विज्ञापन
Story ProgressBack

आखिर किसकी गलती? पीएम आवास की नहीं मिली पूरी किस्त, नगर निगम के शौचालय में रहने को मजबूर है ये परिवार

People living in Toilet: चिरमिरी नगर निगम में एक ऐसा परिवार है जो मजबूरी में अपना कच्चा मकान छोड़कर क्षेत्र के सुलभ शौचालय में रहने को मजबूर है. बीते 15 साल से परिवार के लोग इस शौचालय में अपना जीवन बसर कर रहे हैं.

Read Time: 3 min
आखिर किसकी गलती? पीएम आवास की नहीं मिली पूरी किस्त, नगर निगम के शौचालय में रहने को मजबूर है ये परिवार
चिरमिरी नगर निगम में बना पक्का सुलभ शौचालय

Aawas Yojana in Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Aawas Yojana) के तहत जरूरतमंदों को पक्के आवास देने को लेकर कई दावे किए जा रहे हैं. लेकिन, इन दावों के बीच चिरमिरी नगर निगम के वार्ड नंबर 2 में एक ऐसा भी परिवार है जो शौचालय (Public Toilet) में रहने को मजबूर है. सुनने में बेशक यह अटपटा लगे लेकिन, यह सच्चाई है. लोगों की इस हालत से आवास योजना की जिले में हालत का पता चलता है. जिस सुलभ शौचालय में परिवार निवास कर रहा है, वह नगर निगम कार्यालय (Municipality Office) से करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.

सरकारी प्रोसेस में अटका है काम

मामला चिरमिरी नगर निगम के वार्ड नंबर 2 के गाड़ा बुढ़ा का है. यहां करीब 15 साल से एक परिवार निगम के बंद पड़े सुलभ शौचालय में रह रहा है. यह इस परिवार का शौक नहीं बल्कि मजबूरी है. वजह है, परिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिलने वाला घर सरकारी नियमों और कागजों की पेंच में फंसा हुआ है.

शुलभ शौचालय में रहने को मजबूर है परिवार

 सुलभ शौचालय में रहने को मजबूर है परिवार

छोटा पड़ रहा है अपना कच्चा घर

परिवार के पास वर्तमान में खुद की जमीन पर बना एक कच्चा घर है. इसमें माता-पिता, बहन सहित बाकी लोग रहते हैं. इस घर के छप्पर में कई जगह दरार है, इसलिए मजबूरी में परिवार निगम के बंद पड़े सुलभ शौचालय में निवास कर रहा है. जिस सुलभ शौचालय में  परिवार निवास कर रहा है, वह नगर निगम कार्यालय से करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.

योजना की किस्त पूरी नहीं मिली

ऐसा नहीं है कि परिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास नहीं मिला. आवास तो मिला है पर उसकी छत गायब है. अब परिवार आवास की छत के लिए इंतजार कर रहा है. दरअसल, परिवार को आवास योजना के तहत आवास स्वीकृत होने के बाद एक किस्त जारी की गई थी. परिवार की रैमूनिया बताती है कि एक किस्त मिलने के बाद डोर लेवल तक आवास का निर्माण कराया गया. इसमें किस्त कम पड़ने के कारण परिवार ने अपनी जमा पूंजी भी लगा दी.

आवास योजना में गड़बड़ी

नगर निगम चिरमिरी क्षेत्र में बनाए गए प्रधानमंत्री आवासों में गड़बड़ी होने की बात लगातार सामने आ रही है. यहां कुछ मकान निर्माणाधीन हैं तो कुछ कागजों पर ही पूरे कर लिए गए हैं. कई मकानों में लाल ईंट का प्रयोग किया गया है. कुछ घरों की किस्तें तो कुछ घरों के कागजों के पेंच फंसे हुए हैं. परिवार अब भी छत ढलाई का इंतजार कर रहा है.

ये भी पढ़ें :- NCB इंदौर के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, 655 किलोग्राम गांजा किया जब्त...उड़ीसा से लाया जा रहा था सागर

किसे परेशानियां सुनाएं

निगम के जिस सुलभ शौचालय में यह परिवार निवास कर रहा है वह करीब 15 साल से बंद पड़ा था. इस परिवार के सदस्यों ने इसे ही अपना आशियाना बनाया हुआ है. यहां ना तो बिजली की उचित व्यवस्था है और न ही पानी की, बावजूद इसके परेशानियों के बीच परिवार यहां बसर करने के लिए मजबूर हैं.

ये भी पढ़ें :- Maha Shivratri Special: एक्टर अरमान कोहली पहुंचे महाकाल की शरण में, केंद्रीय मंत्री दर्शना जरदोश ने भी लिया बाबा का आशीर्वाद

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close