विज्ञापन
Story ProgressBack

पत्नी के दाह संस्कार के पैसे नहीं थे, दो दिनों तक लाश को घर में रखा फिर कर दिया ऐसा हश्र...

MP News: मध्य प्रदेश के इंदौर में एक पति ने अपनी पत्नी की लाश को बोरे में भरकर फेंक दिया. उसने जो वजह बताई है उसे जानकार आप भी चौंक जाएंगे. पढ़िए पूरी रिपोर्ट ...

Read Time: 3 mins
पत्नी के दाह संस्कार के पैसे नहीं थे, दो दिनों तक लाश को घर में रखा फिर कर दिया ऐसा हश्र...

Madhya Pradesh News : मध्य प्रदेश के इंदौर में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक पति के पास पत्नी के अंतिम संस्कार तक के पैसे नहीं थे. आर्थिक तंगी से जूझ रहे लाचार पति ने अपनी पत्नी की लाश को पहले तो दो दिनों तक घर पर रखा, फिर बाद में उसे बोर में भरकर फेंक दिया. पूरा मामला इंदौर के चंदन नगर थाना क्षेत्र का है. 

पति ने कबूलकर बताई सारी बात 

दरअसल इंदौर के चंदन नगर थाना क्षेत्र में बोरे में भरी एक महिला की लाश मिली थी. मृतिका के पति मदन ने बताया कि दोनों वृद्ध पति-पत्नी किराए के कमरे में रहते थे. वे आर्थिक और शारीरिक रूप से कमजोर हैं. उसकी पत्नी काफी समय से बीमार थी. उसका इलाज करने के लिए पैसे नहीं थे. बीमारी और गर्मी के कारण मृतिका ने बुधवार-गुरुवार की दरमियानी  रात में दम तोड़ दिया. ये बात वह समाज के सामने बताने में शर्म महसूस कर रहा था तो उसने छोटे से कमरे में अपने पास मृतिका का शव तीन दिन तक रखा रहा. जब मृतका के शव से बदबू आई तो आज पड़ोस वालों ने चर्चा करना शुरू कर दिया तो मदन ने अपनी पत्नी के शव को साड़ी में लपेटकर और एक नायलॉन की बोरी में रखा और अपने कंधों पर रख घर के करीब 200 मीटर दूर मोहल्ले की दूसरी ओर सड़क पर छोड़ दिया.वहां से वापस अपने घर चला गया. इसके बाद वह मोहल्ला के गार्डन में बैठा रहा. जहां से पुलिस ने उसे तलाश पूरे घटनाक्रम का खुलासा कर दिया. मदन मानसिक रूप से कमजोर है, वह अपनी मृत पत्नी की लाश की अंतिम संस्कार की रस्म को निभा नहीं पाया और मोहल्ले वालों की शिकायत और डर से लाश को बोरी में रखकर फेंक दिया था. 

ये भी पढ़ें Bhopal: मध्य प्रदेश सरकार ने सच्चाई से मुंह मोड़ा, झूठी ब्रांडिंग कर पीठ थपथपाने में हो गई व्यस्त, जानें कमलनाथ ने ऐसा क्यों कहा ? 

ये है पूरा मामला 

अज्ञात महिला की लाश मिलने के बाद पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी. पुलिस थाना चंदननगर को और वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना मिली तो पुलिस द्वारा तत्परता से कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम का गठन किया और पुलिस टीम द्वारा छानबीन शुरू कर मृतिका  का पोस्टमार्टम कराया गया एवं उसके हुलिया के आधार पर क्षेत्र में पूछताछ की तब मृतिका शांति बाई की पहचान हुई जो अपने वृद्ध पति के साथ राजकुमार नगर बाक में किराए से रहती थी. उसके पति मदन नरगावे से पूछताछ की गई. तब मामले का खुलासा हुआ.

ये भी पढ़ें Super Exclusive Interview: NDTV से बोले छत्तीसगढ़ के डिप्टी CM- माओवादी खुद बताएं उन्हें कैसा पुनर्वास चाहिए, हम तैयार हैं

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
MP News: स्कूल-कॉलेजों में राम और कृष्ण को पढ़ाए जाने पर गरमाई सियासत, दिग्विजय सिंह ने कर दी ये बड़ी मांग
पत्नी के दाह संस्कार के पैसे नहीं थे, दो दिनों तक लाश को घर में रखा फिर कर दिया ऐसा हश्र...
Big action by NCPCR team in Raisen district of Madhya Pradesh, 36 child laborers freed
Next Article
MP News: मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में NCPCR की टीम की बड़ी कार्रवाई, 36 बाल श्रमिकों को कराया मुक्त
Close
;