विज्ञापन
Story ProgressBack

Exclusive Interview: सीएम यादव ने पेश किया MP के विकास का रोडमैप, बोले अब इन उद्योगों पर है फोकस

MP CM Mohan Yadav: प्रदेश में औद्योगीकरण को बढ़ावा दिया जा रहा है. इसके लिए नई इंडस्ट्री लगाने वालों के लिए कई तरह की सहूलियतें दी जा रही हैं. प्रदेश सरकार ने हरित ऊर्जा के क्षेत्र में अच्छा काम किया है. इसके अलावा माइनिंग, सीमेंट और वस्त्र उद्योग को बढ़ावा दिया जा रहा है.

Read Time: 4 mins

MP के CM मोहन यादव ने NDTV के एडिटर इन चीफ संजय पुगलिया से खास बातचीत में राज्य के विकास का खाका पेश किया. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में भाजपा सरकार ने कृषि विकास दर 25 प्रतिशत तक पहुंचा दिया है. अब दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए अमूल के साथ मिलकर काम करने की योजना है. इसके साथ ही प्रदेश में औद्योगीकरण को बढ़ावा दिया जा रहा है. इसके लिए नई इंडस्ट्री लगाने वालों के लिए कई तरह की सहूलियतें दी जा रही हैं. प्रदेश सरकार ने हरित ऊर्जा के क्षेत्र में अच्छा काम किया है. इसके अलावा माइनिंग, सीमेंट और वस्त्र उद्योग को बढ़ावा दिया जा रहा है.

धार्मिक पर्यटन पर फोकस

प्रदेश में महाकाल के महालोक की तर्ज पर और धार्मिक स्थलों को विकसित कर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में स्थापित किया जाएगा. इसके अलावा भगवान से जुड़े वस्त्रों के उद्योग को भी बढ़ावा दिया जा रहा है. महाकाल के साथ ही भगवान राम और कृष्ण की लीलाओं से जुड़ी मध्य प्रदेश के स्थलों को विकसित किया जाएगा.

युवाओं के स्किल डेवलपमेंट पर फोकस

उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार देने के लिए स्किल इंडस्ट्री पर हमारा फोकस है. हम युवाओं को रोजगार देने के लिए प्रदेश में स्किल डेवलप करने वाली इंडस्ट्री को बढ़ावा देने पर काम कर रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि स्किल यूनिवर्सिटी बनाने पर विचार कर रहे हैं. सीएम यादव ने कहा कि रोजगारपरक शिक्षा पर हमारा फोकस है.

सबको साथ लेकर चलने की कही बात

वहीं, अपनी सरकार के बारे में कहा कि हमारी सरकार कैसी चल रही है, ये जनता बताएगी. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैं निर्णय लेने और उसे लागू करने में विश्वास करता हूं. मेरी हमेशा कोशिश होती है कि सरकार जो भी फैसले लेती है, उसे जल्द लागू किया जाए. वहीं, एक ड्राइवर से अभद्रता करने वाले कलेक्टर के ट्रांसफर करने पर कहा कि मेरा मानना है कि हर व्यक्ति का सम्मान होना चाहिए. अगर हम बड़े पद पर हैं, तो हमारी जिम्मेदारी और बढ़ जाती है. लिहाजा, हमें निष्ठुर नहीं होना चाहिए. इस फैसले के जरिए हमने यही संदेश दिया. वहीं, सरकार में सीनियर मंत्री के होने पर यादव ने कहा कि टीम लीडर को सबको साथ लेकर चलना पड़ता है. विराट की टीम में भी धोनी रहे हैं. 

ये भी पढ़ें- MP CM Mohan Yadav Exclusive: 2014 में 27 सीट जीते, 2019 में 28, अब छिंदवाड़ा फतह कर जीतेंगे सभी 29 सीटें

सरकार के कड़े फैसलों का किया बचाव

प्रदेश में खुले में मीट और मछली बेचने पर प्रतिबंध को जायज ठहराते हुए सीएम मोहन यादव ने कहा कि हमने कहीं भी किसी के मीट-मछली खाने और बेचने पर प्रतिबंध नहीं लगाया है. हमने बस इनके व्यापार को व्यवस्थित और फूड सेफ्टी के मुताबिक करने का काम किया है. उन्होंने कहा कि हमने सिर्फ खुले में मीट-मछली बेचने पर प्रतिबंध लगाया है. किसी के खाने और बेचने पर नहीं. नियम के दायरे में रहकर कोई भी मीट-मछली का व्यापार प्रदेश में कर सकता है. वहीं, डीजे के प्रतिबंध को भी सही ठहराया उन्होंने कहा कि डीजे की वजह से सड़क पर चलने वाले युवा, बुजुर्ग और बच्चे सभी को असहज स्थिति का सामना करना पड़ता है. इसलिए इस पर बैन लगाया गया है. 

ये भी पढ़ें-  भूपेश बघेल के 'सियासी गुरू' की बहू शैलजा बीजेपी में शामिल, जेपी नड्डा ने अभिनेता प्रकाश को भी दिलाई सदस्यता

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Poor Quality Wheat: PDS के लिए भेजा गया गेहूं घुना और सड़ा निकला, सतना में 7 ट्रक घटिया अनाज लौटाया गया
Exclusive Interview: सीएम यादव ने पेश किया MP के विकास का रोडमैप, बोले अब इन उद्योगों पर है फोकस
neet-ug-2024-exam-results-priyanka-gandhi-mallikarjun-kharge-on-neet-scam-Opposition demanded an investigation, students-parents raised questions, NTA on grace marks-NCERT test book
Next Article
NEET 2024: प्रियंका गांधी से लेकर मल्लिकार्जुन खरगे तक, NEET Scam पर ऐसे उठे सवाल, NTA ने क्या कहा जानिए
Close
;