assembly Seat) में कांग्रेस से नीरज दीक्षित (Neeraj Dixit) तो भाजपा से पूर्व मंत्री भंवर राजा के बेटे कामाख्या प्रताप सिंह (Kamakhya Pratap Singh) चुनावी मैदान में हैं. इस सीट पर भाजपा को आंतरिक विरोध भी झेलना पड़ रहा है, वहीं कांग्रेस खेमे से बागी होकर दौलत तिवारी (Daulat Tiwari) ने भी मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है. 

कई नेताओं का राजनीतिक भविष्य दांव पर

बड़ामलहरा में भाजपा से प्रदुम्न सिंह लोधी (Pradyumna Singh Lodhi) और कांग्रेस की रामसिया भारती (Ramsiya Bharti) में सीधी टक्कर मानी जा रही है. राजनगर (Rajnagar Assembly Seat) में वीडी शर्मा (VD Sharma) के करीबी अरविंद पटेरिया (Arvind Pateriya) और कांग्रेस से विक्रम सिंह नाती राजा (Vikram Singh Nati Raja) मैदान में हैं. भाजपा के बागी और पूर्व जिलाध्यक्ष घासीराम पटेल (Ghasi Ram Patel) परिणाम को रोचक बनाने में लगे हैं. चंदला में भाजपा ने सिटिंग एमएलए की टिकट काटकर दिलीप अहिरवार (Dilip Ahirwar) को उतारा है, तो कांग्रेस ने परंपरागत प्रत्याशी हरप्रसाद अनुरागी उर्फ गोपी मास्टर (Harprasad Anuragi Gopi Master) को टिकट दिया है. इस बार का चुनाव छतरपुर के कई नेताओं का राजनीतिक भविष्य तय करने वाला है.

वीडी शर्मा के करीबियों को मिला टिकट

पूर्व मंत्री ललिता यादव और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के बेहद करीबी अरविंद पटैरिया का राजनीतिक भविष्य दांव पर माना जा रहा है. 2018 में बड़ामलहरा से भाजपा की प्रत्याशी रहीं ललिता यादव हार गई थी. इस बार परम्परागत छतरपुर सीट से लड़ रही हैं. अगर वे इस बार भी चुनाव नहीं जीतती तो उनका राजनीतिक भविष्य संकट में पड़ सकता है. राजनगर से भाजपा के अरविंद पटैरिया पिछला चुनाव हार कर भी दूसरी बार प्रत्याशी बनाए गए हैं. प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की साख दांव पर है. भारी विरोध होने के बावजूद भी अरविंद पटैरिया को भाजपा ने प्रत्याशी बनाया है. संघ से लेकर भाजपा का आला कमान इस सीट को जिताने के ऐड़ी चोटी का जोर लगाए हुए है.

बिजावर में बाहरी प्रत्याशी बड़ा मुद्दा

बिजावर में भाजपा ने राजेश बबलू शुक्ला (Rajesh Bablu Shukla) को प्रत्याशी बनाया है, वहीं कांग्रेस से चरण सिंह यादव (Charan Singh Yadav) मैदान में हैं. माना जा रहा था कि जनता 20 साल की भाजपा सरकार से ऊब गई है. राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है यह सीट कांग्रेस आसानी से जीत सकती थी, लेकिन बाहरी प्रत्याशी को कांग्रेस ने मैदान में उतारा है. जिसके कारण यहां विरोध हो रहा है. यहां यह मुद्दा तूल पकड़े हुए है. हालांकि, भाजपा में भी विरोध देखने को मिला, भाजपा की दो बार विधायक रही रेखा यादव ने बगावत कर चुनावी मैदान में उतरकर मुकाबला त्रिकोणीय बना दिया है. रेखा यादव की बगावत से भाजपा को भारी नुकसान झेलना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें - MP Elections: BJP पर प्रदीप जैन का करारा हमला, शिवराज सरकार को बताया "चोर सरकार"

ये भी पढ़ें - Indore News : बीजेपी प्रत्याशी कैलाश विजयवर्गीय का आरोप- हमेशा आतंकवाद का साथ देती है कांग्रेस

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बिना जानकारी दिए बहू की लाश को फूंक रहे थे ससुराल वाले, सूचना मिलते ही परिजन चिता से खींच लाए शव
MP Election: छतरपुर में बागियों ने बदले चुनावी समीकरण, जानिए किन नेताओं की साख है खतरे में...
Plea of ​​the poor farmer was heard recognition of this school was cancelled in the case related to NCERT book and private publication book
Next Article
MP News: सुन ली गई गरीब किसान की गुहार! NCERT Book से जुड़े मामले में इस स्कूल की मान्यता कर दी गई निरस्त
Close
;