विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 07, 2023

MP Election: पहली बार राहुल गांधी के खिलाफ खुलकर मैदान में उतरे सिंधिया, कांग्रेस को बताया पिछड़ा विरोधी

ज्योतिरादित्य सिंधिया पहली बार कांग्रेस के पूर्व उपाध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ मोर्चा संभालते नजर आ रहे हैं. बिहार सरकार की जातीय सर्वेक्षण रिपोर्ट आने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 'जितनी आबादी, उतना हक' यानी जनसंख्या के अनुपात में अधिकार देने की वकालत की. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 70 साल में पिछड़े वर्गों के लिए कुछ नहीं किया, यहां तक कि कांग्रेस ने ओबीसी आरक्षण का भी विरोध किया था.

Read Time: 4 mins
MP Election: पहली बार राहुल गांधी के खिलाफ खुलकर मैदान में उतरे सिंधिया, कांग्रेस को बताया पिछड़ा विरोधी
ग्वालियर:

Madhya Pradesh Assembly Election: कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) पहली बार कांग्रेस (Congress) के पूर्व उपाध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi)के खिलाफ मोर्चा संभालते नजर आ रहे हैं. दरअसल, बिहार सरकार की जातीय सर्वेक्षण रिपोर्ट (Bihar Cast Senses report) आने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 'जितनी आबादी, उतना हक' यानी जनसंख्या के अनुपात में अधिकार देने की वकालत की. इसके जवाब में सिंधिया ने कांग्रेस पर करारा प्रहार किया है. 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 70 साल में पिछड़े वर्गों के लिए कुछ नहीं किया, यहां तक कि कांग्रेस ने ओबीसी आरक्षण का भी विरोध किया था. नागरिक उड्डयन मंत्री सिंधिया ने शुक्रवार को ग्वालियर में पत्रकारों से बातचीत में यह आरोप लगाया. पको बता दें कि सिंधिया पहले कांग्रेस में थे, लेकिन 2020 में उन्होंने कांग्रेस की सरकार गिराकर भाजपा का दामन थाम लिया था. 

बिहार में 63 प्रतिशत है बैकवर्ड क्लास

दरअसल, बिहार सरकार की जाति सर्वेक्षण रिपोर्ट आने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा था ति 'जितनी आबादी, उतना हक' यानी उन्होंने जनसंख्या के अनुपात में अधिकार की वकालत की थी. गौरतलब है कि बिहार में हुए जाति सर्वेक्षण में पता चला है कि अत्यंत पिछड़ा वर्ग (EBC) और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) राज्य की आबादी 63 प्रतिशत है.

ये भी पढ़ेंः- कर्नाटक के बाद अब MP फतह करने के लिए मैदान में उतरेंगे राहुल और प्रियंका गांधी, इस तारीख को करेंगे सभा
 

सिंधिया ने कांग्रेस पर लगाए गंभीर आरोप

बिहार के जातीय सर्वेक्षण और उस पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए सिंधिया ने कांग्रेस पर 70 साल में पिछड़े वर्गों के लिए कुछ नहीं करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि जब मोरारजी देसाई के प्रधानमंत्री कार्यकाल के दौरान पिछड़े वर्गों पर एक आयोग की रिपोर्ट पेश की गई, तब कांग्रेस ने इसका विरोध किया. यहीं नहीं, जब वीपी सिंह के नेतृत्व वाली सरकार ने पिछड़े वर्गों के लिए आरक्षण लागू किया था, तब भी कांग्रेस ने इसका भी विरोध किया था. 

ये भी पढ़ेंः-CM शिवराज का सवाल ''मामा को फिर से मुख्यमंत्री बनना चाहिए कि नहीं?'', सुनिए जनता का जवाब?

प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ की

सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अनुसूचित जाति (SC) अनुसूचित जनजाति (ST) और पिछड़े वर्गों के लिए काम कर रहे हैं. उनके मंत्रिमंडल में शामिल 60 प्रतिशत सदस्य इन्हीं समुदायों से ताल्लुक रखते हैं. उन्होंने दावा किया कि यह प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व वाली सरकार है, जिसने ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण दिया.

जातीय जनगणना  को बताया चुनावी स्टंट

सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस चुनाव के समय एक नया मुद्दा उठाने की कोशिश कर रही है, लेकिन उसने अपने लंबे शासन के दौरान इन समुदायों के लिए कभी कुछ नहीं किया.  इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री ने विश्वास जताया कि जल्द ही होने वाले विधानसभा चुनाव के बाद भारतीय जनता पार्टी (BJP) मध्य प्रदेश में एक बार फिर सरकार बनाएगी.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
3 साल से विकास की बाट जोह रहा पीतलमील का अंडर ब्रिज, रेलवे ट्रैक पार करने में हर महीने 3-4 लोग गंवा रहे जान
MP Election: पहली बार राहुल गांधी के खिलाफ खुलकर मैदान में उतरे सिंधिया, कांग्रेस को बताया पिछड़ा विरोधी
Assembly By-Polls Nirmala Bhuria claims victory says BJP will win Amarwada by-election with huge votes
Next Article
निर्मला भूरिया का अमरवाड़ा जीत का दावा, बोलीं- 'अमरवाड़ा उपचुनाव भारी मतों से जीतेगी बीजेपी'
Close
;