विज्ञापन
Story ProgressBack

खनन माफियाओं में खौफ, ट्रेनी महिला IPS के लिए बिछाया ऐसा जाल कि चौंक गया पुलिस विभाग, एक गिरफ्तार

Gwalior Crime News: ट्रेनी IPS बेनीवाल बीती रात रूटीन चेकिंग पर निकली थीं. थाने से बाहर निकलते ही उन्हें सफेद रंग की कार दिखी. इस पर वे अचानक से चौंक उठीं. उन्हें याद आया कि बीते कई दिनों से यह कार उन्हें उनके आसपास दिख रही है.

खनन माफियाओं में खौफ, ट्रेनी महिला IPS के लिए बिछाया ऐसा जाल कि चौंक गया पुलिस विभाग, एक गिरफ्तार

Sand Mafia in Madhya Pradesh: ग्वालियर में रेत (Sand) और पत्थर (Stone) माफियाओं की करतूत आए दिन चर्चा व सुर्खियों में बनी रहती हैं. लेकिन बीती रात रेत माफिया की जो हरकत सामने आयी, उससे न केवल ग्वालियर (Gwalior) बल्कि भोपाल (Bhopal) तक मे खलबली मची हुई है. ग्वालियर पुलिस (Gwalior Police) ने रात को एक युवक को दबोचा जो एक प्रशिक्षु लेडी आईपीएस अफसर (Trainee Lady IPS Officer) की लगातार लोकेशन ट्रैक (Location Track) करके खनन माफिया (Sand Mafia) तक पहुंचाता था. 

MP News: ग्वालियर में ट्रेनी IPS पर नजर रखने वाला आरोपी गिरफ्तार

MP News: ग्वालियर में ट्रेनी IPS पर नजर रखने वाला आरोपी गिरफ्तार

खनन माफिया के खिलाफ कार्यवाही कर रही हैं ये महिला अफसर

भारतीय पुलिस सेवा (Indian Police Service) की प्रशिक्षु अधिकारी अनु बेनीवाल की पदस्थापना अभी ग्वलियर में है और वे बिजौली में थाना प्रभारी के रूप में पदस्थ होकर ट्रेनिंग कर रही हैं. इस इलाके से अवैध रेत खनन (Unauthorized or Illegal Sand Mining) होकर निकलता है. ये ट्रेनी आईपीएस अफसरी बीते कुछ ही दिनों में ऐसे रेत के दर्जनों ट्रेक्टर पकड़कर कार्यवाही कर चुकी हैं. इससे रेत माफिया परेशान हैं और खौफ में हैं. 

ऐसे हुआ खुलासा 

ट्रेनी IPS बेनीवाल बीती रात रूटीन चेकिंग पर निकली थीं. थाने से बाहर निकलते ही उन्हें सफेद रंग की कार दिखी. इस पर वे अचानक से चौंक उठीं. उन्हें याद आया कि बीते कई दिनों से यह कार उन्हें उनके आसपास दिख रही है. उन्होंने एक आरक्षक को कार ड्राइवर को बुलाने भेजा तो वह ड्राइवर आने की जगह आरक्षक से ही उलझ गया. उस कार ड्राइवर ने आरक्षक का कॉलर भी पकड़ लिया, लेकिन तब तक और पुलिसवाले दौड़कर पहुंचे और उसे दबोचकर थाने (Police Station) ले आये.

IPS की मिनट टू मिनट लोकेशन ले रहा था माफिया

पकड़े गए संदिग्ध युवक ने पूछताछ में उसने जो जानकारी दी उसे सुनकर पुलिस विभाग के सब लोग चौंक पड़े. उसने बताया कि उसका नाम आमिर खान है.

खनन माफिया के धंधे में प्रशिक्षु आईपीएस बेनीवाल बाधा बन रही थीं, इसलिए माफिया ने ट्रेनी आईपीएस की लोकेशन ट्रैक कर उसे मिनट टू मिनट ग्रुप में शेयर करने का काम सौंपा था. हर लोकेशन शेयर करने के बदले उसे (आरोपी को) पैसा मिलता था.

यह भी पढ़ें : पुलिसवाले ने गरीब आदमी पर बरसाए लात-घूंसे, गुस्साई भीड़ ने सिखाया ऐसा सबक, देखें VIDEO

ट्रेनी IPS बेनीवाल द्वारा 25 दिनों में 20 से ज्यादा डम्पर पकड़ चुकी हैं, इससे रेत माफिया परेशान हैं. आरोपी जिस कार से पीछा करता था वह कार भी पुलिस ने जब्त कर ली है. वहीं आरोपी से पूछताछ अभी भी जारी है.

यह भी पढ़ें : 

** Lok Sabha polls: एक अप्रैल तक MP में 1473 तो छत्तीसगढ़ में 197 शिकायतें मिलीं, cVIGIL से हो रहा समाधान

** हेल्दी बनाने वाली मशीने ही बन रहीं अनहेल्दी: ₹2 करोड़ से अधिक के ओपन जिम 'कचरा', अफसर बेखबर

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बड़वानी: कस्तूरबा आश्रम में खाना खाते ही बिगड़ी 44 छात्राओं की तबीयत, प्रशासन में मचा हड़कंप
खनन माफियाओं में खौफ, ट्रेनी महिला IPS के लिए बिछाया ऐसा जाल कि चौंक गया पुलिस विभाग, एक गिरफ्तार
The boys side refused dowry in the marriage in Niwari returned 11 lakh rupees of dowry
Next Article
MP News: ससुराल से मिले 11 लाख रुपये लौटाए, कहा-दहेज समाज की है सबसे बड़ी कुप्रथा
Close
;