विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jul 30, 2023

खंडवा : पानी में तैरती हुई निकाली अनोखी कावड़ यात्रा, PM मोदी भी कर चुके हैं इस ग्रुप की सराहना

खंडवा के गणगौर घाट पर 'लहरों के राजा' ग्रुप द्वारा सावन के महीने में रविवार के दिन विशेष कावड़ यात्रा निकाली गई. यह कावड़ यात्रा आस्था और भक्ति के साथ पानी में तैरते हुए गणगोर घाट से प्राचीन भीमकुंड महादेव मंदिर तक पहुंची.

खंडवा : पानी में तैरती हुई निकाली अनोखी कावड़ यात्रा, PM मोदी भी कर चुके हैं इस ग्रुप की सराहना
तैराक ग्रुप ने पानी में तैरते हुए कावड़ यात्रा निकाली

खंडवा: देशभर में सावन के महीने में जगह-जगह कावड़ यात्रा निकाली जाती है. ऐसे में भगवान भोलेनाथ की आराधना के पवित्र माह सावन में आस्था के अलग-अलग रंग देखने को मिल रहे हैं. इस बीच मध्यप्रदेश के खंडवा में भी कावड़ यात्रा का नया अंदाज देखने को मिला. यहां पर एक तैराक ग्रुप ने पानी के अंदर तैरते हुए कावड़ यात्रा निकाली. इससे पहले भी खंडवा का यह तैराकी ग्रुप पानी में तैरते हुए तिरंगा यात्रा निकाल चुका है, जिसकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर सराहना की थी.  

ये भी पढ़ें- केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भगवान परशुराम की जन्म स्थली जानापाव में की पूजा-अर्चना

खंडवा के गणगौर घाट पर 'लहरों के राजा' ग्रुप द्वारा सावन के महीने में रविवार के दिन विशेष कावड़ यात्रा निकाली गई. यह कावड़ यात्रा आस्था और भक्ति के साथ पानी में तैरते हुए गणगोर घाट से प्राचीन भीमकुंड महादेव मंदिर तक पहुंची. 'लहरों के राजा' ग्रुप के तैराकी सदस्यों द्वारा भगवान भीमकुंड महादेव का देशभर की विभिन्न नदियों का जल लेकर जलाभिषेक किया गया.

ae9grps

पानी में तैरती हुई निकाली कावड़ यात्रा

इस कावड़ यात्रा में महिलाएं, बच्चे और युवा सम्मिलित हुए. 'लहरों के राजा' ग्रुप के राजकुमार सिसोदिया ने बताया कि 'लहरों के राजा' ग्रुप द्वारा कई वर्षों से गणगौर घाट पर तैराकी की प्रैक्टिस की जा रही है. हमारे ही द्वारा पहले पानी में तिरंगा यात्रा भी निकाली गई थी, जिसको लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी  ट्वीट कर ग्रुप के सदस्यों को बधाई दी थी.

 इसके साथ ही हमारे द्वारा योग दिवस पर पानी में तैरते हुए योग किया गया और अब उसके बाद ग्रुप के सभी सदस्यों ने मिलकर पानी पर तैराकी कर प्राचीन भीमकुंड तक पहुंचकर वहां स्थित भीम कुंड महादेव का जलाभिषेक किया. यह ऐसी कावड़ यात्रा थी जो पानी में तैरकर भीम कुंड महादेव पहुंची. जहां सभी सदस्यों ने भगवान शिव का जलाभिषेक किया और बोल बम के जयकारों के साथ भक्तों ने इस जलाभिषेक में शामिल होकर शहर, राज्य और देश के सुख-समृद्धि की कामना की.

tlhh7ji8

इस कावड़ यात्रा में महिलाएं, बच्चे और युवा सम्मिलित हुए

ये भी पढ़ें-केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भगवान परशुराम की जन्म स्थली जानापाव में की पूजा-अर्चना

पानी में तैरते हुए निकाली गई इस अनोखी जल कांवड़ यात्रा में भीमकुंड महादेव मंदिर पर सभी भक्तों द्वारा भगवान भोले के जयकारों के जयघोष के साथ भक्ति का अनोखा संगम देखने को मिला. पानी में तैरते हुए कांवड़ यात्रा निकालना अपने आप में बेहद कठिन माना जाता है. इस तरह कि यात्रा पहली बार खंडवा में निकाले जाने पर यात्रा से जुड़े संजय शर्मा का कहना है कि सावन महीने का अपना ही एक अलग महत्व है. हमने भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक कर शहर, राज्य और देश की सुख समृद्धि की कामना की. 
 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Khandwa News : पंजाब के राज्य मंत्री नवदीप पर हमला, खुद मामला दर्ज कराने पहुंचे थाने
खंडवा : पानी में तैरती हुई निकाली अनोखी कावड़ यात्रा, PM मोदी भी कर चुके हैं इस ग्रुप की सराहना
When the wife left, the man held the parents responsible, the merciless son beat both of them with a belt
Next Article
पत्नी छोड़ गई तो शख्स ने मां-बाप को ठहराया जिम्मेदार, बेरहम बेटे ने बेल्ट से की दोनों की पिटाई
Close
;