विज्ञापन
Story ProgressBack

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट, सतना में पार्कों के सौंदर्यीकरण के नाम पर हो रहा गबन

MP News: सतना में चल रहा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ता जा रहा है. यहां के पार्कों में सौंदर्यीकरण के नाम पर पैसों का गबन हो रहा है.

Read Time: 3 mins
भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट, सतना में पार्कों के सौंदर्यीकरण के नाम पर हो रहा गबन

Corruption in Park Renovation: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सतना शहर (Satna) में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट (Smart City Project) के तहत 45 वार्डों के अंदर भले ही 72 पार्कों के निर्माण का दावा किया जा रहा हो, लेकिन निर्माण के नाम पर केवल औपचारिकता ही निभाई गई है. इस बात का सबसे बड़ा प्रमाण डिग्री कॉलेज के सामने गहरा नाला में बना लाड़ली लक्ष्मी पार्क (Ladli Laxmi Park) है. जिले के लगभग सभी पार्कों का हाल बेहाल है. पार्कों की खस्ता हालत को लेकर जब नगर निगम आयुक्त (Municipal Commissioner) से पूछा गया तो उन्होंने नोटिस जारी करने और हालात को ठीक करने की बात कही.

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा पार्क

गहरा नाला में बने लाड़ली लक्ष्मी पार्क के निर्माण का ठेका अतुल कुरारिया कंस्ट्रक्शन कंपनी को दिया गया था. नगर निगम प्रशासन को ठेंगा दिखाते हुए ठेकेदार मनमानी पर उतारू है. एक तरफ लगातार घटिया कार्य किया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर नगर निगम के इंजीनियर उसे अनापत्ति प्रमाणपत्र देते हुए लगातार भुगतान करते जा रहे हैं. कंपनी को दो करोड़ का भुगतान किया जा चुका है मगर, स्थिति यह है कि अब यहां पर न तो कोई इंस्टूमेंट्स बचे और न ही हरियाली रह गई है. जगह-जगह सांप की बांबी दिखाई दे रही हैं. कुल मिलाकर पार्क के नाम पर पैसा ठिकाने लगा दिया गया और पार्क का बेड़ागर्क हो गया.

ladli laxmi park satna

पार्क में लगी सामग्री गायब हो चुकी है.

पार्कों में लगी सामग्री हुई गायब

शहर के नगर निगम सीमा के अंदर बने हुए 72 पार्कों में करीब 14 करोड़ की लागत लगी. कहीं सौंदर्यीकरण, कहीं मेंटेनेंस तो कहीं पर नया निर्माण कार्य किया गया. डिग्री कॉलेज परिसर में बनाए गए पार्क के नाम पर 2 करोड़ खर्च हुए. जिसमें बच्चों के खेलकूद के इंस्ट्रूमेंट, सौंदर्यीकरण की दृष्टि से बैठक व्यवस्था को लेकर सुंदर और मजबूत कुर्सियां लगाई गई थी. लेकिन, निगम प्रशासन की लापरवाही की चलते यह पार्क में लगाई गई सामग्रियां चोरों के भेंट चढ़ गई.

कौन ले गया सामग्री?

यहां लगाए गए पेड़-पौधे और क्यारी तहस-नहस हो चुके हैं और खेलकूद वाले स्थान में चारों ओर लगाई गई जाली भी चोरी हो चुकी है. कॉलेज के छात्र-छात्राओं एवं स्थानीय लोगों के लिए बनाए गए इस पार्क में करीब आठ माह से ताला लटका हुआ है. जब इस मामले में नगर निगम आयुक्त डॉ शेर सिंह मीणा से बात की गई तो उन्होंने ने कहा कि ठेकेदार को नोटिस जारी कर मेंटेनेंस कराया जाएगा. एक सप्ताह में स्थितियों को सही कर लिया जाएगा.

यह भी पढ़ें - NDTV की खबर का असर: 45 करोड़ की निर्माणाधीन सड़क में हुए भ्रष्टाचार के खुलासे से PWD विभाग में मचा हड़कंप

यह भी पढ़ें - Water Crisis: डिंडौरी में पानी के लिए भटक रहे ग्रामीण, बावली का दूषित पानी पीने को लोग मजबूर

यह भी पढ़ें - लापरवाही: 29 की जगह सिर्फ 18 हजार क्विंटल धान का ही हुआ उठान, लाखों का हो रहा नुकसान

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
MP News: स्कूल-कॉलेजों में राम और कृष्ण को पढ़ाए जाने पर गरमाई सियासत, दिग्विजय सिंह ने कर दी ये बड़ी मांग
भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट, सतना में पार्कों के सौंदर्यीकरण के नाम पर हो रहा गबन
Big action by NCPCR team in Raisen district of Madhya Pradesh, 36 child laborers freed
Next Article
MP News: मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में NCPCR की टीम की बड़ी कार्रवाई, 36 बाल श्रमिकों को कराया मुक्त
Close
;