विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 07, 2023

कर्नाटक के बाद अब MP फतह करने के लिए मैदान में उतरेंगे राहुल और प्रियंका गांधी, इस तारीख को करेंगे सभा

Madhya Pradesh Assembly Election: हिमाचल और कर्नाटक फतह करने के के बाद कांग्रेस की भाई-बहन की जोड़ी राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने अब मध्य प्रदेश जीतने के लिए में अपनी ताकत झोंक दी है. इसी कड़ी में 10 अक्टूबर को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी शहडोल जिले के ब्यौहारी में एक रैली को संबोधित करेंगे, यह उनकी दूसरी सभा होगी. वहीं उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा 12 अक्टूबर को मंडला में एक जनसभा को संबोधित करेंगी.

कर्नाटक के बाद अब MP फतह करने के लिए मैदान में उतरेंगे राहुल और प्रियंका गांधी, इस तारीख को करेंगे सभा
भोपाल:

Madhya Pradesh Assembly Election 2023: कर्नाटक (Karnataka) और हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में मिली दमदार जीत के बाद अब कांग्रेस के आला नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी पूरी ताकत झोंकने जा रहे हैं. इसी क्रम में कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा 10 और 12 अक्टूबर को चुनावी राज्य मध्य प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर जनसभा को संबोधित करेंगे. पार्टी के एक पदाधिकारी ने यह जानकारी दी है.

10 को राहुल और 12 को प्रियंका करेंगी जनसभा

दरअसल, मध्य प्रदेश की 230 सदस्यीय विधानसभा के लिए इस साल नवंबर में चुनाव होने हैं. सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) जहां राज्य में अपनी सरकार बरकरार रखने का प्रयास कर रही है. वहीं, विपक्षी दल कांग्रेस सत्ता में लौटने की कोशिशों में जुटी है. प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी 10 अक्टूबर को शहडोल जिले के ब्योहारी में एक रैली को संबोधित करेंगे. वहीं, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा 12 अक्टूबर को मंडला में एक जनसभा को संबोधित करेंगी. मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के प्रमुख कमल नाथ भी पार्टी के अन्य नेताओं के साथ दोनों जनसभाओं को संबोधित करेंगे.

प्रियंका की यह चौथी रैली होगी

गौरतलब है कि हाल के दिनों में मध्य प्रदेश में प्रियंका की यह चौथी रैली होगी. पांच अक्टूबर को उन्होंने धार जिले के मोहनखेड़ा में एक रैली को संबोधित किया था. इससे पहले, वह जबलपुर और ग्वालियर में रैलियों को संबोधित कर चुकी हैं. वहीं, 30 सितंबर को शहडोल में राहुल गांधी की रैली बाद राज्य में उनकी यह दूसरी जनसभा होगी. इससे पहले उन्होंने शाजापुर जिले में एक रैली को संबोधित किया था. पिछले साल उनकी 'भारत जोड़ो यात्रा' भी राज्य से गुजरी थी. माना जा रहा है कि राहुल की भारत जोड़ों यात्रा से लोगों का झुकाव कांग्रेस की तरफ बढ़ा है.

ये भी पढ़ेंः Congress Candidate List : दिल्ली में CEC की बैठक आज, कांग्रेस के 150 प्रत्याशियों के नामों पर लगेगी मुहर
 

कांग्रेस के वादों को दोहरा सकती है प्रियंका गांधी

अपनी मोहनखेड़ा रैली के दौरान प्रियंका ने कांग्रेस की गारंटी दोहराई थी और जातिगत जनगणना की वकालत की थी. उन्होंने राज्य की भाजपा सरकार पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप भी लगाया था. कांग्रेस ने कई वादे किए हैं, जिनमें मुफ्त और रियायती बिजली उपलब्ध कराना, पुरानी पेंशन योजना बहाल करना, कृषि ऋण माफ करना और महिलाओं को 1,500 रुपये प्रतिमाह देना शामिल है.

ये भी पढ़ेंः CM शिवराज का सवाल ''मामा को फिर से मुख्यमंत्री बनना चाहिए कि नहीं?'', सुनिए जनता का जवाब?
 

चुनाव जीत कर भी सत्ता से बाहर हो गई थी कांग्रेस

वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने के बाद कांग्रेस ने समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और निर्दलीय उम्मीदवारों के समर्थन से कमलनाथ के नेतृत्व में गठबंधन सरकार बनाई थी. पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 114 सीटें जीती थीं, जबकि भाजपा को 109 सीटें हासिल हुई थी. हालांकि, कमल नाथ के नेतृत्व वाली सरकार 15 महीने बाद गिर गई थी, जब कांग्रेस विधायकों का एक वर्ग, जिनमें से अधिकांश केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति वफादार थे, पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे. मार्च 2020 में भाजपा मध्य प्रदेश की सत्ता में लौट आई और शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर मुख्यमंत्री बने.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
भाजपा पार्षद पर आर्थिक सहायता के बहाने महिला से दुष्कर्म का लगा आरोप, एक्टिव हुई पुलिस
कर्नाटक के बाद अब MP फतह करने के लिए मैदान में उतरेंगे राहुल और प्रियंका गांधी, इस तारीख को करेंगे सभा
167 year old tradition was followed in Rewa Tajia was taken out on the day of Moharram know the history of Moharram month of islam religion
Next Article
रीवा में निभाई गई 167 साल पुरानी परंपरा, मोहर्रम के दिन निकाली गई ताजिया, जानें इन दिन का इतिहास
Close
;