विज्ञापन
Story ProgressBack

पुलिसवालों की दबंगई पर SP का एक्शन ! अवैध वसूली करने वाले 2 कांस्टेबल सस्पेंड 

Crime News Maihar : मैहर जिले के अमरपाटन थाना में पदस्थ दो पुलिस कर्मियों की काली करतूत से फिर पुलिस विभाग का सिर शर्म से झुक गया. मामला संज्ञान में आते ही मैहर पुलिस SP ने मंगलवार को दोनों कांस्टेबल को निलंबित कर विभागीय जांच के आदेश दिए हैं.

पुलिसवालों की दबंगई पर SP का एक्शन ! अवैध वसूली करने वाले 2 कांस्टेबल सस्पेंड 
पुलिसवालों की दबंगई पर SP एक्शन ! अवैध वसूली करने वाले 2 कांस्टेबल सस्पेंड 

Madhya Pradesh News in Hindi : मैहर जिले के अमरपाटन थाना में पदस्थ दो पुलिस कर्मियों की काली करतूत से फिर पुलिस विभाग का सिर शर्म से झुक गया. मामला संज्ञान में आते ही मैहर पुलिस SP ने मंगलवार को दोनों कांस्टेबल को निलंबित कर विभागीय जांच के आदेश दिए हैं. आरोप है कि दो कांस्टेबलों ने दो युवकों को बाइक सहित पकड़ा. इसके बाद उन्हें NDPS एक्ट की कार्रवाई का डर दिखाकर उनसे अवैध वसूली की. पुलिस कर्मियों ने साठ हजार रुपए नकद लिए और 30 हजार रुपए एक पेट्रोल पंप में फोन -पे कराकर वसूली की. जबकि 30 हजार रुपए बाद में प्रबंध कर देने को कहा था. इसके बाद जिला SP ने खबर मिलने के बाद और जांच आरोप प्रमाणित पाने के बाद दोनों को निलंबित कर पुलिस लाइन मैहर से अटैच कर दिया. कांस्टेबल विमलेश कुमार और संतोष पटेल पर अवैध वसूली के आरोप लगे थे.

जानिए क्या था मामला ? 

दरअसल, तीन दिन पहले 11 को कांस्टेबल विमलेश यादव और संतोष पटेल ने दो युवकों को एक बाइक के साथ पकड़ा था. दोनों को अपनी प्राइवेट कार से थानेे लेकर पहुंचे. जहां पीछे तरफ ले जाकर केस दर्ज न करने के एवज में 1 लाख 20 हजार रुपए देने को कहा. कार्रवाई के डर से दोनों युवकों ने अपने-अपने परिजनों से बात कर पैसों का प्रबंध करने को कहा. जिसके बाद बड़ी मुश्किल से 60 हजार कैश का प्रबंध कर पाए. इसके अलावा 30 हजार रुपए फोन-पे पर होने की बात कही. जिसके बाद दोनों आरक्षकों ने कैश लेने के बाद 30 हजार रुपए सरदार पेट्रोल पंप में फोन पे कराया. बताया जाता है कि जिस खाते में रकम डाली गई वह सरदार पेट्रेाल पंप की फर्म बोपारोय ब्रदर्स के नाम पर संचालित है.

सोशल मीडिया पर हुई थी किरकिरी 

सोशल मीडिया में पुलिसकर्मियों का खेल उजागर होने के बाद जब SP मैहर सुधीर अग्रवाल ने मामले की जांच अमरपाटन SDOP शिवकुमार सिंह को सौंपी तो उन्होंने बिंदुवार जांच की. नशीली दवाओं के कथित तस्करों से संपर्क किया गया. जिन्होंने अपने साथ ही घटना के संबंध में पूरा ब्यौरा पुलिस को सौंप दिया. पेट्रोल पंप में पहुंची रकम के संबंध में भी प्रमाणित सबूत मिले. जिसके बाद आरोपी की पुष्टि हो गई. जब रिपोर्ट एसपी के पास पहुंची तो उन्होंने एक्शन लेने में कोई देर नहीं की. SP की कार्रवाई के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों कांस्टेबल के खिलाफ मामला भी दर्ज किया जा सकता है. चूंकि, दोनों आरक्षकों ने संदेहियों को पकड़ा और किसी भी वरिष्ठ अधिकारी को सूचना नहीं दी. ऐसे में उनके इरादे साफ पता चलते हैं कि वे वसूली करने के इरादे से ही आए थे.

ये भी पढ़ें :

IPL के नाम पर सट्टा खिलाने वालों को पुलिस ने दबोचा, ऑनलाइन ऐसे खिलाया जाता है ये खेल

ग्वालियर : कोर्ट के बाहर रो रही महिला को हवलदार ने बनाया हवस का शिकार


 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बड़वानी: कस्तूरबा आश्रम में खाना खाते ही बिगड़ी 44 छात्राओं की तबीयत, प्रशासन में मचा हड़कंप
पुलिसवालों की दबंगई पर SP का एक्शन ! अवैध वसूली करने वाले 2 कांस्टेबल सस्पेंड 
The boys side refused dowry in the marriage in Niwari returned 11 lakh rupees of dowry
Next Article
MP News: ससुराल से मिले 11 लाख रुपये लौटाए, कहा-दहेज समाज की है सबसे बड़ी कुप्रथा
Close
;