विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 31, 2023

Gwalior News: ग्वालियर में दबंगों के हौसलें बुलंद, कनपटी पर बंदूक लगाकर अपने नाम करवाया घर 

Gwalior Crime News: 7 से 8 लोग देर रात घर पहुंचे थे और उन्होंने घर में घुसते ही मारपीट शुरू कर दी और फायरिंग करते हुए घर जबरन अपने साथ लेकर गए. इसके बाद आरोपियों ने 10 लाख रुपए की डिमांड भी की. इतना ही नहीं उनसे एक कागज पर भी दस्तखत भी करा लिए गए हैं जिसमें लिखा गया है कि हमने 10 लाख रुपए नशा मुक्ति केंद्र के मालिक से लिए थे

Gwalior News: ग्वालियर में दबंगों के हौसलें बुलंद, कनपटी पर बंदूक लगाकर अपने नाम करवाया घर 
ग्वालियर में दबंगों के हौसलें बुलंद, घर को निशाना बनाकर जमकर की फायरिंग

Madhya Pradesh Crime News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर (Gwalior) से हैरान वाला मामला सामने आया है. ज़िले के नारायण विहार (Narayan Vihar) कॉलोनी में दबंगों के हौसलें बुलंद नज़र आ रहे हैं. यहां पर हथियारबंद बदमाशों ने न सिर्फ एक घर पर जमकर फायरिंग की बल्कि घर में मौजूद महिलाओं और पुरुषों को बंधक भी बनाया. इसके बाद सभी आरोपी उन्हें अपने साथ लेकर गए. बदमाशों ने नशा मुक्ति केंद्र में बंधक बनाकर रातभर मारपीट की और फरियादी से उनका घर भी अपने नाम लिखवा लिया. इस बारे में जब पुलिस खबर मिली तब जाकर पुलिस ने फरियादी और उसके परिजनों को आरोपियों के चंगुल से निकाला. घटना ज़िले के गोले का मंदिर नारायण विहार कॉलोनी की बताई जा रही हैं. 

बदमाशों ने आधी रात को घर पर की फायरिंग 

ग्वालियर के नारायण विहार कॉलोनी में देर रात कुछ बदमाश एक दंपति के घर में घुस गए. यहां पर आरोपियों ने  दंपति और अन्य परिजनों के साथ मारपीट की. इसके बाद बदमाशों ने सभी को बंधक बनाया और अपने साथ नशा मुक्ति केंद्र लेकर आ गए. वहां भी रात भर फरियादी और उसके परिजनों के साथ मारपीट की गई. बताया जा रहा है कि इलाके में एक शख्स नशा मुक्ति केंद्र चलाता हैं. नशा मुक्ति केंद्र के मालिक के साथ मिलकर कुछ बदमाशों ने इस वारदात को अंजाम दिया है. इस मामले में पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है.  पुलिस को घटना से जुड़े सीसीटीवी फुटेज भी मिले हैं. 


पुलिस ने दबिश देकर रिहा करवाया 

पुलिस को देर रात हुई इस वारदात की खबर सुबह लगी तो हड़कंप मच गया. घटना के बारे में पता करने के बाद मौके पर पहुंची. पुलिस ने बंधक बनाए हुए दंपति और उनके परिजनों को नशा मुक्ति केंद्र से मुक्त कराया है. एडिशनल एसपी ऋषिकेश मीणा का कहना है हमें ख़बर मिली थी कि नारायण विहार कॉलोनी में मारपीट कर कुछ लोगों को बंधक बना कर रखा गया है जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और उन्हें मुक्त कराया. नशा मुक्ति केंद्र का मालिक अब भी फरार है जिसकी तलाश की जा रही है. इसके साथ ही कुछ और संदिग्ध लोगों को भी हिरासत में लिया है.

ये भी पढ़ें - MP Election 2023 : शिवराज सिंह चौहान का ताबड़तोड़ दौरा, CM ने कहा-शिकारी आएगा, जाल बिछाएगा, लेकिन फंसना नहीं

पुलिस को बरामद हुए CCTV फुटेज 

मीणा ने बताया कि पुलिस यह भी पता कर रही है कि नशा मुक्ति केंद्र का रजिस्ट्रेशन था कि नहीं. देर रात हुई घटना का सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को मिला है और पुलिस उसे भी चेक कर रही है. वहीं, बंधक बनाए गए दंपति के परिजनों का कहना है कि 7 से 8 लोग देर रात घर पहुंचे थे और उन्होंने घर में घुसते ही मारपीट शुरू कर दी और फायरिंग करते हुए घर जबरन अपने साथ लेकर गए. इसके बाद आरोपियों ने 10 लाख रुपए की डिमांड भी की. इतना ही नहीं उनसे एक कागज पर भी दस्तखत भी करा लिए गए हैं जिसमें लिखा गया है कि हमने 10 लाख रुपए नशा मुक्ति केंद्र के मालिक से लिए थे और वापस नहीं करने पर अपना मकान उनके नाम करते हैं. फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की पेचीदा कहानी को हल करने में जुटी हुई है.

यह भी पढ़ें : कमलनाथ के बयान पर भड़के शिवराज, बोले- "मुझे गालियां दो, एमपी का तो अपमान मत करो"

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
भाजपा पार्षद पर आर्थिक सहायता के बहाने महिला से दुष्कर्म का लगा आरोप, एक्टिव हुई पुलिस
Gwalior News: ग्वालियर में दबंगों के हौसलें बुलंद, कनपटी पर बंदूक लगाकर अपने नाम करवाया घर 
167 year old tradition was followed in Rewa Tajia was taken out on the day of Moharram know the history of Moharram month of islam religion
Next Article
रीवा में निभाई गई 167 साल पुरानी परंपरा, मोहर्रम के दिन निकाली गई ताजिया, जानें इन दिन का इतिहास
Close
;