विज्ञापन
Story ProgressBack

Eid 2024:50 साल अनूठी परंपरा निभा रहा है इंदौर का हिंदू परिवार, शहर काजी को अपनी बग्घी से लाते-ले जाते हैं ईदगाह

Eid al-Fitr 2024: मध्य प्रदेश के इंदौर में ईद के मौके पर हिंदू-मुस्लिम एकता और भाईचारा का मिसाल पेश किया जा रहा है. ये मिसाल 50 साल से एक हिंदू परिवार के द्वारा पेश किया जा रहा है.

Read Time: 2 mins
Eid 2024:50 साल अनूठी परंपरा निभा रहा है इंदौर का हिंदू परिवार, शहर काजी को अपनी बग्घी से लाते-ले जाते हैं ईदगाह
मध्य प्रदेश के इंदौर में हिंदू-मुस्लिम एकता का अनोखा नजारा.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के इंदौर (Indore) शहर में ईद (Eid al-Fitr 2024) के मौके पर हर साल गंगा जमनी तहजीब का एक अनोखा नजारा देखने को मिलता है. यहां एक हिंदू परिवार हर साल ईद के मौके पर शहर काजी को उनके घर से पूरे सम्मान के साथ बग्घी पर बैठाकर मुख्य ईदगाह (Idgah) ले जाता है और सामूहिक नमाज के बाद वापस छोड़ता है. 

एकता और भाईचारे की मिसाल पेश करते सलवाड़िया परिवार

स्थानीय नागरिक सत्यनारायण सलवाड़िया ने बताया कि ये परंपरा उनके पिताजी के समय से चली आ रही है, जब शहर काजी डॉक्टर इशरत अली साहब के पिताजी शहर के काजी थे. इसी तरह उनके पिता भी उन्हें बग्घी पर बैठा कर मुख्य ईदगाह ले जाते थे और सामूहिक नमाज के बाद वापस छोड़ते थे. उन्होंने बताया कि हमारे परिवार का बस यही मकसद है कि हिंदू-मुस्लिम एकता और भाईचारा कायम रहे. यह सिर्फ हमारे देश में ही होता है, जब सभी मिल जुलकर एक दूसरे का त्यौहार मनाते हैं. 

ये भी पढ़े: MI vs RCB: आज मुंबई और बेंगलुरु के बीच होगी भिड़ंत, जानें वानखेड़े की पिच पर किसका होगा राज?

50 साल से चली आ रही ये परंपरा

परंपरा के तहत शहर काजी मोहम्मद इशरत अली को उनके राजमोहल्ला स्थित घर से बग्घी पर बैठाकर सदर बाजार के मुख्य ईदगाह लाया गया और सामूहिक नमाज के बाद उन्हें वापस छोड़ा जाएगा. दरअसल, सत्यनारायण सलवाड़िया के पिता रामचंद्र सलवाड़िया ने ये परम्परा करीब 50 साल तक निभाई. हालांकि उनका साल 2017 में निधन हो गया, जिसके बाद से ये परंपरा सत्यनारायण सलवाड़िया खुद निभा रहे हैं.

इंदौर में गंगा जमुना तहजीब का अनोखा नजारा पेशकश

शहर काजी डॉक्टर इशरत अली ने बताया कि देश में मोहब्बत कायम है. राजनीतिक चश्मे से देखने पर हिंदू मुस्लिम लड़ते हुए नजर आएंगे, लेकिन जब सामाजिक चश्मे से देखते हैं तो उनमें कोई फर्क नजर नहीं आएगा. गंगा जमुना तहजीब का ये नजारा इंदौर में ही देखने को मिलता है.

ये भी पढ़े: EID 2024: सजदे में झुके सिर, गले मिल दी मुबारकबाद... MP में यूं मनाई गई ईद

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
किसानों के हित में CM मोहन का ऐलान, डिजिटल क्रॉप सर्वे जल्द करें शुरु, MSP के लिए थैंक यू मोदी जी
Eid 2024:50 साल अनूठी परंपरा निभा रहा है इंदौर का हिंदू परिवार, शहर काजी को अपनी बग्घी से लाते-ले जाते हैं ईदगाह
NEET Row: NEET exam issue will be raised in Parliament, opposition demands CBI investigation, Modi Government Union Education Minister denies corruption
Next Article
संसद में गूंजेगा NEET Exam का मामला, विपक्ष ने की CBI जांच की मांग, सरकार ने भ्रष्टाचार से किया इनकार
Close
;