विज्ञापन
Story ProgressBack

MP में सिम फर्जीवाड़े पर बड़ा खुलासा... साइबर फ्रॉड का ऐसे होता था खेला, पांच गिरफ्तार

Sim fraud News: यदि आप भी चलती सड़क पर सिम (Sim( खरीदते हैं, पोर्ट करवा लेते हैं, तो सावधान रहने की जरुरत है. क्योंकि उज्जैन (Ujjain) पुलिस ने फर्जी नामों की सिम बेचने वाले इंटरस्टेट गैंग को दबोच लिया है. पढ़ें कैसे फैला रखे थे ये अपना कारोबार.

Read Time: 3 mins
MP में सिम फर्जीवाड़े पर बड़ा खुलासा... साइबर फ्रॉड का ऐसे होता था खेला, पांच गिरफ्तार
MP में सिम फर्जीवाड़े पर बड़ा खुलासा... साइबर फ्रॉड का ऐसे होता था खेला, पांच गिरफ्तार

MP crime News: मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन (Ujjain) के नानाखेड़ा पुलिस ने फर्जी नामों की सिम बेचने वाले अंतराजीय गिरोह को पकड़ा है, गिरफ्तार पांच आरोपियों में से तीन पश्चिम बंगाल के हैं. ये गिरोह लोगों के नाम से सिम लेकर साइबर फ्रॉड (Cyber ​​Fraud) करने वालों को बेचता था. आरोपियों से 70 सिम जब्त हुई है. मामले में फरार बदमाशों पर एसपी ने इनाम घोषित किया है. नागझिरी स्थित न्यू इंदिरा नगर निवासी अक्षय पिता अजय तिरवार उम्र 22 वर्ष और देवास स्थित कन्नोद का वाले सादिक पिता अली शेर उम्र 20 साल धोखे से लोगों के नामों की सिम एक्टिवेट करवाकर अन्य प्रदेश के ठगों को बेचते थे. दोनों से तारामंडल के पास पश्चिम बंगाल के शेख महिबुल,बाबन खान और साजन खान सिम लेने आए थे. सूचना मिलने पर नानाखेड़ा टीआई नरेंद्र यादव टीम के साथ पहुंचे पांचों को पकड़ा. तलाशी में 13 एक्टीवेट व 43 अनएक्टीवेट एयरटेल की सीम जप्त होने पर धारा 419.420 भादवि एवं 66 (सी). 66 (डी) आई टी एक्ट में केस दर्ज कर दिया.

जानिए मामला

एसपी प्रदीप शर्मा ने बताया कि सादिक खान गांव देहात के लोगों के नाम से फर्जी सीम एक्टीवेट और पोर्ट करने का काम करता था, लोगों के सिम पोर्ट एवं सिम बनाते समय धोखाधड़ी कर अतिरिक्त सिम एक्टीवेट करा लेता था, जो कि अक्षय के माध्यम से पश्चिम बंगाल के ठगों को बेचता है. वह लोग पश्चिम बंगाल में लेजाकर कॉलिंग के माध्यम से लोगों से ठगी करते हैं. पश्चिम बंगाल के तीनों आरोपी पूर्व में भी करीब 70 सिम से ले गए थे.अक्षय ने उक्त सिम मोंटी निवासी नागदा से लाना बताया है.

 फरार आरोपियों पर इनाम

एसपी शर्मा के मुताबिक मोंटी और पूर्व में अक्षय से सिम खरीदने वाल पश्चिम बंगाल के ठगों को तलाश रहे हैं. सभी आरोपियों पर दस दस हज़ार रुपये का इनाम घोषित किया है .मामले का खुलासा करने में सीएसपी श्वेता गर्ग और टीम की महत्व पूर्ण भूमिका रही है. टीम को 20 हजार रुपये इनाम दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें-  Analysis: केंद्र में सरकार का दावा, लेकिन MP और CG की 40 सीटों पर कांग्रेस की चुप्पी के मायने?


 

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
नशे में धुत युवती ने सड़क पर किया हंगामा... खुद पुलिस भी रह गई हैरान
MP में सिम फर्जीवाड़े पर बड़ा खुलासा... साइबर फ्रॉड का ऐसे होता था खेला, पांच गिरफ्तार
Farmers block road in Ashoknagar due to non availability of DAP fertilizer
Next Article
'मामा' बने कृषि मंत्री, पर MP के किसानों को नहीं मिल रही DAP, ऐसे में कैसे होगी बुआई?
Close
;