विज्ञापन
Story ProgressBack

MP की राजधानी भोपाल में 8 साल की मासूम का दुष्कर्म, CM ने कहा-SIT करेगी जांच, स्कूल पर लगे ये आरोप, अब सियासत शुरू

Bhopal Rape Case: प्रदेश की राजधानी से एक 8 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. मामले में बच्ची के स्कूल की संचालक ने अपनी तरफ से सफाई दी. पूरे मामले को लेकर सीएम मोहन यादव ने संज्ञान लेते हुए कड़ाई से जांच करने के निर्देश दिए है. वहीं, मामले को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है.

Read Time: 7 mins
MP की राजधानी भोपाल में 8 साल की मासूम का दुष्कर्म, CM ने कहा-SIT करेगी जांच, स्कूल पर लगे ये आरोप, अब सियासत शुरू

Bhopal Crime News: राजधानी भोपाल में एक 8 साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म (Rape Case) करने का मामला सामने आया है. दुष्कर्म का जिस पर आरोप लगा है वह स्कूल का मालिक बताया जा रहा है. यह स्कूल एक बोर्डिंग स्कूल है जिसमें हॉस्टल भी है. स्कूल में कुछ दिन पहले मां ने अपनी बच्ची का दाखिला कराया था. मामले में स्कूल संचालक (School Operator) ने अपनी तरफ से सफाई दी. उनका कहना है कि जो आरोप लग रहे हैं वह बेबुनियाद है. वहीं, दूसरी तरफ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव (Dr. Mohan Yadav) ने एसआईटी टीम (SIT Team) का गठन कर गहराई से जांच करने के आदेश दिए है. इसके बाद प्रदेश में मामले को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है.

बच्ची की मां ने बताया पूरा घटना क्रम

बच्ची ने फोन पर अपनी मां को बताया कि उसके प्राइवेट पार्ट में दर्द हो रहा है और ब्लीडिंग भी हुई है. मां अपनी बच्ची को घर लेकर आई तब बच्ची ने अपनी आपबीती सुनाई तो मां के पैरों के नीचे से जमीन निकल गई. बच्ची ने अपनी मां को बताया कि वार्डन ने मुझे खाना खाने के बावजूद भी अलग कमरे में ले जाकर दाल चावल खिलाएं जिसके बाद मुझे नींद आ गई. मेरी जब आंख खुली तो एक अंकल मेरे दोनों हाथ पकड़ कर मेरे ऊपर लेटे हुए थे. मेरे पेट में और बॉडी में दर्द हो रहा था. पड़ोस में कोई अंकल थे वह कह रहे थे मोदी सर जल्दी करो बच्ची जाग गई है. स्कूल वार्डन ने कहा कि किसी को बताना नहीं और उन्होंने मुझे नहला धुलाकर मेरे क्रीम लगा दी और कहा कि अब दर्द नहीं होगा. मां ने बताया कि अपनी बेटी की आप बीती सुनने के बाद मैं उसको लेकर 1250 अस्पताल पहुंची जहां पर उसने उसका चेकअप कराया तो महिला डॉक्टर ने उसको बताया कि इसके प्राइवेट पार्ट पर इंजरी है. डॉक्टर ने उसे पुलिस में रिपोर्ट करने की सलाह दी.

स्कूल संचालक पर लगे गंभीर आरोप

मां ने बताया कि जब वह अस्पताल से चेकअप करा कर निकल रही थी उसे दौरान स्कूल संचालक का एक करीबी, जो उसका भी परिचित था, उसके पास आया और ले देकर समझौता करने की बात कहने लगा. मां ने उसकी बात नहीं मानी और मिसरोद थाना में इसकी शिकायत की. पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए वार्डन सहित तीन लोगों पर मामला दर्ज कर लिया है.मां का स्कूल और हॉस्टल वार्डन पर आरोप है कि उन्होंने बच्ची को डराया-धमकाया और बच्ची से बोला कि आप स्कूल में किसी को कुछ नहीं बताओगी अगर बताओगी तो हम आपकी मम्मा से आपकी बात नहीं कराएंगे. बच्ची ने कंटिन्यूली कहा कि मेरी मम्मा से मेरी बात कराओ तो उन्होंने कहा कि नहीं हम संडे से पहले आपकी बात नहीं करा सकते.

स्कूल संचालक ने दी सफाई

स्कूल संचालक प्रियंका मोदी ने मामले में सफाई देते हुए कहा कि मैं स्कूल की डायरेक्टर होने के नाते यह चाहती हूं कि इस केस की इन्वेस्टीगेशन हो और  इन्वेस्टिगेशन में जो चीज सामने निकल कर आएगी वह हम लोग को भी अच्छा लगेगा. क्योंकि  हम लोग 28 साल से स्कूल को रन कर रहे हैं, लेकिन आज तक कोई भी ऐसी घटना सामने नहीं आई है. जिस महिला ने आरोप लगाया है उसने कोई लीगल डाक्यूमेंट्स हमारे पास जमा नहीं किए हैं. 19 तारीख को एडमिशन आया और 29 तारीख को वह हंसी खुशी हमारे यहां से बच्ची को लेकर गई है. बच्ची ने अच्छे से बात की और वार्डन से कहा कि हमें ऑनलाइन पढाना. पुलिस ने जैसे ही सीसीटीवी का डाटा और अन्य जानकारी मांगी हमने इस समय उनको सब कुछ अवेलेबल करा दिया. हम चाहते हैं कि पुलिस अच्छे से इन्वेस्टिगेशन करें और उस महिला का भी पता करें कि जो इतनी धारा लगी हुई है वह ऐसा क्यों कर रही है.

Police on Bhopal Rape Case

Police on Bhopal Rape Case

पुलिस ने किया मामला दर्ज

थाना प्रभारी मनीष भदौरिया ने मामले को लेकर बयान देते हुए कहा कि पॉक्सो एक्ट और धारा 376 के तहत केस दर्ज किया गया है. मेडिकल और बयान दर्ज करने की प्रक्रिया चल रही है. घटना की जांच और साक्ष्य एकत्रित करने के लिए अलग-अलग टीमों का गठन किया गया है. स्कूल सीसीटीवी फुटेज भी खंगाली जा रही है. स्कूल का रजिस्टर भी जब्त कर लिया गया है.

सीएम ने लिया संज्ञान

प्रदेश की राजधानी भोपाल में बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने संज्ञान लिया इससे जुड़े जरूरी निर्देश दिए. सीएम ने एसआईटी टीम गठित कर इसकी जांच करने के निर्देश जारी किए. जिसके तुरंत बाद टीम का गठन कर दिया गया. मामले में एसीपी मिसरोद की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया. बच्ची का मेडिकल करने के बाद सेक्सुअल असॉल्ट का अपराध पंजीबद्ध किया गया.

ये भी पढ़ें :- शर्मनाक! इटली की टूरिस्ट से MP में फ्रॉड, दोस्ती कर खजुराहों में पार की विदेशी मुद्रा यूरो, ये रही कहानी

जीतू पटवारी ने लगाए आरोप

बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में जीतू पटवारी ने सरकार को घेरा. उन्होंने कहा, 'अभी 10 साल की बच्ची के साथ भाजपा नेताओं ने झाबुआ के जोबट में रेप किया.मैं उसके परिवार से मिलकर आया तो मुझ पर ही सरकार ने FIR कर दिया. भोपाल में 8 साल की बच्ची के साथ रेप हुआ है, क्या आप जागोगे. प्रदेशवासियों देखो, जिन बेटियों के साथ रेप होता है उनके परिवार वालों से मिलने पर यह FIR करते हैं. यह अहंकार की पराकाष्ठा नहीं है तो क्या है. 30 साल में सबसे ज्यादा अगर कहीं क्राइम हो रहा है तो वह मध्य प्रदेश में हो रहा है.

कांग्रेस मीडिया विभाग अध्यक्ष मुकेश नायक ने की प्रेस वार्ता

भोपाल में स्कूल हॉस्टल में 8 साल की बच्ची के साथ हुई ज्यादती के मामले को लेकर कांग्रेस प्रदेश मीडिया अध्यक्ष मुकेश नायक ने एक प्रेस वार्ता की. उन्होंने कहा कि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के अनुसार छेड़छाड़ और ज्यादती के मामलों में मध्य प्रदेश नंबर वन है. झाबुआ में जो घटना हुई उसके तार भारतीय जनता पार्टी के रिश्तेदारों से जुड़े हुए हैं. मुकेश नायक ने आरोप लगाया कि मामले का आरोपी बीजेपी से जुड़ा हुआ है. उन्होंने कहा कि घटना की गहराई से जांच होनी चाहिए, जिससे दूध का दूध और पानी का पानी हो जाए. जो दोषी हो उसे कठोर दण्ड दिया जाए.

पूर्व सीएम कमलनाथ ने किया ट्वीट 

प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने मामले को लेकर एक पोस्ट शेयर किया. उन्होंने लिखा, 'भोपाल में छोटी बच्ची के साथ दरिंदगी की घटना दिल दहला देने वाली है. अभी कुछ दिन पहले ही जोबट में भी छोटी बच्ची के साथ दुष्कृत्य का मामला सामने आया था. प्रदेश में बेटियों के साथ हो रही इस तरह की ज़्यादती सभ्य समाज के माथे पर कलंक है. लेकिन दुर्भाग्य यह है कि मध्य प्रदेश की सरकार बेटियों को सुरक्षा देने और अपराधियों को कड़ा से कड़ा दंड देने की जगह उन लोगों पर कार्रवाई करती है जो पीड़ितों के साथ सहानुभूति व्यक्त करते हैं.'

ये भी पढ़ें :- Chhattisgarh: ड्राई-आइस खाने से बच्चे की मौत, शादी समारोह में बर्फ समझकर निगल गया मासूम

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
प्रचंड गर्मी में बारिश की फुहार! मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ ने ली राहत की सांस...
MP की राजधानी भोपाल में 8 साल की मासूम का दुष्कर्म, CM ने कहा-SIT करेगी जांच, स्कूल पर लगे ये आरोप, अब सियासत शुरू
Tribal Students Shine in NEET Overcoming Odds to Achieve Success
Next Article
आदिवासी समाज के 26 बच्चों ने किया कमाल, NEET की परीक्षा में मारी बाजी
Close
;