विज्ञापन
Story ProgressBack

किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए CM साय का ये है प्लान, सुगंधित धान उगाने के लिए उठाया जाएगा ये कदम

CG News: छत्तीसगढ़ सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाने जा रही है. सरकार राज्य में सुगंधित धान की किस्मों को उगाने के लिए किसानों को जागरूक करेगी.

किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए CM साय का ये है प्लान, सुगंधित धान उगाने के लिए उठाया जाएगा ये कदम
फाइल फोटो
रायपुर:

CM Sai Meeting: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय (CM Vishnu Deo Sai) ने किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सुगंधित और महीन धान की किस्मों के उत्पादन के लिए उन्हें जागरूक करने का निर्देश दिया है. अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के सिलसिले में लगायी गई आचार संहिता की अवधि समाप्त होने के बाद मुख्यमंत्री साय ने आज से विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक लेनी शुरू कर दी. उन्होंने बताया कि बैठकों की शुरुआत कृषि और उद्यानिकी विभाग की समीक्षा (Review of Agriculture and Horticulture Department) से हुई. बैठक में कृषि विकास, किसान कल्याण और जैव प्रौद्योगिकी मंत्री रामविचार नेताम (Minister Ramvichar Netam) भी मौजूद थे.

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा, "हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता खेती-किसानी की बेहतरी है. किसानों को खेती-किसानी में सहूलियत प्रदान करने के लिए खाद-बीज पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराए जाएं, इसके साथ ही भंडारण और वितरण की स्थिति की लगातार निगरानी की जाए."

छत्तीसगढ़ में सुगंधित धान की 200 किस्में

अधिकारियों ने बताया कि सीएम साय ने किसानों की अधिक आमदनी के लिए राज्य में सुगंधित और महीन धान की किस्मों के उत्पादन के लिए उन्हें जागरूक करने का निर्देश दिया है. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में सुगंधित धान की लगभग दो सौ किस्में हैं जिनकी बाजार में अच्छी मांग है. उन्होंने कहा कि इन किस्मों का विदेशों में निर्यात भी किया जा सकेगा, फलस्वरूप किसानों की आमदनी बढ़ेगी.

प्रोसेसिंग यूनिट शुरू करने के निर्देश

साय ने उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा देने का निर्देश देते हुए कहा कि जशपुर जिले में आम, लीची, कटहल का बड़े पैमाने पर उत्पादन होता है. उनका कहना था कि चाय का उत्पादन भी शुरू हुआ है और इनके प्रोसेसिंग यूनिट शुरू किए जाएं. मुख्यमंत्री ने उद्यानिकी विभाग की प्रगति की समीक्षा करते हुए कहा कि उद्यानिकी फसलों के प्रति किसानों को जागरूक किया जाए. उन्होंने कहा कि फूलों की मांग को ध्यान में रखते हुए राज्य में फूलों की खेती को बढ़ावा दिया जाए.

सेंटर फॉर एक्सिलेंस की होगी स्थापना

साय ने सोयाबीन, सेब, पॉम ऑयल, चाय की खेती को बढ़ावा देने के लिए राज्य स्तर पर प्रोजेक्ट तैयार करने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि फसल चुनते समय क्षेत्र की जलवायु के आधार पर निर्णय लें. अधिकारियों ने बताया कि बैठक में जानकारी दी गई कि उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा देने के लिए राज्य में 'सेंटर फॉर एक्सिलेंस' की स्थापना की जाएगी.

यह भी पढ़ें - छत्तीसगढ़ में तैयार होने से पहले ही गिरने लगे पीएम आवास योजना के घर, जानें-क्यों हुआ ऐसा ?

यह भी पढ़ें - भ्रष्टाचार की इंतहा: 13 करोड़ रुपये खर्चने के बाद भी यहां 10 वर्ष बाद भी कागजों में हो रही है सिंचाई, हैंडओवर के पहले ही गेट में लीकेज !

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Chhattisgarh : इस जिले में ये स्कूल बनी गौशाला! नाराज छात्र पेरेंट्स को लेकर पहुंचे कलेक्ट्रेट
किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए CM साय का ये है प्लान, सुगंधित धान उगाने के लिए उठाया जाएगा ये कदम
Murder or suicide Missing woman found dead in hotel room while lover body found on tracks
Next Article
प्रेमी ने प्रेमिका को गला घोंटकर उतारा मौत के घाट, खुद भी की आत्महत्या; होटल और रेलवे पटरी पर मिले शव
Close
;