विज्ञापन
Story ProgressBack

इंदौर में दिख रहे हैं खादी - कॉटन के हैंड पेंटेड कपड़े, ब्रश को उठाए बगैर पेंट कर देते हैं पूरी साड़ी...

पहले पुरुषों में ही खादी- कॉटन की मांग रहती थी, लेकिन अब महिलाओं में भी ये काफी प्रचलित हो रही है.प्रदर्शनी में महाराष्ट्र के पालघर जिले का ओम साईं लघु उद्योग भी शामिल हुआ है. यह हैंड पेंटेड साड़ी लेकर आए हैं.

Read Time: 4 min
इंदौर में दिख रहे हैं खादी - कॉटन के हैंड पेंटेड कपड़े, ब्रश को उठाए बगैर पेंट कर देते हैं पूरी साड़ी...
खादी - कॉटन की बढ़ रही है महिलाओं में मांग

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्रालय, मध्य प्रदेश शासन ने इंदौर के ढक्कन वाला कुआं स्थित ग्रामीण हाट बाजार में राष्ट्रीय स्तरीय खादी प्रदर्शनी का आयोजन किया है. इसका शुभारंभ शनिवार को शाम 6 बजे इंदौर के सांसद शंकर लालवानी ने किया. प्रदर्शनी में मेरठ से लेकर कश्मीर तक का खादी कॉटन मौजूद है, तो यहां महाराष्ट्र के इलाकों में होने वाला खादी का काम भी देखा जा सकता है. प्रदर्शनी में यूं तो 50 से ज्यादा स्टॉल मौजूद है, लेकिन मेरठ के स्वदेशी वस्त्र भंडार के बुनकर अपने साथ खादी कॉटन के कई पहनावे लेकर आए हैं.

खादी के कपडों की बढ़ रही है मांग

18 साल से खादी के लिए काम कर रही इस संस्था के पास महिलाओं के लिए कुर्ता, पैंट, कुरती, पुरुष के लिए कुर्ते, शर्ट और नेहरू जैकेट की बड़ी रेंज मौजूद है. पहले पुरुषों में ही प्रचलित खादी कॉटन अब महिलाओं में भी प्रचलित हो रही है. अब महिलाओं में भी खादी कॉटन के कपड़ों की मांग बढ़ गई है. प्रदर्शनी में महाराष्ट्र के पालघर जिले का ओम साईं लघु उद्योग भी शामिल हुआ है. यह हैंड पेंटेड साड़ी लेकर आए हैं.

बिना ब्रश उठाए करते हैं पेंट

रॉ फैब्रिक पर हैंड पेंटिंग का काम यहां पुरुष कलाकार सिंगल स्ट्रोक के साथ करते हैं. यानी ब्रश को उठाए बगैर पूरे कपड़े पर एक साथ पेंट करते हैं. ऑर्गेनिक फैब्रिक पेंट के इस्तेमाल के साथ तैयार की गई यह खादी कॉटन की साड़ियां अलग-अलग क्षेत्र में महिलाएं और पुरुष मिलकर तैयार करते हैं, जिसके बाद लघु उद्योग के माध्यम से इसे देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंचाया जाता है. इनके पास साड़ी के अलावा वरली कला का काम की गई कुर्तियां भी मौजूद हैं.

ceec

खादी को बढ़ावा देगी ये प्रदर्शनी

खादी की बेडशीट भी यहां है मौजूद

चूंकि प्रदर्शनी को खादी को बढ़ावा देने के लिए लगाया गया है, इसीलिए यहां खादी की बेडशीट भी मौजूद है. इसे यूपी के खादी भंडार से लेकर आए हैं, जो बताते हैं कि यह इस समय बहुत मांग में है. इसे लोग बहुत पसंद कर रहे हैं. कई घरों में छोटी-छोटी यूनिट के साथ परिवार के लोग इसे मिलकर तैयार करते हैं. इसी प्रदर्शनी में मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड ने भी अपना एक स्टॉल लगाया है. इस स्टॉल पर अगरबत्ती, साबुन और शहद से लेकर खादी कॉटन की घर में इस्तेमाल की जाने वाली कई वस्तुएं उपलब्ध हैं.

ये भी पढ़ें BJP Loksabha Candidate List: दुर्गादास को फिर मिला चुनाव लड़ने का मौका, पिछली बार साढ़े तीन लाख से ज्यादा के अंतर से बने थे विजेता

लेदर के सामान भी है यहां मौजूद

इस प्रदर्शनी में स्वदेशी वस्त्रों को बढ़ावा देने के लिए बुनकरों के काम के अलावा कश्मीर के सूखे मेवे और आयुर्वेदिक चीजें भी मौजूद हैं. यहां लेदर के काम भी देखे जा सकते हैं. प्रदर्शनी में देवास के लेदर के बैग के साथ ही धार के लेदर शूज भी मौजूद हैं. प्रबंधक खादी ग्रामोद्योग, जिला पंचायत इंदौर, गौरवराज सिंह ने बताया कि खादी प्रदर्शनी में विंध्यावैली प्रोजेक्ट से जुड़े सभी उत्पादों पर विशेष छूट भी रखी गई है. प्रदर्शनी का समय दोपहर 12 से रात 9 बजे तक का रखा गया है.

ये भी पढ़ें BJP Lok Sabha Candidate List: कांग्रेस से बीजेपी में आए चिंतामणि को मिला सरगुजा लोकसभा से टिकट

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close