विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 24, 2023

MP News: कर्ज भरने के बाद भी यहां के 26 किसान हैं कर्जदार, अधिकारी इनके पैसे गया 'डकार'

MP News: दरअसल सतना के नागौद क्षेत्र की सेवा सहकारी समिति दुरेगा में यहां के सहायक समिति प्रबंधक ने किसानों के द्वारा जमा किए गए कथित ऋण को उनके डीएमआर खातों में जमा नहीं करते हुए निजी तौर पर उपयोग कर लिया.

MP News: कर्ज भरने के बाद भी यहां के 26 किसान हैं कर्जदार, अधिकारी इनके पैसे गया 'डकार'
(फाइल फोटो)

Madhya Pradesh News : भ्रष्टाचारियों के लिए किसान साॅफ्ट टारगेट बन चुके हैं. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सतना (Satna) से किसानों के साथ धोखे की बड़ी खबर सामने आ रही है. यहां करीब 26 किसानों के पैसे डकार लिए गए. पहले भी सहकारिता विभाग में किसानों के साथ कई धोखे हुए हैं, लेकिन इन मामलों में जिला प्रशासन कुछ नहीं कर पाया. यही कारण है कि समिति प्रबंधक के लोग धड़ल्ले से किसानों की गाढ़ी कमाई गटकने में संकोच नहीं कर रहे हैं.

किसानों के पैसों का कर लिया निजी तौर पर उपयोग

दरअसल सतना के नागौद क्षेत्र की सेवा सहकारी समिति दुरेगा में यहां के सहायक समिति प्रबंधक ने किसानों के द्वारा जमा किए गए कथित ऋण को उनके डीएमआर खातों में जमा नहीं करते हुए निजी तौर पर उपयोग कर लिया. किसानों को इस बात की जानकारी तब लगी जब ऋण जमा करने के बाद किसानों ने बैंक में संपर्क किया. इनमें अधिकांश वह किसान थे जिनके द्वारा समिति में नकद पैसा जमा कराया गया था.

किसानों को पैसे जमा करने की पर्ची भी दी गई 

उन्हें समिति के कैशियर द्वारा जमा की पर्ची दी गई, लेकिन किसी के भी बैंक खाते में राशि जमा नहीं की गई और न ही बैंक खाते में कटौती की गई. जिसके बाद इस मामले की शिकायत जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक में दर्ज कराई गई और जांच में पाया गया कि शिकायत करने वाले 26 किसानों के साथ इस प्रकार का धोखा पिछले छह सालों से हो रहा था. जांच में अब तक 20 लाख रुपए के गबन की पुष्टि हुई है. हालांकि यहां समिति प्रबंधक मुलायम सिंह के ऊपर अभी तक कोई भी कार्रवाई नहीं हुई है.

ये भी पढ़ें भोपाल में अतिक्रमण के खिलाफ बड़ा एक्शन, NGT के आदेश पर 692 इलाकों में चलेगा बुलडोजर

अभी तक नहीं हुई कोई भी कार्रवाई

सहकारी बैंक नागौद के मैनेजर केके द्विवेदी ने बताया कि सेवा सहकारी समिति दुरेहा से संबंधित जांच रिपोर्ट 20 दिन पहले डीसीसीबी सतना, सहकारिता विभाग के डीआर को सौंप दी गई है. जांच प्रतिवेदन में करीब 20 लाख रुपए के फर्जीवाड़े की पुष्टि हुई है. इस मामले में सहायक समिति प्रबंधक के खिलाफ कार्रवाई प्रस्तावित की गई है. लेकिन अभी तक कोई भी कार्रवाई ना होना अधिकारियों की मंशा पर भी सवाल उठा रहा है.

ये भी पढ़ें Indore में सैन्य छावनी से लेकर IIT और रिहायशी इलाकों तक तेंदुओं की हलचल तेज

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
गौसेवकों के लिए खुशखबरी: CM मोहन यादव का ऐलान, अब MP में दस से अधिक गाय पालने वालों को मिलेगा अनुदान
MP News: कर्ज भरने के बाद भी यहां के 26 किसान हैं कर्जदार, अधिकारी इनके पैसे गया 'डकार'
Beggars Free Campaign: Bhopal will be beggar free, team formed on the instructions of the collector, action will also be taken against those who give alms
Next Article
Beggars Free Campaign: भिखारी मुक्त होगा भोपाल, कलेक्टर के निर्देश पर टीम गठित, भीख देने वालों पर भी होगी कार्रवाई!
Close
;