विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 25, 2023

चीतों के जंगल में बाघ की आमद! कुनो नेशनल पार्क में टहलता दिखा टाइगर, फैली दहशत

सूत्रों की मानें तो राजस्थान की रणथंभोर सफारी के अफसरों ने उनके दो टाइगर जंगल से लापता होने की जानकारी कुनो के अफसरों को दी है, जिसके बाद कुनो प्रबंधन ट्रेप केमरे के जरिए जंगल में दूसरे टाइगर को तलाशने में जुटा हुआ है. 

Read Time: 3 mins
चीतों के जंगल में बाघ की आमद! कुनो नेशनल पार्क में टहलता दिखा टाइगर, फैली दहशत
कुनो में बाघ देखे जाने की सूचनी मिली

Kuno National Park: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के श्योपुर के कुनो नेशनल पार्क (Kuno National Park) में बसाए गए चीतों (Cheetah) के घर में अब टाइगर (Tiger) ने एंट्री कर ली है. टाइगर के कुनो में आने के बाद कुनो पार्क के अफसरों में हड़कंप मच गया है. टाइगर की कुनो नेशनल पार्क में आमद के बाद जंगल के रास्ते में बेखौफ टहलते हुए एक वीडियो सामने आने के बाद से ही कुनो प्रबंधन का अमला टाइगर की खोज में जंगल में जुट गया है. हालांकि कुनो के अफसरों ने वीडियो की पुष्टि नहीं की है. कुनो नेशनल पार्क के जंगल में आया टाइगर राजस्थान की सवाई माधोपुर रणथंभोर सेंचुरी का बताया जा रहा है.

अफसरों का दावा है कि टाइगर के चीतों के घर में आने से कुनो नेशनल पार्क के चीतों की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है. अफसरों की मानें तो कुनो के जंगल में टहलने वाले टाइगर की लोकेशन चीतों के बड़े बाड़े से काफी दूर है. सूत्रों की मानें तो राजस्थान की रणथंभोर सफारी के अफसरों ने उनके दो टाइगर जंगल से लापता होने की जानकारी कुनो के अफसरों को दी है, जिसके बाद कुनो प्रबंधन ट्रेप केमरे के जरिए जंगल में दूसरे टाइगर को तलाशने में जुटा हुआ है. 

यह भी पढ़ें : ट्रेन में सफर करने वाले यात्री हो जाएं सावधान! खंडवा में जो हुआ वह आपके साथ भी हो सकता है

पीएम मोदी ने किया था चीता सफारी का शुभारंभ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 सितंबर 2023 के दिन अपने जन्मदिन के मौके पर श्योपुर के कुनो नेशनल पार्क में देश की पहली चीता सेंचुरी के तौर पर बसाए गए कुनो में नामिबिया से लाए गए 8 चीतों को रिलीज करके देश की पहली चीता सफारी का शुभारंभ किया था. नामिबिया से 8 चीतों के आने के बाद 18 फरवरी 2023 को एक बार फिर से दोबारा कुनो नेशनल पार्क में साउथ अफ्रीका से 12 चीतों को कुनो में लाया गया था.

यह भी पढ़ें : बेटों ने ही घोंटा था पिता का गला, पुलिस को सुनाई झूठी कहानी, मां ने मिटाए हत्या के सबूत

कुछ महीनो में शुरू हो गया था चीतों की मौत का सिलसिला

2023 के मार्च महीने के आखिरी हफ्ते में किडनी इन्फेक्शन से जूझते हुए नामिबिया की मादा चीता शाशा की मौत हो गई थी. कुनो में मातम के बीच अप्रैल में ज्वाला नाम की मादा चीता ने 4 नन्हें शावकों को जन्म दिया लेकिन कुनो में भीषण गर्मी के चलते ज्वाला के 4 में से 3 नन्हें शावकों की अचानक से मौत हो गई. फिर लगातार बीतते महीनों में एक के बाद एक 6 बड़े चीते काल का निवाला बनते रहे. कुनो में 20 चीते में से 6 बड़े और 3 नन्हें शावक सहित 9 चीतों की अब तक मौत हो चुकी है.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Amarwara By Elections: हार के बाद कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने लगाए ये गंभीर आरोप, बोले-नेताओं ने नहीं, इन्होंने हमें हराया
चीतों के जंगल में बाघ की आमद! कुनो नेशनल पार्क में टहलता दिखा टाइगर, फैली दहशत
Fungal infection gripped the village of Betul hundreds of children became victims
Next Article
MP News: यहां फैला फंगल इंफेक्शन का कहर, सैकड़ों मासूम हुए इस बीमारी के शिकार
Close
;