विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 20, 2023

कांग्रेस प्रत्याशी पर हमले को लेकर थाने पहुंचे दिग्विजय सिंह, एडिशनल एसपी को सौंपा ज्ञापन

दिग्विजय सिंह करीब 3 घंटे तक थाने में बैठे रहे. उन्होंने कहा कि परसों रात में जो घटना हुई, वह एक सुनियोजित षड्यंत्र था. उन लोगों से अपराध कराया गया जिनका फरियादी से कोई लेना-देना नहीं था.

Read Time: 3 mins
कांग्रेस प्रत्याशी पर हमले को लेकर थाने पहुंचे दिग्विजय सिंह, एडिशनल एसपी को सौंपा ज्ञापन
कांग्रेस प्रत्याशी पर हमले को लेकर थाने पहुंचे दिग्विजय सिंह

Digvijay Singh News: सागर जिले के गढ़ाकोटा में हुए बवाल के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Formor CM Digvijay Singh) गढ़ाकोटा थाने पहुंचे. उन्होंने थाने में कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति पटेल (Congress Candidate Jyoti Patel) और कार्यकर्ताओं के साथ हुए घटनाक्रम को लेकर एडिशनल एसपी लोकेश सिन्हा को ज्ञापन सौंपा और मामले की जांच कर निष्पक्ष कार्रवाई करने की बात कही. इस दौरान दिग्विजय सिंह ने कहा कि परसों रात की घटना एक सुनियोजित षड्यंत्र था. 

सागर जिले की रहली विधानसभा में हुए बवाल को लेकर दिग्विजय सिंह बीती रात गढ़ाकोटा पहुंचे. यहां उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ता अर्जुन सिंह ठाकुर के घर में हुई तोड़फोड़ की घटना की जानकारी ली. सुबह उन्होंने रेस्ट हाउस में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की जहां से वह गढ़ाकोटा थाना पहुंचे. उन्होंने एडिशनल एसपी लोकेश सिन्हा को ज्ञापन सौंपा और तथ्यों के आधार पर जांच कर निष्पक्ष कार्रवाई की मांग की.

यह भी पढ़ें : MP Election 2023: 'क्या हम मान लें कि MP में कानून का राज नहीं है?' कांग्रेसियों के खिलाफ हिंसा पर भड़के कमलनाथ

घटना को बताया 'सुनियोजित षड्यंत्र'

दिग्विजय सिंह करीब 3 घंटे तक थाने में बैठे रहे. उन्होंने कहा कि परसों रात में जो घटना हुई, वह एक सुनियोजित षड्यंत्र था. उन लोगों से अपराध कराया गया जिनका फरियादी से कोई लेना-देना नहीं था. उन्होंने कहा, 'गाड़ियां तोड़ दीं, दुकान में घुसकर मारपीट की, एक व्यक्ति की नाक टूट गई, एक व्यक्ति के हाथ-पैर टूट गए लेकिन पुलिस ने साधारण अपराध दर्ज कर लिया. जो चार लोग पकड़े गए वे घटना में शामिल भी नहीं थे. पूरे केस को रफादफा करने का प्रयास किया गया लेकिन कांग्रेस पार्टी दृढ़ता से मुकाबला करती आई है और करेगी.'

यह भी पढ़ें : MP Election 2023: रहली से कांग्रेस-BJP उम्मीदवारों ने एक-दूसरे पर लगाए हत्या की साजिश के आरोप

'गोपाल भार्गव से यह उम्मीद नहीं थी'

दिग्विजय सिंह ने कहा, 'मैं इस बात से बहुत दुखी हूं. गढ़ाकोटा गोपाल भार्गव का गृह नगर है. वहां जिस तरह की शिकायत मुझे मिल रही है वह चौंकाने वाली है. झूठे प्रकरण बनाए जा रहे हैं. जिला बदल की कार्रवाई हो रही है. पूरे तरीके से लोगों को परेशान किया जा रहा है. मुझे गोपाल भार्गव से यह उम्मीद नहीं थी. मैं 10 साल मुख्यमंत्री रहा हूं. एक भी भाजपा का नेता, कार्यकर्ता कह दे कि मैंने कभी बदतमीजी या अन्याय किया. 

पूरे मामले में एडिशनल एसपी लोकेश सिन्हा ने कहा कि राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह आए थे. उन्होंने ज्ञापन दिया है. 18-19 तारीख की रात की जो घटना थी उस संबंध में ज्ञापन दिया गया है. ज्ञापन के आधार पर जो भी नए साक्ष्य और तथ्य सामने आ रहे हैं उन पर जांच कर आगामी कार्रवाई की जाएगी.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
6 दिन में लाश कैसे बनी कंकाल ? शिनाख्त के बाद भी नहीं सुलझी गुत्थी
कांग्रेस प्रत्याशी पर हमले को लेकर थाने पहुंचे दिग्विजय सिंह, एडिशनल एसपी को सौंपा ज्ञापन
aadhaar-ration-card-linking-date-extended-know-how-to-link-ration-card-with-aadhar-card-online-aadhar-ko-ration-card-se-kaise-link-kare
Next Article
Aadhaar-Ration Card Linking: आपका राशन कार्ड आधार से नहीं है लिंक तो इस तारीख तक जरूर कर लें ये काम
Close
;