विज्ञापन
Story ProgressBack

Loksabha Election : नक्सल इलाके में खतरों के बीच चुनाव करा लौटी पोलिंग पार्टी तो इस अंदाज में हुआ स्वागत, देखें तस्वीरें

Loksabha Election 2024 : बस्तर में शांतिपूर्वक चुनाव कराना सुरक्षा बलों और पोलिंग पार्टी के लिए किसी चुनौती से कम नहीं था. धुर नक्सल इलाकों के कुछ गांवों में पहली बार पोलिंग का बीड़ा उठाया गया. हेलीकॉप्टर से पोलिंग पार्टी भेजी गई. यहां शांतिपूर्वक चुनाव करा पार्टी लौटी तो बेहद अलग अंदाज में स्वागत किया गया. इसे देख हर किसी का सीना चौड़ा हो गया. 

Read Time: 3 mins
Loksabha Election : नक्सल इलाके में खतरों के बीच चुनाव करा लौटी पोलिंग पार्टी तो इस अंदाज में हुआ स्वागत, देखें तस्वीरें

First Phase Election Naxal Area: लोकसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग हो गई है. छत्तीसगढ़ की बस्तर लोकसभा सीट (Bastar Loksabha Seat) में शहर से लेकर धुर नक्सल इलाकों में भी बम्पर वोटिंग हुई है. इस बार चुनाव में नक्सलियों की धमकियां काम नहीं आईं और नक्सल इलाके में लोकतंत्र की जीत हुई. शुक्रवार की देर शाम तक जब धुर नक्सल इलाकों में चुनाव सम्पन्न कराकर हेलीकॉप्टर से पोलिंग पार्टियां वापस लौटी तो अफसरों ने उनका अलग अंदाज में स्वागत किया. ऐसा देख हर किसी कर्मचारी का मन गदगद हो गया.

बस्तर लोकसभा क्षेत्र में नक्सल गतिविधयों को देखते हुए इस बार चुनाव में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध थे. इस बार  दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा जिला प्रशासन ने उन गांवों में भी मतदान कराने का बीड़ा उठाया, जो गांव नक्सलियों के कब्जे में रहे हैं. ऐसे इलाकों में हेलीकॉप्टर से मतदान दल भेजे गए. यहां नक्सली धमकियों के बीच ग्रामीणों ने अपने वोट डाले. ऐसे इलाकों में पोलिंग पार्टी का यहां पहुंच चुनाव कराना भी काफी जोखिम भरा था. जिन कर्मियों की ऐसे इलाकों में ड्यूटी लगाई गई थी बाकायदा उन्होंने अपने कर्तव्यों का बखूबी निर्वहन किया. जब टीम धुर नक्सली इलाकों में चुनाव निपटाकर वापस मुख्यालय लौटी तो अफसरों ने फूल माला पहनाकर कर्मचारियों का स्वागत किया. 

ये भी पढ़ें : NDTV Special : नक्सलियों ने जिस गांव में विधायक को मारा, पोलिंग पार्टी की बस उड़ाई, इस बार वहां दिखा ऐसा माहौल

Latest and Breaking News on NDTV

बता दें कि सुकमा जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र सिलगेर, चिंतलनार, नरसापुरम सहित अन्य गांवों के 42 मतदान केंद्रों को नक्सल गतिविधियों के कारण शिफ्ट क्या गया था. यहां के लिए 247 मतदान कर्मियों को हेलीकॉप्टर से भेजा गया था. जबकि दंतेवाड़ा जिले के नीलावाया, पोटली, बुरग़ुम गांवों के पोलिंग बूथों में हेलीकॉप्टर से मतदान कर्मियों को भेजा गया था. इनकी सकुशल जिला मुख्यालय वापसी हो गई है. इन कर्मचारियों ने बताया सुबह  7 बजे से मतदान प्रक्रिया प्रारंभ हुई थी. शुरुआती कुछ घंटों में मतदान की गति धीमी रही लेकिन 11 बजे के बाद ग्रामीण मतदाताओं का हुजूम बढ़ गया और ग्रामीण मतदान करने के लिए उत्साहित दिखे. 

ये भी पढ़ें NDTV Exclusive : 20 सालों से नक्सलियों के कब्जे में था ये गांव, अब पोलिंग बूथ बना तो भाड़े की गाड़ियां लेकर वोट डालने पहुंच गए ग्रामीण 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Ram Mandir Ayodhya: विष्णु देव सरकार ने किए रामलला के दर्शन, माता शबरी का उपहार दिया, देखिए वीडियो
Loksabha Election : नक्सल इलाके में खतरों के बीच चुनाव करा लौटी पोलिंग पार्टी तो इस अंदाज में हुआ स्वागत, देखें तस्वीरें
Chhattisgarh Weather Rainy season continues in Chhattisgarh IMD issued yellow alert for rain know where and how much rainfall occurred
Next Article
Chhattisgarh Weather: छत्तीसगढ़ में बारिश का दौर जारी, IMD ने जारी किया बारिश का येलो अलर्ट, जानें कहां कितनी हुई वर्षा
Close
;