विज्ञापन
Story ProgressBack

Mahavir Jayanti 2024: कहीं पूर्व सीएम हुए पालकी यात्रा में शामिल, तो कहीं धूमधाम से निकाला गया जुलूस

Mahavir Jayanti Program in MP: महावीर जयंती को लेकर मध्य प्रदेश के कई जिलों में कार्यक्रम का आयोजन हुआ. इस मौके पर शिवराज सिंह चौहान एक खास कार्यक्रम में शामिल हुए और लोगों को जैन धर्म से सीख लेने के लिए कहा.

Read Time: 3 mins
Mahavir Jayanti 2024: कहीं पूर्व सीएम हुए पालकी यात्रा में शामिल, तो कहीं धूमधाम से निकाला गया जुलूस
महावीर जयंती कार्यक्रम में शामिल हुए शिवराज सिंह चौहान

Mahavir Jayanti in Madhya Pradesh: पूरे देश में जैन धर्म (Jain Religion) के अनुयायियों ने रविवार को महावीर जयंती (Mahavir Jayanti) बहुत धूमधाम से मनाया. इस क्रम में मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी लोगों ने महावीर जयंती के कार्यक्रमों में शिरकत किया. जहां एक तरफ विदिशा (Vidisha MP) में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chuahan) ने श्री महावीर स्वामी जी के जन्म कल्याणक महोत्सव में सहभागिता की, तो वहीं, जबलपुर (Jabalpur) में लोगों ने महावीर जयंती पर भव्य आयोजन करते हुए सुबह ही जुलूस निकाला. इसमें चांदी के चार रथ और 11 पालकी में भगवान महावीर को विराजमान किया गया.

दुनिया को शांति की ओर ले जा सकता है जैन धर्म-शिवराज

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महावीर जयंती कार्यक्रम में शामिल होते हुए कहा कि आज दुनिया में जहां देखो वहां संघर्ष ही दिखाई दे रहा है. रूस और यूक्रेन लड़ रहा है, इजराइल-फिलिस्तीन लड़ रहा है, ईरान-इजरायल लड़ रहा है. कब विश्व युद्ध हो जाए इसका कोई ठिकाना नहीं है. ऐसी परिस्थितियों में अगर दुनिया को कोई शांति की ओर ले जा सकता है तो वह जैन धर्म ही है. उन्होंने कहा कि हम सबको जैन बनने की कोशिश करनी चाहिए. मैं भी जैन बनने की कोशिश कर रहा हूं. हमें अपने आप को जीतने की कोशिश करनी पड़ेगी.

कौन थे भगवान महावीर (Know who was Lord Mahavir) 

मान्यताओं के अनुसार, जैन धर्म के 24वें और अंतिम तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी थे. इस साल उनका 2623 वीं जन्म महोत्सव मनाया गया. भगवान महावीर का जन्म ईसा पूर्व 599 वर्ष में माना जाता है. उनके पिता राजा सिद्धार्थ और माता रानी त्रिशला थीं और बचपन में उनका नाम वर्धमान था.

ये भी पढ़ें :- Lok Sabha Elections 2024: योगी आदित्यनाथ ने छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल पर साधा निशाना, बोले, घोटालों में लिप्त थी कांग्रेस सरकार

इस दिन मनाई जाती है महावीर जयंती (When is Mahavir Jayanti Celebrated)

पंचांग के अनुसार, हर साल चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को जैन धर्म के चौबीसवें तीर्थंकर भगवान महावीर का जन्म उत्सव जैन अनुयायी बड़ी धूमधाम से मनाते हैं. इस दिन पूरे देश में कई सारे भव्य आयोजन होते हैं और भगवान महावीर की भव्य जुलूस यात्रा निकाली जाती है. भगवान महावीर को वर्धमान, वीर, अतिवीर और सन्मति भी कहा जाता है. इन्होंने पूरे समाज को सत्य और अहिंसा का मार्ग दिखाया. जैन धर्म के लोग इस खास दिन पर जैन मंदिरों में जाकर पूजा-पाठ करते हैं.

ये भी पढ़ें :- MP News: 6 बार के BJP विधायक नागेंद्र सिंह के नाराज होने से अटकलों का बाजार गर्म, बड़े नेताओं के कार्यक्रम में भी नहीं पहुंचे

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
23 जून को राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा का Prelims Exam, जानिए समय
Mahavir Jayanti 2024: कहीं पूर्व सीएम हुए पालकी यात्रा में शामिल, तो कहीं धूमधाम से निकाला गया जुलूस
6 people died and 11 injured in road accidents in Sehore Neemuch and Balaghat
Next Article
एमपी में तीन अलग-अलग सड़क हादसे में 6 लोगों की मौत, 11 हुए घायल
Close
;