विज्ञापन
Story ProgressBack

जानिए अनोखे मंदिर के बारें में, जहां भैरव और भवानी हैं एक ही गद्दी पर, यहां माता के दिन में दिखते हैं तीन रूप

Navratri: इस मंदिर में माता का नरसिंह रूप है और इसी रूप के नाम से अपभ्रंश होकर गांव का नाम नालछा पड़ा है, नवरात्रि (Navratri Puja) में इस मंदिर में भक्तों का तांता लगा रहता है, आइयें विस्तार से जानते हैं इस मंदिर (Mandsaur Temple) के बारे में.... 

Read Time: 2 mins
जानिए अनोखे मंदिर के बारें में, जहां भैरव और भवानी हैं एक ही गद्दी पर, यहां माता के दिन में दिखते हैं तीन रूप
Navratri Special: जानिए एक अनोखे मंदिर के बारे में

Naalcha Mata Mandir: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मंदसौर (Mandsaur) का प्रसिद्ध नालछा माता मंदिर, यह मंदिर अपने अनोखेपन की वजह से प्रसिद्ध है. यह एकमात्र ऐसा मंदिर है जहां भैरव और भवानी एक ही गद्दी पर विराजित हैं. यहां माता का नरसिंह रूप है और इसी रूप के नाम से अपभ्रंश होकर गांव का नाम नालछा पड़ा है. आप भी यदि इस चैत्र नवरात्रि में माता के दर्शन करने की सोच रहे हैं तो मंदसौर के नालछा मंदिर ज़रूर जाएं. नवरात्रि (Navratri Puja) में इस मंदिर में भक्तों का तांता लगा रहता है, आइयें विस्तार से जानते हैं इस मंदिर (Mandsaur Temple) के बारे में.... 

तीन रूप में परिवर्तित होती है प्रतिमा

यहां माता की प्रतिमा दिन में तीन रूप परिवर्तित करती है सुबह बाल्यावस्था दिन में युवावस्था और शाम को वृद्धावस्था की झलक प्रतिमा में दिखाई देती है, जिसे देखने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग पहुंचते हैं और माता का आशीर्वाद लेते हैं.

माता भरती है सूनी गोद

माता के दरबार में गोद भराई की रस्म की जाती है, कहा जाता है कि जो महिलायें सूनी गोद लेकर मां से संतान की मांग करती हैं, माता उनकी अवश्य सुनती है.

राजा दशरथ ने किया था स्थापित

श्रद्धालु नरेश चंदवानी ने बताया की इस मंदिर के बारे में किवदंती है कि यह मंदिर राजा दशरथ ने स्थापित किया था,पास में ही श्रवण नाला बहता है, बताया जाता है कि श्रवण कुमार की गलती से हुई हत्या के प्रायश्चित के रूप में इस मंदिर की स्थापना की गई थी. इस मंदिर में दर्शन कर मनोकामना मांगने वाले सभी श्रद्धालुओं की समस्त मनोकामनाएं पूर्ण होती है.

मंदिर के पुजारी पंडित संजय ने बताया की इस मंदिर में रोजाना कई तरह के अनुष्ठान किए जाते हैं, नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना के साथ ही माता की आराधना के उत्सव की शुरुआत हुई जिसमें सैकड़ो श्रद्धालु सम्मिलित हुए.


यह भी पढ़ें: Chaitra Navratri Fasting Tips: नवरात्रि में व्रत के दौरान खुद को हाइड्रेट रखने के लिए इन टिप्स को करें फॉलो

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
World Blood Donor Day 2024: पहली बार डॉग को चढ़ाया गया था ब्लड, जानिए कौन किसे दे सकता है रक्त
जानिए अनोखे मंदिर के बारें में, जहां भैरव और भवानी हैं एक ही गद्दी पर, यहां माता के दिन में दिखते हैं तीन रूप
Akshay Tritiya Yog: This will happen after 23 years, this time Shehnai will not resonate on Akshaya Tritiya 2024
Next Article
Akshaya Tritiya 2024: इस बार अक्षय तृतीया पर नहीं होगा शहनाई-ढ़ोल का शोर, 23 साल बाद बन रहा ऐसा याेग
Close
;