विज्ञापन
Story ProgressBack

मतदान को त्यौहार की तरह मनाते हैं MP के बैगा आदिवासी, नाचते-गाते पहुंचें वोट देने 

MP Latest News in Hindi : मतदान के एक दिन पहले बैगा आदिवासी बाहुल्य ग्रामों में निवासरत ग्रामीणों से सलाह-मशवरा करते हैं और मतदान वाले दिन को किसी त्यौहार की तरह मनाते हैं. मतदान वाले दिन वे न सिर्फ पारंपरिक वेशभूषा में रहते हैं बल्कि नाच गाकर खुशियां भी मनाते हैं. 

Read Time: 3 mins
मतदान को त्यौहार की तरह मनाते हैं MP के बैगा आदिवासी, नाचते-गाते पहुंचें वोट देने 
मतदान को त्यौहार की तरह मनाते हैं MP के बैगा आदिवासी, नाचते-गाते पहुंचें वोट देने 

MP Lok Sabha Elections : बैगा आदिवासी जनजाति भारत के मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) और छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में पाई जाती है. मध्य प्रदेश के मंडला (Mandala), डिंडोरी (Dindori) और बालाघाट (Balaghat) ज़िलों में बड़ी संख्या में बैगा समुदाय के लोग रहते हैं. आज लोकसभा चुनावों (Lok Sabha Election 2024 Phase 1) के पहले चरण में मंडला और बालाघाट सीट पर भी वोटिंग हुई. इस दौरान बैगा आदिवासी बाहुल्य गांवों में भी लोकतंत्र के महापर्व को उत्सव की तरह मनाया गया. बता दें कि मंडला लोकसभा में बजाग विकासखंड के वनग्राम बौना जहां सौ फीसदी विशेष संरक्षित बैगा जनजाति के लोग निवास करते हैं. वहां सुबह से ही बैगा आदिवासी पारंपरिक वेशभूषा पहनकर मतदान करने पहुंचे और स्थानीय भाषा में नाच गाकर लोगों से मतदान करने की अपील की. 

बैगा जनजाति की महिलाओं ने चुनाव में बढ़ चढ़ कर लिया हिस्सा

बैगा जनजाति की महिलाओं ने चुनाव में बढ़ चढ़ कर लिया हिस्सा

चुनावों से एक दिन पहले करते हैं ये काम 

डिंडोरी जिले के बैगा आदिवासी बाहुल्य इलाकों में शहरी इलाकों की तुलना में मतदान का प्रतिशत काफी ज़्यादा रहता है. लोकसभा, विधानसभा व त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों में भी बैगा आदिवासी मतदान में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं. मतदान के एक दिन पहले बैगा आदिवासी बाहुल्य ग्रामों में निवासरत ग्रामीणों से सलाह-मशवरा करते हैं और मतदान वाले दिन को किसी त्यौहार की तरह मनाते हैं. मतदान वाले दिन वे न सिर्फ पारंपरिक वेशभूषा में रहते हैं बल्कि नाच गाकर खुशियां भी मनाते हैं. 

वोटिंग के दिन नाचते-देते देते हैं वोट 

वोटिंग के बाद सब के चेहरों पर दिखी ख़ुशी

वोटिंग के बाद सब के चेहरों पर दिखी ख़ुशी

बता दें कि डिंडोरी जिले में आज भी ऐसे कई इलाके हैं जहां बैगा आदिवासी चार से पांच किलोमीटर दूर पैदल चलकर मतदान के लिए पहुंचते हैं. मतदान वाले दिन बैगा आदिवासी बाहुल्य ग्रामों में एक अलग ही माहौल रहता है. मतदान केंद्र खुलते ही बैगा आदिवासी एकसाथ वोट डालने पहुंचते हैं. डिंडोरी जिले में पचास से अधिक ग्रामों में बैगा जनजाति के लोग निवास करते हैं और इन गांवों में मतदान का प्रतिशत 80 फीसदी से ज्यादा रहता है. जानकारी के लिए बता दें कि बिझवार, नरोतिया, भरोतिया, नाहर, राय भैना और काढ़ भैना इनकी कुछ उपजातियाँ हैं.

यह भी पढ़ें 

हर वोट है जरूरी : बुजुर्ग मतदाताओं के घर पहुंच रहा चुनाव आयोग, पन्ना में 107 साल की महिला ने किया मतदान

MP की इस सीट पर अन्नदाता नहीं बनेंगे पार्टियों के 'भाग्यविधाता', चुनावी माहौल में क्यों लिया बहिष्कार का फैसला?

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
NEET UG Exam Result आया पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के निशाने पर, कई सवाल उठाते हुए कहा निरस्त हो परीक्षा और...
मतदान को त्यौहार की तरह मनाते हैं MP के बैगा आदिवासी, नाचते-गाते पहुंचें वोट देने 
MPPSC Results 2021 Madhya Pradesh Civil Service Exam 2021 toppers told the mantra of success MPPSC Topper Ankita Patkar
Next Article
MPPSC 2021 Toppers: "8 से 10 घंटे पढ़ाई, डेडिकेशन और....", पीएससी के टॉपर्स ने बताया सफलता का मंत्र
Close
;