विज्ञापन
Story ProgressBack

Chaitra Navratri 2024: नवरात्रि में फॉलो करें ये वास्तु टिप्स, जीवन से दूर हो जाएगी सारी परेशानी

Chaitra Navratri 2024 Date: इस साल चैत्र नवरात्रि 9 अप्रैल से शुरू होगी और उसका समापन 17 अप्रैल को होगा. पंडित दुर्गेश ने नवरात्रि में किए जाने वाले कुछ वास्तु टिप्स (Vastu tips for navratri) की जानकारी दी है, हम आपको बताते हैं कि इस नवरात्रि माता की विशेष कृपा पाने के लिए आपको क्या करना चाहिए....

Read Time: 3 mins
Chaitra Navratri 2024: नवरात्रि में फॉलो करें ये वास्तु टिप्स, जीवन से दूर हो जाएगी सारी परेशानी

Navratri Vastu Tips: पूरे देश में नवरात्रि का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. नवरात्रि का अर्थ है नौ रातें और माता दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा-अर्चना. इस पर्व को माता दुर्गा के पूजन के लिए समर्पित किया जाता है. वैसे तो नवरात्रि साल में 4 बार आती है, लेकिन दो नवरात्रि की तिथि सबसे ख़ास मानी जाती है. इनमें से सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण चैत्र और आश्विन महीने की शारदीय नवरात्रि है. चैत्र नवरात्रि (Chaitra navratri) चैत्र के महीने में मनाई जाती है और इसमें माता दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा-अर्चना (Durga puja) की जाती है. इस साल चैत्र नवरात्रि 9 अप्रैल से शुरू होगी और उसका समापन 17 अप्रैल को होगा. पंडित दुर्गेश ने नवरात्रि में किए जाने वाले कुछ वास्तु टिप्स (Vastu tips for navratri) की जानकारी दी है. हम आपको बताते हैं कि इस नवरात्रि माता की विशेष कृपा पाने के लिए आपको क्या करना चाहिए?

पुरानी चीजों को करें बाहर
नवरात्रि की शुरुआत नौ अप्रैल से होगी. इससे पूर्व ही आप अपने घर की साफ-सफ़ाई कर लें. हर एक वस्तु और स्थान को व्यवस्थित करे लें. यदि घर में कोई भी पुराने कपड़े, फ़र्नीचर, किताबें रखी है, तो उसे तुरंत ही घर से बाहर कर दें, ऐसा करने से समृद्धि के द्वार खोलते हैं.

दिशा का रखें ध्यान
नवरात्रि के दौरान माता दुर्गा की मूर्ति की दिशा बहुत मायने रखती है. ऐसे में इस बात का ध्यान रखें कि गलत दिशा में माता की चौकी की स्थापना न करें. यदि गलत दिशा में मूर्ति रखी है,तो भूलकर भी वह माता दुर्गा की पूजा न करें. पहले उसे सही स्थान पर विराजित करें, उसके बाद पूजा करें.

चौकी में करें स्थापना
नवरात्रि के पहले दिन देवी दुर्गा की मूर्ति को घर के मंदिर के पूर्वोत्तर कोने में स्थापित करना चाहिए. कहा जाता है कि ऐसा करने से पूजा का प्रभाव बढ़ जाता है और यह बेहद शुभ माना जाता है. वहीं, माता दुर्गा की मूर्ति कभी भी जमीन पर न रखें. हमेशा चौकी में ही स्थापित करें और इस बात का ध्यान रखेंगे कि चौकी पर मूर्ति के अलावा कोई भी सामग्री न रखें.

मुख पूर्व दिशा या उत्तर दिशा की तरफ रखें
नवरात्रि के दौरान भक्तों को देवी मां का पूजन करते समय मुख पूर्व दिशा या उत्तर दिशा की तरफ रखना चाहिए. कहा जाता है कि पूर्व दिशा शक्ति और साहस से जुड़ी हैं. यदि आप इस दिशा की तरफ बैठकर पूजा करते हैं, तो ये लाभकारी होगा.

आम के पत्तों का तोरण बनाएं
घर में सुख-समृद्धि लाने के लिए नवरात्रि के पहले दिन आम और अशोक के पत्तों की माला बनाकर मुख्य द्वार पर बांधें. माना जाता है कि ये सभी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने में मदद करता है. 

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी ज्योतिष व लोक मान्यताओं पर आधारित है. इस खबर में शामिल सूचना और तथ्यों की सटीकता के लिए NDTV किसी भी तरह की ज़िम्मेदारी या दावा नहीं करता है.)

यह भी पढ़ें: Chaitra Navratri 2024: क्यों की जाती है कलश स्थापना? जानिए इसके महत्व को

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Jyeshtha Purnima 2024: ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा आज, क्यों की जाती है वट की पूजा? जानें पूजाविधि और महत्व
Chaitra Navratri 2024: नवरात्रि में फॉलो करें ये वास्तु टिप्स, जीवन से दूर हो जाएगी सारी परेशानी
The smell of sweat comes even after applying perfume, take help from these home remedies
Next Article
Perfume गर्मी में पसीने की बदबू से हैं परेशान तो अपनाइए ये घरेलू नुस्खे...
Close
;